12वीं के बाद कॉमर्स में करियर | 12th ke baad commerce mein career

इस आर्टिकल में हम 12वीं के बाद कॉमर्स में करियर के बारे में बात करेंगे। 

12वीं के बाद कॉमर्स में करियर के क्या विकल्प हैं? कॉमर्स विद्यार्थी किन क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं? 

कॉमर्स के विद्यार्थी आगे बेहतर करियर के लिए कौन-कौन से कोर्स कर सकते हैं? 

दोस्तों दसवीं के बाद से विद्यार्थी साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स तीन स्ट्रीम्स में बंट जाते हैं, तीनों ही स्ट्रीम्स के विद्यार्थियों के लिए आगे उस स्ट्रीम से संबंधित क्षेत्रों में करियर के कई विकल्प मौजूद होते हैं। 

यहां हम 12वीं के बाद कॉमर्स फील्ड में करियर विकल्पों के बारे में बात कर रहे हैं। 

सामान्यत: banking, finance और business आदि से संबंधित क्षेत्रों में करियर बनाने की सोचने वाले विद्यार्थी ही दसवीं के बाद कॉमर्स का चुनाव करते हैं, और फिर 11वीं और 12वीं में उन्हें commerce के विषयों की पढ़ाई करनी होती है।

12वीं के बाद कॉमर्स में करियर

यहां हम 12वीं के बाद कॉमर्स में करियर की ही अच्छे से बात करेंगे। 

मुख्य तौर पर हम उन courses की बात करेंगे, जिनका commerce के विद्यार्थी 12वीं के बाद चयन करते हैं/कर सकते हैं, और आगे कॉमर्स में अच्छा करियर बना सकते हैं।

12वीं के बाद commerce में career

दोस्तों 10th की बोर्ड परीक्षा के बाद 11th में काफी बड़ी संख्या में विद्यार्थी Commerce Stream को चुनते हैं। 

12वीं पूरी हो जाने के बाद ग्रेजुएशन में कॉमर्स स्ट्रीम वालों के लिए कई शानदार करियर ऑप्शन मौजूद हैं। 

कुछ समय पहले तक कॉमर्स के विद्यार्थियों के लिए करियर विकल्प थोड़े सीमित थें, लेकिन अब इसमें काफी बदलाव आया है। 

अब यह जरूरी नहीं है कि आप commerce से हैं, तो सिर्फ बीकॉम करें या सीए बनने के लिए कोई कोर्स करें। 

इन क्षेत्रों के अलावा भी कॉमर्स स्ट्रीम वालों के लिए रोजगार के कई अन्य विकल्प उपलब्ध हैं।

जो अभ्यर्थी कॉमर्स स्ट्रीम से पढ़ाई कर रहे हैं, या आगे 10th के बाद करने का मन बना रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि कक्षा 12वीं में कॉमर्स स्ट्रीम लेने वालों के लिए करियर के कई शानदार ऑप्शंस हैं। 

उन्हें खुद को सिर्फ B.Com, CA या CS जैसे ऑप्शंस तक सीमित रखने की जरूरत नहीं है। 

आप चाहें तो इस स्ट्रीम में भी काफी अच्छी तरह से explore कर सकते हैं। 

जैसे कि आज-कल Law courses समेत अन्य कई और भी ऐसे सेक्टर्स हैं, जिनमें आप आसानी से अच्छा करियर बना सकते हैं। 

Commerce से 12वीं के बाद लॉ की पढ़ाई की जा सकती है। 

Commerce stream के students finance law  की पढ़ाई कर सकते हैं, law से संबंधित एक अच्छा विकल्प है, साथ ही इसकी पढ़ाई में कॉमर्स की चीज़े ही पढ़नी होती है। 

इन दिनों मार्केट में finance law professionals की डिमांड बढ़ रही है। 

यह कोर्स करने के बाद विद्यार्थी बैंकिंग लॉ, कंज्यूमर प्रोटेक्शन लॉ, इंडस्ट्रियल लॉ, कंपनी लॉ आदि की पढ़ाई कर सकते हैं और आगे अपनी पद और इनकम दोनों ही बढ़ा सकते हैं। 

इसके अलावा 12वीं के बाद कॉमर्स के विद्यार्थी certified financial planner का कोर्स करके भी कॉमर्स में एक अच्छा करियर बना सकते हैं।  

इस कोर्स में पर्सनल फाइनेंस, वेल्थ मैनेजमेंट, म्यूचुअल फंड आदि की जानकारी दी जाती है। यह कोर्स करने के बाद विद्यार्थी इनमें से किसी भी क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

12वीं के बाद कॉमर्स में, सीए से मिलते जुलते कोर्स में CWA यानी cast and work accountant का कोर्स भी आता है। 

यह कोर्स Institute of cast and work accountant of India के द्वारा कराया जाता है। 

इसमें पहले फाउंडेशन कोर्स, फिर इंटरमीडिएट और फिर फाइनल परीक्षा होती है। 

इस कोर्स के बाद भी जॉब के कई अवसर खुल जाते हैं। 

अन्य विकल्पों में, यदि 12वीं के बाद आपने पहले बीकॉम किया है तो बीकॉम के बाद आप finance and control में PG diploma, PG diploma in Management Accounting, PG diploma in banking and finance, PG diploma in public accounting, diploma in banking and finance आदि का कोर्स भी कर सकते हैं।

12th के बाद commerce में बेहतर career के लिए top courses –

कॉमर्स से 12वीं की पढ़ाई पूरी करने वाले विद्यार्थियों के लिए तो आगे की पढ़ाई के लिए अकाउंट्स, फाइनेंस, बिजनेस स्टडीज जैसे सब्जेक्ट्स ही अच्छे विकल्प होते हैं। 

लेकिन जरूरी यह है कि 12वीं के बाद ग्रेजुएशन स्तर पर विद्यार्थी अपने लिए बेहतर कोर्स का चुनाव करें ताकि आगे वह कॉमर्स में बेहतर भविष्य की तरफ देख सके। 

12वीं के बाद कॉमर्स या कॉमर्स से संबंधित क्षेत्रों में अच्छा करियर बनाने के लिए उपल्ब्ध top courses में से कुछ मुख्य नाम हैं –

  • B.Com
  • BBA
  • CA
  • CS
  • LLB/ BA LLB
  • Bachelor of Management Studies
  • CMA
  • Journalism and mass communication
  • आदि

B.Com

कॉमर्स से 12th के बाद बहुत से स्टूडेंट्स बी.कॉम चुनते हैं, जिसमें वे 3 साल की ग्रेजुएशन करते हैं। 

पढ़ाई की बात करें तो, इसमें अकाउंट्स, स्टेटिस्टिक्स, मैनेजमेंट और ह्यूमन रिसोर्सेज जैसे अन्य कई सब्जेक्ट पढ़ाए जाते हैं। 

विद्यार्थी अपनी रूचि के अनुसार एक मुख्य subject चुन सकते हैं। 

BBA

यदि आपकी इच्छा बिजनेस करना है या बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में जाना है, तो बी.बी.ए करना ही आपके लिए सबसे बेहतर रहेगा। 

यह भी एक तीन साल की ग्रेजुएशन है, जिसे कॉमर्स बैकग्राउंड के काफी स्टूडेंट चुनते हैं। 

इसमें आपको बिजनेस से संबंधित सभी जरूरी चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है।

CA

कॉमर्स में यह सबसे प्रतिष्ठित नाम है, सीए यानी चार्टर्ड अकाउंटेंट एक प्रोफेशनल कोर्स माना जाता है, जिसमें कॉमर्स बैकग्राउंड के candidates ही जा सकते हैं। 

इस कोर्स में एडमिशन के लिए आपको कई सारे एग्जाम क्लियर करना होता है। 

असल में, बैचलर की किसी भी डिग्री के मुकाबले चार्टेड अकाउंटेंट काफी मुश्किल है, लेकिन फिर इसमें करियर भी उतना ही अच्छा रहता है।

CS

इसका पूरा नाम company secretary है। 

सी.एस का कोर्स भी एडमिनिस्ट्रेशन में ही आता है, जो इंस्टिट्यूट कंपनी सेक्रेट्री ऑफ इंडिया (ICSI) द्वारा कराया जाता है। 

कॉमर्स के बहुत से विद्यार्थी इसे भी चुनते हैं। इसमें भी सी.ए की तरह काफी मुश्किल एंट्रेंस एग्जाम दिए जाते हैं।

LLB/ BA LLB

हमने ऊपर कहा है कि कॉमर्स से 12वीं के बाद law भी एक बेहतरीन विकल्प है। 

इसमें आप बार काउंसिल ऑफ इंडिया से डिग्री और certificate प्राप्त करने के बाद lawyer बन सकते हैं। 

आप फैमिली लॉयर, प्रॉपर्टी लॉयर या कंपनी लॉयर आदि बन सकते हैं, जो निर्भर करेगा कि आप कौन सा विषय चुनते हैं। 

न सिर्फ कॉमर्स बैकग्राउंड, बल्कि आर्ट्स वाले भी इसे चुन सकते हैं।

Bachelor of Management Studies

जिन विद्यार्थियों को मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना करियर बनाना है, उनके लिए बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (BMS) करना अच्छा रहेगा।

इस कोर्स में मैनेजिंग स्किल्स और लीडरशिप के बारे में अच्छी तरह पढ़ाया जाता है। 

इसमें ह्यूमन रिसोर्स, रिसर्च मेथड के बारे में भी पढ़ाया जाता है , जो इस संबंधित क्षेत्र के लिए जरूरी होता है।

CMA

पूरा नाम Cast and Management Account अगर आपको मैनेजमेंट अकाउंटिंग, कमर्शियल फंडामेंटल और इंडस्ट्रियल लॉ के बारे में पढ़ना है, तो आप कॉमर्स से ट्वेल्थ के बाद कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट भी चुन सकते हैं। 

इसमें फाइनेंस और मैनेजमेंट दोनों की पढ़ाई कराई जाती है और कोर्स पूरा होने के बाद आप मैनेजमेंट के क्षेत्र में अच्छी जॉब पा सकते हैं।

Journalism and mass communication

इसका मतलब बहुत से विद्यार्थियों को पता होता है। अगर आपको मीडिया या पी.आर के field में जाना है, तो बारहवीं कॉमर्स के बाद जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन आपके लिए अच्छा ऑप्शन रहेगा। 

इसमें फाइनेंस और बिजनेस की जानकारी के साथ मीडिया में उम्मीदवार अपना करियर बना सकते हैं। 

साथ-साथ इसकी अच्छी जानकारी रखने के कारण आप प्रिंट, ऑनलाइन या कंटेंट क्रिएशन में भी अपना करियर बना सकते हैं।

ये सारे कॉमर्स से 12वीं के बाद करने के लिए उपलब्ध कुछ मुख्य courses के नाम थे। 

कॉमर्स क्षेत्र में ही करियर बनाने की सोचने वाले विद्यार्थी 12वीं के बाद इन्हीं में से किन्ही का चुनाव करते हैं। 

हालांकि इनके अलावा भी अन्य कई courses उपलब्ध है, जिनका विद्यार्थी चुनाव कर सकते हैं। 

आजकल दसवीं के बाद से ही विद्यार्थियों को अपने करियर की टेंशन होने लगती है, ऐसे में अलग-अलग स्ट्रीम से संबंधित विद्यार्थियों के मन में प्रश्न आता है कि 12वीं के बाद साइंस में करियर कैसे बनाएं? 12वीं के बाद आर्ट्स में करियर क्या हैं? 

इस तरह के अन्य विषयों से संबंधित सवाल भी रहते हैं जैसे 12वीं के बाद हिंदी में करियर या 12वीं के बाद मनोविज्ञान में करियर आदि।

Conclusion

ऊपर इस आर्टिकल में हमने 12वीं के बाद कॉमर्स में करियर विकल्पों के बारे में बात की है। 

यहां हमने मुख्य तौर पर उन courses के बारे में बात की है जिनका कॉमर्स 12वीं पास करने के बाद  विद्यार्थी चुनाव करते हैं/ कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.