यूपीएससी में क्या बन सकते हैं? | UPSC mein kya ban sakte hain

दोस्तों अगर आप भी भारतीय लोक सेवा यानी civil services में जाने की इच्छा रखते हैं, तो यूपीएससी के बारे में तो आप निश्चय ही जानते होंगे।

आज के समय में हर साल लाखों की संख्या में विद्यार्थी यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी करते हैं ताकि वे देश के उच्च पदों पर सरकारी अधिकारी के रूप में काम करके देश की सेवा कर सकें। 

दोस्तों जितने भी विद्यार्थी यूपीएससी की तैयारी करते हैं उनमें से ज्यादातर का लक्ष्य एक आईएएस या आईपीएस ऑफिसर बनना ही होता है।

District magistrate और police में SP जैसे पदों पर नौकरी करना ही ज्यादा पर विद्यार्थियों का सपना होता है और वह इन्हीं के लिए कड़ी मेहनत से तैयारी भी करते हैं।

पर upsc सिर्फ इन पदों तक ही सीमित नहीं होती, इस परीक्षा के माध्यम से और भी कई पदों पर नियुक्तियां होती है।

यूपीएससी में क्या बन सकते हैं?

आज इस आर्टिकल में हम इसी की बात करेंगे कि यूपीएससी में क्या बन सकते हैं? मतलब कि आईएएस, आईपीएस के अलावा और क्या।

जो विद्यार्थी यूपीएससी की तैयारी के लिए जाना चाहते हैं उन्हें इसकी पूरी जानकारी होना जरूरी है कि आईएएस आईपीएस जैसे प्रतिष्ठित पदों के अलावा यूपीएससी और किन किन पदों पर नियुक्ति करता है।

UPSC में क्या बन सकते हैं?

शुरुआत में ज्यादातर विद्यार्थियों के लिए यूपीएससी का मतलब आईएएस, आईपीएस और उससे ज्यादा आईएफएस तक ही होता है।

पर जो यूपीएससी के बारे में अच्छे से जानते हैं वह जानते हैं कि यूपीएससी सिर्फ IAS, IPS तक ही सीमित नहीं है बल्कि इस परीक्षा के माध्यम से और भी कई सारे पदों पर नियुक्ति होती है।

ज्यादातर लोग यूपीएससी की परीक्षा का मतलब सिर्फ आईएएस और आईपीएस तक ही समझते हैं।

जबकि वास्तविकता यह है कि यूपीएससी की परीक्षा के माध्यम से और भी अलग-अलग विभागों में अलग-अलग और अच्छे पदों पर नियुक्तियां होती है।

जैसे कि भारत सरकार के साथ-साथ कई केंद्र शासित प्रदेशों के सरकारी सेवाओं में भी यूपीएससी के द्वारा ही नियुक्ति होती है 

बेशक हमारे देश में आईएएस और आईपीएस जैसे पर सबसे प्रतिष्ठित पदों में आते हैं, और ज्यादातर विद्यार्थी इन्हीं के तरफ जाना चाहते हैं।

यूपीएससी में जो कुछ विद्यार्थी सबसे अधिक अंक लाकर टॉप ranks में रहते हैं उनका इन पदों के लिए सिलेक्शन होता है, लेकिन उनके बाद के उम्मीदवारों का क्या? 

उन्हें दूसरे सरकारी सेवाओं में नियुक्त किया जाता है। आईएएस और आईपीएस को मिलाकर यूपीएससी की परीक्षा द्वारा पास करने वाले उम्मीदवारों को देश के कुल 24 सरकारी सेवाओं में जाने का ऑप्शन मिलता है।

यानी कि आईएएस ( Indian administrative service) और IPS (Indian police service) के अलावा और 22 ऐसी services हैं, जिनमें यूपीएससी के माध्यम से नियुक्ति होती है।

UPSC से इन 24 सेवाओं में नियुक्ति होती है

इतना तो विद्यार्थी जानते हैं यह है कि आईएएस, आईपीएस और फिर आईएफएस आदि यूपीएससी के बाद सबसे ज्यादा चुने जाने वाले services हैं। अब यदि कुल 24 सेवाओं की बात करें तो उनके नामों की सूची कुछ इस प्रकार है –

Indian administrative service / भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)- यह तो यूपीएससी की सबसे प्रतिष्ठित सेवा है, डीएम या डीसी जैसे पदों पर आईएएस अधिकारी ही नियुक्त किए जाते हैं।

Indian police service / भारतीय पुलिस सेवा (IPS)- इसका मतलब भी ज्यादातर लोग जानते ही हैं। भारतीय पुलिस में सबसे उच्च पदों के ऑफिसर जैसे एसपी आदि आईपीएस ऑफिसर होते हैं।

Indian foreign service / भारतीय विदेश सेवा (IFS)- भारत सरकार द्वारा विदेश में भी राजदूत आदि के तौर पर ऑफिसर को नियुक्त किया जाता है, भारतीय विदेश सेवा यही है, इसमें भी ग्रेड ए के ऑफिसर होते हैं।

Indian forest service / भारतीय वन सेवा (IFoS) – भारत में वन विभाग में सबसे उच्च पदों के अधिकारियो की नियुक्ति भी यूपीएससी की परीक्षा से होती है। 

Indian information service / भारतीय सूचना सेवा (IIS)- यह भी ग्रुप एक ही सर्विस होती है, इसे आप भारत सरकार का media wing कह सकते हैं। यह सरकार और जनता के बीच कम्युनिकेशन का काम करती है।

Indian postal service / भारतीय डाक सेवा (IPoS) – डाक विभाग में भी ग्रेड ए के ऑफिसर्स की नियुक्ति यूपीएससी की परीक्षा पास करके होती है। ये डाक विभाग में सबसे उच्च पदों पर नियुक्त होते हैं।

Indian revenue service / भारतीय राजस्व सेवा (IRS)- भारत सरकार के रेवेन्यू डिपार्टमेंट में भी ऑफिसर पदों पर नियुक्ति यूपीएससी परीक्षा के माध्यम से होती है, यह भी ग्रुप ए की सर्विस है।

Indian trade service / भारतीय व्यापार सेवा (ITS)- भारत के अंतरराष्ट्रीय ट्रेड और कॉमर्स को मेंटेन करने के लिए इसकी शुरुआत की गई थी। यूपीएससी की परीक्षा से इस सेवा में भी नियुक्ति होती है।

Railway protection force / रेलवे सुरक्षा बल (RPF)- RPF  के सारे officers इंडियन रेलवे प्रोटक्शन फोर्स सर्विस के मेंबर होते हैं और इनकी नियुक्ति यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा के माध्यम से ही होती है।

Pondicherry civil service / पॉन्डीचेरी सिविल सेवा (PCS) – पांडिचेरी 1 केंद्र शासित प्रदेश है, यहां के सिविल सेवा में नियुक्ति के लिए भी यूपीएससी ही देना होता है।

Pondicherry police service / पॉन्डिचेरी पुलिस सेवा (PPS) – सिविल सेवा के साथ पुलिस सेवा के लिए भी यही बात है, पांडिचेरी पुलिस सेवा में अफसर के लिए भी यूपीएससी पास उम्मीदवार आ सकते हैं।

दिल्ली, अंडमान निकोबार आइलैंड्स सिविल सेवा (DANICS) – दिल्ली और अंडमान निकोबार आईलैंड्स के सिविल सेवा यानी कि उच्च पदों के अफसरों की नियुक्ति भी यूपीएससी द्वारा ही होती है।

दिल्ली, अंडमान निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप, दमन दीव, दादर नागर हवेली पुलिस सेवा (DANIPS) – इसमें भी सिविल सेवा और पुलिस सेवा के लिए वही बात है। यूपीएससी पास उम्मीदवार ही दिल्ली, अंडमान निकोबार आईलैंड्स, लक्षदीप, दमन दिउ, दादरा नगर हवेली के पुलिस सेवा में अधिकारी के तौर पर चुने जाते हैं।

Indian audit and accounts service  (IAAS) – iaas service में यूनियन और स्टेट गवर्नमेंट के पब्लिक सेक्टर ऑर्गेनाइजेशंस के अकाउंट्स की ऑडिटिंग का काम होता है। यहां के अधिकारी भी ए ग्रेड के अधिकारी होते हैं, और इनका चयन यूपीएससी द्वारा होता है।

Indian civil accounts service (ICAS) – इस सर्विस के अंतर्गत भी भारतीय सरकार को अकाउंटिंग और ऑडिटिंग के काम की सेवा दी जाती है। यहां के अधिकारी भी ग्रेड ए के होते हैं और यूपीएससी द्वारा सिलेक्ट किए जाते हैं।

Indian Corporate Law service (ICLS) – एक आईसीएलएस अधिकारी का काम कंपनीज एक्ट एलएलपी एक्ट और कुछ इससे संबंधित दूसरे acts को एडमिनिस्टर करने का होता है। इसमें भी यूपीएससी द्वारा ही जा सकते हैं।

Indian defense estate service (IDES) – इसे हिंदी में भारतीय रक्षा संपदा सेवा कहते हैं, इस सर्विस में भी ए ग्रेड के ऑफिसर होते हैं जिनकी नियुक्ति यूपीएससी द्वारा होती है।

Indian defense accounts service (IDAS) – इस सेवा के ऑफिसर का काम डिफेंस डिपार्टमेंट के अकाउंटिंग संभालने का होता है। यह भी ग्रेड ए के अधिकारी होते हैं और इन्हें यूपीएससी नियुक्त करता है।

Indian ordnance factories service (IOFS) – इस सेवा के ऑफिसर का काम भारत के ऑर्डनेंस फैक्ट्रीज के एडमिनिस्ट्रेशन का होता है। यह भी ग्रेड ए के ऑफिसर होते हैं, जिनकी नियुक्ति यूपीएससी करता है।

Indian communication finance service (ICFS) – यह भी भारत सरकार के जरूरी सेवाओं में आता है। इनमें ग्रेड a के ऑफिसरों की नियुक्ति यूपीएससी परीक्षा केसरी होती है।

Indian railway accounts service (IRAS) – इस विभाग के ऑफिसर भी ग्रेड ए के ऑफिसर होते हैं, जिनका काम रेलवे से संबंधित विभागों आदि के accounts देखने का होता है।

Indian railway personnel service (IRPS) – यह भी ग्रुप एक की एक केंद्रीय सेवा है, जिस पर ऑफिसरों की नियुक्ति यूपीएससी द्वारा होती है।

Indian railway traffic service (IRTS) – यह भी भारत सरकार के अंतर्गत आने वाला एक केंद्रीय सेवा है। यहां के ऑफिसरो की नियुक्ति भी यूपीएससी द्वारा होती है।

Armed forces headquarters civil service (AFHCS) – यह भी गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की ग्रेड की सेवा है, इस सेवा में भी ऑफिसर की नियुक्ति यूपीएससी द्वारा ही होती है।

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने जाना कि यूपीएससी में क्या बन सकते हैं? मतलब कि आईएएस और आईपीएस आदि के अलावा यूपीएससी की परीक्षा और किन-किन सेवाओं के लिए उम्मीदवारों का चयन करता है।

यूपीएससी की तैयारी करने या करने की सोचने वालों के लिए इन सभी सेवाओं के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी हो जाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.