फ़ौजी की सैलरी कितनी होती है? | Army Ki Salary Kitni Hoti Hai

आज इस आर्टिकल में हम जानेंगे की फौजी की सैलरी कितनी होती है? दोस्तों फौज में जाकर देश की सेवा करने से ज्यादा अच्छी नौकरी और क्या ही हो सकती है।

आज के समय में जहां प्रोफेशन की बात आने पर डॉक्टर और इंजीनियर जैसे professions का नाम आता है, वहीं लाखों की संख्या में युवा सेना ज्वाइन करने का सपना भी देखते हैं।

लाखों युवा खुद को एक फौजी के रूप में देश की सेवा करते देखना चाहते हैं, इसीलिए फौज में भर्ती के लिए फॉर्म निकलने या आर्मी रैली का आयोजन होने पर बहुत बड़ी संख्या में युवा भर्ती के लिए जाते हैं। 

वैसे तो युवा सैलरी के लिए नहीं बल्कि देश प्रेम से सेना में जाना चाहते हैं लेकिन फिर भी फौजी बनने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों के मन में एक सवाल की एक फौजी की सैलरी कितनी होती है, कई बार आ सकता है।

फ़ौजी की सैलरी कितनी होती है?

यहां इस आर्टिकल में हम मुख्यत: इसी की बात करेंगे कि आखिर मातृभूमि के रक्षक सैनिकों को सरकार द्वारा कितनी तनख्वाह दी जाती है।

सैलरी के साथ-साथ फौजी और फौज से जुड़ी दूसरी कुछ जरूरी बातों को भी जानेंगे।

फौजी की 1 महीने की सैलरी कितनी होती है?

भारतीय सेना में फौजियों को वेतन, वेतन अधिनियम के हिसाब से दिया जाता है, और कुछ-कुछ साल के अंतराल में नया वेतन अधिनियम लागू किया जाता है, जैसे वर्तमान में सातवां वेतन अधिनियम लागू है, और उसी के तहत सैनिकों को वेतन मिलता है।

7वें वेतन अधिनियम के तहत सेना में एक फौजी की  basic salary 25,083 रुपये से लेके 83,000 रुपये तक निर्धारित है।

जब उम्मीदवार का army में selection हो जाता है, तो उन्हें उनके rank के हिसाब से ही salary दी जाती है।

भर्ती होने वाले उम्मीदवार की जितनी ज्यादा रैंक होगी, उनकी उतनी ही ज्यादा salary होगी।

Army का मतलब तो हम जानते ही हैं, army एक organised force होती है।

Indian army हमारे भारत देश के सभी borders से होने वाले खतरों से हमें बचाती और सुरक्षा प्रदान करती है।

Army का मुख्य उद्देश्य national security और राष्ट्रवाद की एकता सुनिश्चित करना, राष्ट्र को बाहरी आक्रमण और आन्तरिक खतरों से बचाना, और अपनी सीमाओं पर शान्ति और सुरक्षा को बनाए रखने का होता है।

देश प्रेम की भावना रखने वाले हर भारतीय का सपना होता है की वो army को join करे और अपने देश की सुरक्षा में अपना सहयोग दे सके।

हमारे भारत की इंडियन आर्मी विश्व की सर्वोत्तम सेनाओं में से एक है।

हमारे देश की सरकार भारतीय सेना के देखरेख, उनके खानपान और मैनेजमेंट आदि के लिए काफी पैसा खर्च करती है इसीलिए भारत का रक्षा बजट विश्व के शीर्ष 5 रक्षा बजट में आता है, और इसमें फौजियों को मिलने वाली सैलरी भी शामिल होती है।

पद के हिसाब से फौजियों को मिलने वाली salary

फौजी की सैलरी कितनी होती है?

सेना में फौजी अलग-अलग पद पर नियुक्त किया जाते हैं, और पद के हिसाब से ही उन्हें सैलरी दी प्रदान की जाती है। अलग-अलग पदों के हिसाब से फौजियों को मिलने वाली सैलरी कुछ इस प्रकार है –

  • सिपाही- 5200 सैन्य सेवा वेतन के साथ पूर्ण वेतन 26,900 रुपए +डीए+अन्य भत्ता।
  • नायक- मूल वेतन 25,500 सैन्य सेवा वेतन 5200 के साथ 30,700 रुपए +डीए+अन्य भत्ता।
  • हवलदार- मूल वेतन 29,200 सैन्य सेवा वेतन 5200    के साथ 34,400+डीए+अन्य भत्ता।
  • नायब सूबेदार- 35,400 मूल वेतन, सैन्य सेवा वेतन 5200 के साथ पूर्ण वेतन    40,600+डीए+अन्य भत्ता।
  • सूबेदार- मूल वेतन 44,900 रुपए, सैन्य सेवा वेतन  5200    के साथ 50,100+डीए+अन्य भत्ता।
  • सूबेदार मेजर- मूल वेतन  47,600 और सैन्य सेवा वेतन 5200 के साथ पूर्ण वेतन  52,800+डीए+अन्य भत्ता।
  • लेफ्टिनेंट- मूल वेतन 56,100 से 1,77,500 के बीच, 15,500 रुपए सैनी सेवा वेतन और  डीए+अन्य भत्ता।
  • कैप्टेन- मूल वेतन 61,300 से 1,93,900 रुपए के बीच, 15,500 सैन्य सेवा वेतन और  डीए+अन्य भत्ता।
  • मेजर- मूल वेतन 69,400 से 2,07,200 रुपए के बीच+15,500 सैन्य सेवा वेतन और  डीए+अन्य भत्ता।
  • लेफ्टिनेंट कर्नल- मूल वेतन 1,21,200 से 2,12,400 रुपए के बीच+  15,500  सैन्य सेवा वेतन और डीए+अन्य भत्ता।
  • कर्नल- मूल वेतन 1,30,600 से 2,15,900  + 15,500    सैन्य सेवा वेतन + डीए+अन्य भत्ता।
  • ब्रिगेडियर- मूल वेतन 1,39,600 से 2,17,600 के बीच+ 15,500 सैन्य सेवा वेतन+  डीए+अन्य भत्ता।
  • मेजर जनरल- मूल वेतन 1,44,200 से 2,18,200 + डीए+अन्य भत्ता।
  • लेफ्टिनेंट जनरल- मूल वेतन 1,82,200 से 2,24,100 + डीए+अन्य भत्ता।
  • लेफ्टिनेंट जनरल+एचजी स्केल- मूल वेतन 2,05,400 से 2,24,400 + डीए+अन्य भत्ता।
  • लेफ्टिनेंट जनरल- 2,25000 निर्धारित वेतन + डीए+अन्य भत्ता।
  • जनरल- 2,25000 निर्धारित वेतन + डीए+अन्य भत्ता।

फौजी कैसे बन सकते हैं?

जो भी उम्मीदवार एक फौजी बनना चाहते हैं, उनके पास कुछ योग्यताये होना चाहिए, और इससे पहले उन्हें ये जानना होगा की वे किस पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं, और फिर उसी के हिसाब से ही उन्हें तैयारी करनी होती है, उम्मीदवार जिस भी पद पर नियुक्ति चाहते हैं।

उसके लिए आवेदन करके उन्हें परीक्षा देनी होती है और उसे पास करने के बाद, physical test आदि होता है। लेकिन फौजी बनने के लिए कुछ चीजे common होती हैं।

जैसे आप कम से कम 10th या 12th किए हुए होने चहिए और आपका body fitness, और आपका iq level अच्छा होना चाहिए आदि।

डाक्यूमेंट्स की बात की जाए तो उम्मीदवार के पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए 

  • आधार कार्ड
  • mark-sheet
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज की फोटो
  • अगर आपके पास कोई  sports certificate है तो वह भी मांगा जा सकता है।

हो सकता है की उम्मीदवार को और भी किसी document की जरूरत पड़े, अगर किसी और document की जरूरत होगी तो Vacancy आने के बाद आपको notification में ही इसके बारे में बता दिया जाता है, कि आपको कौन सा document लेके जाना है।

Conclusion

यहां इस आर्टिकल में हमने, एक फ़ौजी की सैलरी कितनी होती है इसके बारे में बात की। बहुत से युवा 10वीं या 12वीं के बाद सेना में भर्ती होना चाहते हैं, और ऐसे युवाओं को सेना द्वारा फौजियों को दी जाने वाली तनख्वाह के बारे में पता होना चाहिए।

सेना में कई सारे पद होते हैं और उन अलग-अलग पदों के हिसाब से सैलरी भी अलग-अलग होती है, हमने अंसारी के बारे में यहां जाना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.