IIT की फीस कितनी है? | IIT Ki Fees Kitni Hai

आईआईटी की फीस कितनी है? आईआईटी करने में कितना खर्च आता है? ITI colleges की fees कितनी होती है? इंजीनियर बनने की इच्छा रखने वाले हर विद्यार्थी के मन में यह प्रश्न जरूर आता है। दोस्तो आज के समय में करियर सिलेक्शन में सबसे ज्यादा विद्यार्थी engineering को ही चुनते हैं।

हर साल बहुत बड़ी संख्या में विद्यार्थी आईआईटी में दाखिले के लिए तैयारी करते हैं, जिससे वे भविष्य में एक अच्छा इंजीनियर बन सके।

IIT सबसे ज्यादा विद्यार्थियों द्वारा चुने जाने वाले courses में से है, इसलिए इस कोर्स से संबंधित पूरी जानकारी होना जरूरी हो जाता है।

आज यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर आईआईटी की फीस की ही बात करेंगे।

किसी भी course की पढ़ाई के लिए फाइनेंशियल कंडीशन सबसे बड़ा फैक्टर होता है, fees के बारे में सही जानकारी होना जरूरी है।

आईआईटी की फीस के साथ साथ, आईआईटी क्या है, इस में दाखिला कैसे ले सकते हैं, इसके लिए जरूरी योग्यता, इसके बाद करियर के विकल्प, आदि जैसी iit से संबंधित सभी जरूरी बातों को भी जानेंगे।

IIT की फीस कितनी है?

IIT क्या है?

जब हम ऐसा सुनते हैं कि आईआईटी की पढ़ाई, तो कई विद्यार्थियों का ऐसा लग सकता है कि यह कोई course है, जिसमें इंजीनियरिंग की पढ़ाई कराई जाती है।

पर असल में IIT कोई कोर्स नहीं, एक शिक्षण संस्थान है जो आपको इंजीनियरिंग की पढ़ाई करवाता है। IIT का फुल फॉर्म इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Indian Institute of Technology) है, जिसे हिंदी में “भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान” कहते है।

IIT एक ऐसा संस्थान है जहाँ से आप इंजीनियरिंग की पढाई कर सकते है, course में आप यहां से b.tech, m.tech इत्यादि करते हैं।

इंजीनियरिंग करने के लिए IIT भारत का सर्वश्रेष्ठ संस्थान है। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए iit देश ही नहीं बल्कि दुनिया के शीर्ष शिक्षण संस्थानों में है, दूसरे देशों से भी छात्र इन संस्थानों में पढ़ने आते हैं।

IIT की फीस कितनी है?

हमारे देश में total 23 IIT colleges हैं, जिसमें से IIT Kharagpur सबसे पहला और पुराना है।

इन संस्थानों में प्रवेश के लिए एंट्रेंस एग्जाम देने होते हैं और उसमें आए अंकों के आधार पर आपको college मिलता है।

सही मेहनत करके आप अपनी इच्छा अनुसार किसी भी IIT college से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।

फीस की बात करें तो आईआईटी संस्थानों में आपसे प्रत्येक सेमेस्टर के हिसाब/yearly से फीस ली जाती है।

यदि हम b.tech की बात करें तो यह 4 साल का कोर्स है जिसमें 8 semester होते हैं।

हर आईआईटी संस्थान के फीस स्ट्रक्चर में अंतर होता है। देश के कुछ सबसे प्रतिष्ठित iit संस्थान पूरे कोर्स के लिए लगभग 10 लाख तक की फीस वसूलते हैं।

आईआईटी में 1 साल की fees आपको औसतन 2-2.5 लाख तक लगती है।

भारत के कुछ शीर्ष आईआईटी संस्थानों में

  • IIT Bombay
  • IIT Delhi
  • IIT Madras
  • IIT Kharagpur आदि का नाम आता है।

इन आईआईटी संस्थानों में फीस स्ट्रक्चर कुछ इस प्रकार है?

IIT Bombay में B Tech की एक सेमेस्टर की फीस 1,20,000 से ज्यादा होती है, इस तरह पूरे कोर्स की फीस लगभग 10 लाख तक चली जाती है।

आईआईटी मद्रास में बीटेक की 1 सेमेस्टर की फीस 1,16,000 की है, जिससे पूरे कोर्स की फीस 9.5 लाख तक जाती है।

IIT Delhi में भी बीटेक की एक सेमेस्टर की फीस लगभग इतनी ही होती है, इंजीनियरिंग के इस पूरे कोर्स के लिए आईआईटी दिल्ली से आपको लगभग 8.5 लाख रुपए फीस के रूप में देने होते हैं।

इसी तरह दूसरे आईटी संस्थानों की फीस में भी थोड़ा बहुत अंतर देखने को मिलता है, दूसरे जितने IIT कॉलेज है उनकी भी 4 वर्षो की कुल फीस लगभग 9-10 लाख के बिच ही होती है।

फीस की यह रकम काफी बड़ी है, लेकिन आपको फीस के बारे में बहुत ज्यादा फ़िक्र करने की जरूरत नही है, जब आप entrance exam क्वालीफाई कर लोगे तो आपको आसानी से बैंक से education लोन मिल जाता है।

इसके अलावा कई सारे कॉलेज में छात्रवृति की भी सुविधा होती है। आपके लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है, कि आप JEE को अच्छे मार्क्स से qualify करे, जिससे की आपको एक अच्छा IIT कॉलेज मिल जाये।

IIT में दाखिला कैसे ले सकते हैं?

यदि बात करें कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए आईआईटी संस्थानों में दाखिला कैसे लिया जा सकता है तो जो भी विद्यार्थी इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं पहले उन्हें 12वीं पास करके IIT JEE की परीक्षा के लिए अप्लाई करना होगा।

IIT में एडमिशन के लिए आपको JEE (Joint Entrance Exam ) को अच्छे मार्क्स से पास करना होगा। इसमें JEE MAINS और JEE ADVANCE होता है।

अगर आपको IIT कॉलेज में एडमिशन लेना है तो सबसे पहले JEE में MAINS qualify करना होगा , उसके बाद आप JEE ADVANCED के एग्जाम में बैठ सकते है।

MAINS qualify करने के बाद यदि आप Advance क्वालीफाई नहीं कर पाते हैं, तो आपका एडमिशन IIT में ना होकर NIT में होता है।

जिन विद्यार्थियों का सपना शुरू से ही एक इंजीनियर बनने का होता है, वह आईआईटी में दाखिले के लिए दसवीं के बाद से ही JEE की प्रिपरेशन शुरू कर देते हैं।

इंजीनियरिंग की तैयारी के लिए KOTA जैसे जगहों के बारे में शायद आपने भी सुना हो।

अगर आपको IIT से ही अपनीं इंजीनियरिंग की पढाई करनी है, तो आपको JEE MAIN और JEE ADVANCED दोनों परीक्षाओ को अच्छे मार्क्स के साथ पास करना होगा , तब ही आपको एक अच्छा IIT कॉलेज मिल पायेगा।

IIT के लिए योग्यता

आईआईटी संस्थानों में दाखिले के लिए विद्यार्थी को JEE की परीक्षा पास करनी होती है, और इसमें विद्यार्थी 12वीं उत्तीर्ण होने के बाद ही बैठ सकते हैं, इसमें भी विद्यार्थी का साइंस स्ट्रीम से फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स होना जरूरी होता है।

IIT में एडमिशन के लिए क्लास 10th के मार्क्स से कोई फर्क नही पड़ता है , अगर आपके क्लास 10th में थोड़े कम मार्क्स हैं, तो कोई खास दिक्कत नहीं होती।

लेकिन कक्षा 12वीं में आपको कम से कम 75% अंक लाना तो जरूरी होता है, इससे कम मार्क्स से आप JEE की परीक्षा में नहीं बैठ पाएंगे।

JEE के result में उम्मीदवारों की ऑल इंडिया रैंक घोषित की जाती है, आपका रेंक जितना अच्छा होगा, उतने ही अच्छे IIT में आपको दाखिला मिलेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.