बीएचयू में एडमिशन के लिए कितने नंबर चाहिए? | BHU mein admission ke liye kitne number chahiye

इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि बीएचयू में एडमिशन के लिए कितने नंबर चाहिए? BHU में admission के लिए कितने नंबर चाहिए? 

दोस्तों 12वीं पूरी करने के बाद सामान्यतः विद्यार्थी अपने पसंद के अलग-अलग क्षेत्रों में, उनसे संबंधित अलग-अलग under graduation courses के लिए जाते हैं। 

बहुत सारे विद्यार्थियों का सपना देश के top Universities से पढ़ाई करने का होता है। 

देश के शीर्ष universities में कई प्रतिष्ठित नाम आते हैं, जिसमें से एक मुख्य नाम BHU भी है। 

हर साल बहुत से विद्यार्थी BHU में दाखिले के लिए प्रयास करते हैं, और इसकी परीक्षा में बैठते हैं  बीएचयू में दाखिला एंट्रेंस एग्जाम के जरिए होता है।  

और बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल रहता है कि BHU में admission के लिए कितने नंबर चाहिए?

बीएचयू में एडमिशन के लिए कितने नंबर चाहिए?

यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर इसी की बात करेंगे। जानेंगे कि बीएचयू में दाखिला लेने के लिए कितने नंबर चाहिए होते हैं ? 

BHU में admission के लिए इसकी प्रवेश परीक्षा में कितने नंबर होने चाहिए? 

BHU में admission के लिए कितने नंबर चाहिए?

BHU में admission के लिए उम्मीदवारों को प्रवेश परीक्षा में 60-70% से अधिक अंक हिलाने होते हैं। 

असल में, पहले हम बीएचयू में एडमिशन के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा की बात कर लेते हैं। 

Banaras Hindu University में पोस्टग्रेजुएशन (PG), अंडरग्रेजुएशन (UG), इसके साथ-साथ Special Courses, UG & PG Diploma और Research Program आदि कई courses में दाखिला होता है, इनके अंतर्गत बीएससी, बीकॉम, बीए, एलएलबी आदि सब आ जाते हैं। 

इसके लिए National Testing Agency  (NTA) द्वारा प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जाती है। 

UG और PG courses में एडमिशन के लिए उम्मीदवारों को क्रमशः BHU UET और BHU PET entrance test देना होता है। 

ज्यादातर विद्यार्थी अंडर ग्रेजुएशन कोर्सेज में दाखिले के लिए ही प्रयास करते हैं, इसीलिए BHU UET प्रवेश परीक्षा ही ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती है।

और इसी BHU UET (undergraduate entrance test) में अच्छे अंक लाना विद्यार्थियों के लिए जरूरी हो जाता है। 

Admission के लिए आवेदन विद्यार्थी (BHU) की आधिकारिक वेबसाइट, bhu.nta.nic.in पर जाकर कर सकते हैं, जिसके बाद उन्हें प्रवेश परीक्षा देनी होती है। 

हर साल generally February के आस-पास ऑनलाइन एप्लीकेशन शुरू हो जाते हैं। अलग-अलग कोर्स में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा की फॉर्म भरने की तारीख अलग अलग हो सकती है। 

उम्मीदवारों का BHU में अपने selected course में admission, इनके entrance exam में प्राप्त अंकों के आधार पर बने रैंक के अनुसार होता है। 

इसमें शुरुआत के cut off के दायरे में आने वालों को बीएचयू main campus में सीट मिलती है, इसके बाद उससे कम अंक लाने वालों को DAV, फिर आर्य महिला बसन्त कॉलेज राजघाट, वसन्त कन्या महाविद्यालय, महिला महाविद्यालय और अंत में राजीव गांधी दक्षिणी परिसर बरकच्छा में सीट allot किया जाता है। 

विद्यार्थियों के मन में प्रश्न रहता है कि बीएचयू (BHU) का फॉर्म कब निकलेगा? तो, BHU UET entrance test हर साल लिया जाता है, और हर साल इसका cut off निकलता है जो कि अलग अलग हो सकता है। 

अलग-अलग विषयों के UET प्रवेश परीक्षा कट ऑफ मार्क्स अलग अलग जाता है, जो कई चीजों पर निर्भर करता है, जैसे की परीक्षा का स्तर कैसा था, कितने विद्यार्थी परीक्षा में बैठे थे, previous year cutoff, seat availability आदि। 

अभी 2022 में बीएचयू में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षाएं हुई नहीं हैं, इनका आयोजन होना बाकी है। 

इसीलिए यहां हम BHU UET cut off marks 2021 की बात करते हैं। 

जो विद्यार्थी अपने विषय के एंट्रेंस टेस्ट में कट ऑफ मार्क्स से ज्यादा हासिल करते हैं, उन्हें आगे काउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है, और फिर एडमिशन की प्रक्रिया आगे बढ़ती है। 

BHU में admission के लिए जरूरी नंबर –

जैसा कि हमने कहा, BHU में admission के लिए BHU UET entrance test अलग-अलग विषयों और अलग अलग courses के लिए अलग-अलग लिया जाता है। 

Syllabus की बात करें तो यह भी अलग-अलग विषयों के लिए अलग अलग होता है। 

Full marks में BHU UET entrance exam B.Sc, B.A, LLB के लिए 450 अंको का होता है। 

वहीं B.Ed जैसे कोर्स में दाखिले के लिए एंट्रेंस एग्जाम 300 अंको का होता है। 

इसी तरह अलग-अलग courses की बीएचयू की प्रवेश परीक्षाओं के full marks में अंतर होता है।

विद्यार्थियों को बीएचयू में प्रवेश लेने के लिए प्रवेश परीक्षा में कम से कम 60-70 % से अधिक अंक ही लाने होते हैं। 

अलग-अलग वर्गों के हिसाब से, General, EWS, OBC,  SC, ST के लिए cut off अलग-अलग जाता है। सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों को 80-85 प्रतिशत अंक भी लाने होते हैं। 

इसके अलावा मेरिट अन्य भी कई बातों पर निर्भर करता है। 

तो कह सकते हैं कि बीएचयू में एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को सामान्यतः 240-250 या इससे ज्यादा अंक ही लाने होते हैं। 

हालांकि कई बार 220-230 नंबर लाने पर भी आपका बीएचयू में एडमिशन हो सकता है, यह निर्भर करेगा कि आप किस विषय के लिए परीक्षा दे रहे हैं, आपका वर्ग क्या है, आदि। 

SC ST वर्ग के विद्यार्थियों के लिए बीएचयू में b.a. जैसे कोर्स में प्रवेश के लिए 150 अंको तक भी एडमिशन हो सकता है। 

बीएचयू में एडमिशन, एक हॉस्टल के साथ और एक बिना हॉस्टल के होता है। 

यदि आप प्रवेश परीक्षा में थोड़े अच्छे अंक लाते हैं, तो आपको भी अच्छे में हॉस्टल भी मिल जाता है, वहीं कुछ नंबर काम लाने पर आपको हॉस्टल नहीं मिल सकता है। 

तो on average यदि BHU UET प्रवेश परीक्षा में विद्यार्थी 260-270 या इससे अधिक अंक ले आते हैं, तो उनका बीएचयू में आसानी से एडमिशन हो जाता है। 

इसके अलावा जैसे जैसे विद्यार्थी अपने वर्ग के हिसाब से कम अंक लाते हैं, उनका admission DAV, फिर आर्य महिला बसन्त कॉलेज राजघाट, वसन्त कन्या महाविद्यालय आदि में होता है। 

BHU में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा कोई बहुत ज्यादा कठिन नहीं होती है, अच्छी तैयारी के साथ विद्यार्थी आसानी से इसे क्वालीफाई कर सकते हैं।

Conclusion

यहां ऊपर इस आर्टिकल में हमने बात की है कि बीएचयू में एडमिशन के लिए कितने नंबर चाहिए? 

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में दाखिले के लिए इसकी प्रवेश परीक्षा में कितने नंबर चाहिए होते हैं? 

बहुत से विद्यार्थियों का सपना देश के टॉप यूनिवर्सिटीज में से एक, बीएचयू से पढ़ाई करने का होता है। 

इसमें दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है और बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल रहता है कि BHU में एडमिशन के लिए कितने नंबर चाहिए? इस लेख में हमने इसी की चर्चा की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.