12वीं के बाद बैंक मैनेजर कैसे बने? | 12th Ke Baad Bank Manager Kaise Bane

दोस्तों आज के समय में अपने करियर की चिंता तो हर विद्यार्थी को ही होती है, दसवीं के बाद से ही छात्र, छात्राओं को अपने करियर को ध्यान में रखकर विषय चुनने होते हैं।

विद्यार्थियों के पास Doctor, Engineer, Teacher या सरकारी नौकरी जैसे और भी कई सारे विकल्प होते हैं, और उन्हीं में से bank manager भी एक बेहतरीन Career Option है।

बहुत से विद्यार्थी आज के समय में बैंक मैनेजर के पद पर नौकरी करना चाहते हैं और उसके लिए वे तैयारी भी करते हैं।

जो विद्यार्थी बैंक मैनेजर बनने की सोचते हैं उनके मन में यह सवाल कि 12वीं के बाद बैंक मैनेजर कैसे बन सकते हैं? (how to become bank manager after 12th) कई बार आ सकता है।

आज इस आर्टिकल में हम यही जानेंगे की 12वीं के बाद Bank Manager बनने के लिए क्या करना पड़ता है।

विद्यार्थी जिस भी प्रोफेशन में Career बनाना चाहते हैं, उसके लिए उन्हें उससे संबंधित सारी जानकारी होनी चाहिए, कि उन्हें कौन सी डिग्री की जरूरत है? (bank manager ke liye konsi degree chahiye) और Bank Manager बनने के लिए क्या करना पड़ता है।

यहां जानेंगे कि बैंक मैनेजर कैसे बन सकते हैं? Bank Manager के लिए क्या योग्यताएं चाहिए? कौन-कौन सी परीक्षा देनी होती है इत्यादि।

12वीं के बाद बैंक मैनेजर कैसे बने?

12वीं के बाद बैंक मैनेजर कैसे बने ?

दोस्तों अगर सीधे सीधे बात करें कि 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया क्या है, तो इसका जवाब होगा कि 12वीं के बाद उम्मीदवार को Graduation करना होगा।

जी हां, सिर्फ 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करके उम्मीदवार Bank Manager के पद पर नियुक्त नहीं हो सकते हैं, इस पद के लिए उनके पास Graduation की डिग्री होना जरूरी होता है।

असल में bank manager बनने के लिए जो परीक्षा होती है, उस परीक्षा में बैठने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता (Education Qualification) ग्रेजुएशन है।  

मान लीजिए कि आप अभी बारहवीं में है और आपका लक्ष्य एक बैंक मैनेजर बनना है, तो इसके लिए स्टेप बाय स्टेप प्रक्रिया कुछ इस प्रकार होगी –

Step 1– जाहिर है सबसे पहला स्टेप तो यही होगा कि आप अच्छे अंकों के साथ 12वीं पास करें। इसमें सबसे पहले आप 12वी में अपने राज्य के सरकारी बोर्ड से जितने हो सके अच्छे अंक प्राप्त करें।

कई विद्यार्थियों को इस बात की कन्फ्यूजन होती है कि बैंकिंग सेक्टर में जाने के लिए कॉमर्स (Commerce) ही जरूरी है, पर ऐसा नहीं है आप साइंस, या फिर arts  लेकर भी बैंक मैनेजर (Bank Manager) के लिए जा सकते हैं।

Step 2– जैसा कि हमने ऊपर कहा 12वीं पूरी करने के बाद का स्टेप होगा ग्रेजुएशन करना। आप Science, Commerce या Arts किसी भी विषय में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं।

इसके साथ एक और जरूरी बात कि आप Computer का कोर्स जरूर करें, क्योंकि आजकल हर क्षेत्र में ही कंप्यूटर की डिग्री मांगी जाती है।

इसमें भी अलग अलग प्रकार के कम्प्यूटर कोर्स होते हैं।

Step 3– अच्छे अंकों के साथ ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद आपको बैंक का पीओ एग्जाम (PO exam) देकर उसे क्लियर करना होगा।

यह परीक्षा दो चरणों में होती है, पहले चरण में जीके, जीएस, करंट अफेयर्स, general इंग्लिश, मैथ के साथ 100 प्रश्नों की लिखित परीक्षा होती है जिसके लिए 1 घंटे का समय होता है।

जो इसे पास करते हैं वे दूसरे चरण में बैठ सकते हैं। इसमें भी उन्हीं सारे विषयों से प्रश्न रहते हैं, बस प्रश्न का स्तर थोड़ा कठिन हो जाता है।

Step 4– यदि उम्मीदवार PO की परीक्षा पास कर लेते हैं तब उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है, हालांकि वर्तमान में कई सारे राज्यों में इंटरव्यू का सिस्टम बंद कर दिया गया है।

परीक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार को PO की ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें उन्हें बैंकिंग से संबंधित सभी चीजों का प्रशिक्षण दिया जाता है। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद उन्हें बैंक में पीओ की नौकरी प्राप्त हो जाती है।

Step 5– पहले बैंक में आप PO के पद पर ही नियुक्त किए जाते हैं। यदि आप पियो के पद पर रहकर अच्छा काम करते हैं तो दो-तीन सालों के बाद आपको प्रमोशन करके असिस्टेंट मैनेजर के पद पर नियुक्त किया जाता है।

जिसके बाद बैंक मैनेजर की सैलरी भी बढ़ जाती हैं।

और उस पद पर तीन-चार साल काम करने के बाद आपको बैंक मैनेजर का पद प्राप्त होता है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करना चाहिए?

ऊपर हमने बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया के बारे में जाना।

इससे संबंधित एक और बहुत जरूरी चीज जिसका आपको ध्यान रखना है, कि सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप एक सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर बनना चाहते हैं या एक प्राइवेट बैंक में।

क्योंकि इन दोनों में बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया थोड़ी अलग होती है। सरकारी बैंक के लिए आपको थोड़ी ज्यादा मेहनत करनी होगी लेकिन वहां सैलरी भी ज्यादा होती है।

ऊपर बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया में हमने देखा कि पहले आप PO की नौकरी पाते हैं।

सरकारी हो या फिर प्राइवेट किसी पर बैंक में आपको सीधे ब्रांच मैनेजर नहीं बनाया जाता, पहले आप प्रोबेशनरी अधिकारी यानी PO के तौर पर काम करते हैं, जिसके बाद आपका प्रमोशन होकर आप असिस्टेंट मैनेजर और फिर उसके बाद बैंक मैनेजर बनते हैं।

सरकारी बैंक मैनेजर कैसे बने?

सरकारी बैंक में नौकरी करने के लिए आपको आईबीपीएस (IBPS) की परीक्षा पास करनी होगी। IBPS की full form institute of banking personnel selection होती है।

IBPS PO की परीक्षा पास करने के बाद आप देश के लगभग सभी सरकारी बैंक में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इस परीक्षा को पास करने के बाद की प्रक्रिया वही होगी पहले PO की पोस्ट फिर असिस्टेंट बैंक मैनेजर और फिर बैंक मैनेजर। 

हालांकि एसबीआई बैंक और आईडीबीआई बैंक में नौकरी करने के लिए अलग से उन बैंकों द्वारा आयोजित परीक्षा पास करनी होती है।

Private bank मैनेजर कैसे बने?

Private bank में नौकरी पाने के लिए आपको PO यानी probationary officer की परीक्षा पास करनी होती है जो मुख्य तौर पर बैंक कर्मचारी के तौर पर कार्य करते हैं।

जब भी प्राइवेट बैंकों में कर्मचारियों की आवश्यकता पड़ती है तो वे PO की परीक्षा लेते हैं।

और इस परीक्षा में पास होने वाले विद्यार्थी प्राइवेट बैंकों में पी ओ के तौर पर नियुक्त किए जाते हैं, जिसके बाद बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया वही होती है।

बैंक मैनेजर बनने के लिए योग्यता

वैसे कई बार बैंकों में बैंक मैनेजर बनने के लिए क्वालिफिकेशन और प्रक्रिया अलग अलग हो सकती है लेकिन कुछ कॉमन क्वालिफिकेशन निम्नलिखित हैं –

  • उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • सामान्यतः आवेदन करने के लिए उम्र सीमा 18 से 30 वर्ष की होती है।
  • ग्रेजुएट उम्मीदवारों को ही हमेशा प्राथमिकता दी जाती है।
  • सरकारी बैंक में नौकरी के लिए आईबीपीएस की परीक्षा उत्तीर्ण जरूरी है।
  • प्राइवेट बैंक के लिए PO की परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार के पास कंप्यूटर की डिग्री भी होनी चाहिए।

Conclusion

आज इस आर्टिकल में हमने जाना कि 12वीं के बाद बैंक मैनेजर बनने के लिए क्या करना होता है।

आज के समय में बहुत से विद्यार्थियों का सपना एक बैंक मैनेजर बनने का होता है, बैंक मैनेजर की नौकरी को एक अच्छी और प्रतिष्ठित जॉब प्रोफाइल के रूप में देखा जाता है।

यहां हमने बैंक मैनेजर बनने की प्रक्रिया और इसके लिए जरूरी योग्यता आदि के बारे में जाना।

Leave a Comment

Your email address will not be published.