आईटीआई के बाद क्या करें? | ITI ke baad kya Kare

दोस्तों वर्तमान में हर क्षेत्र में ही करियर के मामले में कड़ी स्पर्धा होती है। ऐसे में दसवीं के बाद से ही विद्यार्थियों को अपने करियर के लिए बेहतर सोचना होता है।

जो विद्यार्थी टेक्निकल क्षेत्र में और थोड़ी जल्दी नौकरी लेना चाहते हैं, उनमें से कई 10वीं या 12वीं के बाद भी आईटीआई के कोर्स में दाखिला लेते हैं।

आज के समय में यह एक लोकप्रिय टेक्निकल कोर्स है जिसमें कई विद्यार्थी एडमिशन लेते हैं।

आईटीआई का कोर्स पूरा हो जाने के बाद, जाहिर है कि विद्यार्थियों के मन में यह सवाल तो आता ही है कि अब आईटीआई के बाद क्या करें?

आईटीआई के बाद के विकल्पों के बारे में बहुत से विद्यार्थियों को कन्फ्यूजन रहता है।

यहां इस आर्टिकल में हम मुख्य तौर से इसी की बात करेंगे कि विद्यार्थी आईटीआई करने के बाद क्या करें? (ITI ke baad kya kare)

आईटीआई के बाद क्या करें?

आईटीआई का कोर्स पूरा हो जाने के बाद उम्मीदवारों के पास क्या विकल्प रहते हैं मतलब कि वे आगे क्या नौकरी ले सकते हैं या फिर आगे किस कोर्स की पढ़ाई कर सकते हैं?

आईटीआई के बाद के मुख्य विकल्पों की ही हम यहां बात करेंगे।

ITI के बाद क्या करें?

आईटीआई के बाद के विकल्प के बारे में जाने से पहले थोड़ा सा आईटीआई कोर्स की बात करें तो आईटीआई का पूरा नाम industrial training institute है।

इस फोर्स के माध्यम से विद्यार्थी इंजीनियरिंग या गैर इंजीनियरिंग कोर्स कर सकते हैं। ITI सामान्यतः 2 वर्ष की अवधि का diploma कोर्स होता है।

आईटीआई के अंतर्गत इंजीनियरिंग फील्ड में विद्यार्थी इलेक्ट्रिशियन, टेक्निशियन, रेडियोलॉजी, फिटर जैसे कोर्स कर सकते हैं। तथा इसके अलावा भी बहुत सारे ITI Subject होते हैं।

या फिर गैर इंजीनियरिंग फील्ड में क्राफ्ट्समैन फूड प्रोडक्शन, डाटा एंट्री ऑपरेटर, सैनिटरी इंस्पेक्टर आदि का चुनाव कर सकते हैं।

आईटीआई का कोर्स पूरा कर लेने के बाद के विकल्पों की बात करें तो ज्यादातर विद्यार्थी तो आईटीआई के बाद नौकरी के लिए ही देखते हैं। 

नौकरी में वे सरकारी नौकरियों की तैयारी करके, उनकी परीक्षा पास करके सरकारी नौकरी ले सकते हैं।

या फिर प्राइवेट क्षेत्र में भी कई कंपनियां आईटीआई डिग्री धारकों को नौकरी offer करती हैं। Diploma holders की कई क्षेत्रों में मांग रहती है।

या फिर विद्यार्थी आईटीआई के बाद higher studies के लिए भी जा सकते हैं। आईटीआई करने के बाद वे इससे उच्च स्तर के courses में भी दाखिला ले सकते हैं। और आईटीआई में Career बना सकते हैं।

आईटीआई के बाद कौन से Courses कर सकते हैं?

आईटीआई के बाद, इसी क्षेत्र में करने के लिए उपलब्ध courses की बात करें तो उनमें मुख्य तौर पर Apprenticeship और उसके बाद डिप्लोमा/पॉलिटेक्निक और CTI/CITS जैसे courses का नाम आता है।

आईटीआई के बाद क्या करें?

आईटीआई के बाद क्या-क्या कर सकते हैं?

  • Apprenticeship कर सकते है।
  • CTI/CITS कर सकते है।
  • Diploma/Polytechnic कर सकते है।
  • Private Or Government Jobs कर सकते है?।
  • खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं।

1. Apprenticeship

आईटीआई पूरा करने के बाद विद्यार्थी 1 साल का अप्रेंटिसशिप कर सकते हैं।

अप्रेंटिसशिप का मतलब है कि इसमें सरकार की तरफ से रेलवे, गवर्नमेंट सेक्टर की कंपनियों और प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों में भी वैकेंसी निकाली जाती है, जिसके लिए आपको फॉर्म भरकर अप्लाई करना होता है और सिलेक्शन के बाद आप अप्रेंटिस कर सकते हैं।

इसमें आपको 1 साल तक helper के पद पर काम कराया जाता है, तो यह कोर्स ना होकर एक तरह की नौकरी हो जाती है।

लेकिन अप्रेंटिसशिप के दौरान आप सिर्फ ट्रेनिंग लेते हैं। 1 वर्ष की ट्रेनिंग होने के बाद आपका एग्जाम और प्रैक्टिकल लिया जाता है जिसके बाद आपको बर्मन की तरफ से अप्रेंटिसशिप का एक सर्टिफिकेट दिया जाता है, और इसीलिए यह एक कोर्स है।

अप्रेंटिसशिप का सर्टिफिकेट आगे आपको कई सरकारी और प्राइवेट नौकरियों के लिए मदद करता है।

2. CTI/CITS

आईटीआई का कोर्स करने वाले ऐसे विद्यार्थी जो इसके बाद टीचिंग लाइन में जाना चाहते हैं, उन्हें इस कोर्स के बारे में पता होता है, और उन्हें जरूर ही पता होना चाहिए।

यह 1 साल का कोर्स है जिसे आईटीआई कंप्लीट कर चुके विद्यार्थी कर सकते हैं। 

आसान भाषा में कहें तो जब उम्मीदवार  CTI/CITS का कोर्स कर लेते हैं तो उन्हें इसका एक सर्टिफिकेट मिलता है, जिसकी सहायता से भी आईटीआई के प्राइवेट संस्थान में पढ़ा सकते हैं।

साथ ही जब गवर्नमेंट संस्थानों के लिए टीचर की वैकेंसी निकलती है, तब भी ये उम्मीदवार आवेदन करके गवर्नमेंट जॉब पा सकते हैं।

यह कोर्स मुख्य तौर पर आईटीआई संस्थानों में टीचर के पद पर नौकरी लेने के लिए ही बनाया गया है।

इसके अलावा इस कोर्स के सर्टिफिकेट का महत्व दूसरी नॉन टेक्निकल या टीचिंग जॉब या कंपनियों में नहीं होता है।

3. Diploma/Polytechnic

बहुत से विद्यार्थी आईटीआई करने के बाद पॉलिटेक्निक के लिए जाते हैं।

आप आईटीआई के बाद पॉलिटेक्निक कर सकते हैं इसके लिए आपको पॉलिटेक्निक के ग्रुप से आवेदन करना होता है।

सलेक्शन होने पर आपका एडमिशन सीधा 2nd year में हो जाता है।

हालांकि परीक्षाएं आपको फर्स्ट और सेकंड ईयर की एक साथ देनी होती है, इसीलिए वहां पर आपको ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है।

आईटीआई के बाद पॉलिटेक्निक भी एक अच्छा ऑप्शन है, इसे करने के बाद आप और भी उच्च स्तर के नौकरियों के योग्य बनते हैं।

1. ITI Electrician के बाद क्या करें?

  1. Technician
  2. Electrical Machine operator
  3. Instructor
  4. Supervisor
  5. Electrician
  6. Welder
  7. Wireman

आईटीआई के बाद नौकरी के अवसर?

काफी विद्यार्थियों द्वारा आईटीआई का कोर्स चुने जाने का एक बड़ा कारण यह भी होता है कि यह कम वर्ष की अवधि का कोर्स है और इसके बाद विद्यार्थी जल्दी नौकरी ले सकते हैं।

हमने ऊपर भी बात की कि आईटीआई पास विद्यार्थी के लिए सरकारी और प्राइवेट दोनों ही क्षेत्रों में नौकरी के अवसर होते हैं।

आईटीआई के बाद नौकरी

ज्यादातर विद्यार्थियों की पहली इच्छा दो एक सरकारी नौकरी ही होती है। आईटीआई पास करने के बाद उम्मीदवार गवर्नमेंट जॉब की तैयारी कर सकते हैं।

आईटीआई एक टेक्निकल कोर्स है, जिसके अंतर्गत कई ट्रेड होते हैं, और यदि उम्मीदवार को अपनी ट्रेन का अच्छा ज्ञान है तो वह अपनी ट्रेड से संबंधित govt jobs के लिए अप्लाई करके नौकरी पा सकते हैं।

इन नौकरी देने वाले विभागों में भारतीय रेलवे, बिजली विभाग, डीआरडीओ, इसरो, गवर्नमेंट स्टील फैक्ट्री, गन फैक्ट्री आदि जैसे संस्थान आते हैं।

इन संस्थाओं द्वारा समय-समय पर अलग-अलग पदों के लिए वैकेंसी निकाली जाती है, जिनके लिए टेक्निकल योग्यता जरूरी है।

इसीलिए आईटीआई किए हुए छात्र इसका अच्छा विकल्प होते हैं।

इसके अलावा अन्य कई विभागों में भी दसवीं पास या फिर 12वीं पास या इसके समकक्ष की कोई डिग्री रहने वाले उम्मीदवारों के लिए सरकारी नौकरी की वैकेंसी निकाली जाती है।

ऐसे में ये छात्र उनके लिए भी अप्लाई कर सकते हैं, बस आवेदन करने से पहले नोटिफिकेशन अच्छे से पढ़ लेना चाहिए।

आईटीआई के बाद Private Jobs

अब हर किसी को तो गवर्नमेंट जॉब मिल नहीं सकता है ऐसे में आईटीआई पास उम्मीदवारों के लिए प्राइवेट क्षेत्र में भी नौकरी के अवसर मौजूद होते हैं।

प्राइवेट जॉब्स में तो जाहिर है कि प्राइवेट कंपनियां ही आपको अलग-अलग पदों पर नौकरी प्रदान करती हैं।

और प्राइवेट सेक्टर में जॉब लेना सरकारी के मुकाबले आसान भी होता है।

ज्यादातर कंपनियों में आज के समय में टेक्निकल काम करने के लिए टेक्निकल कोर्स किए हुए उम्मीदवारों की मांग रहती है।

इसीलिए यहां आईटीआई डिग्री धारकों के लिए नौकरी के कई अवसर मौजूद हैं।

आपने जिस भी ट्रेड से iti का कोर्स किया होगा, उसी से संबंधित नौकरी के लिए प्राइवेट कंपनियों में आवेदन कर सकते हैं।

Conclusion

ऊपर इस आर्टिकल में हमने आईटीआई कोर्स के बाद के विकल्पों के बारे में बात की है यानी कि आईटीआई के बाद विद्यार्थी क्या कर सकते हैं?

Higher studies की तरफ जाना चाहने वाले विद्यार्थी के पास कई courses का विकल्प होता है।

वैसे ज्यादातर विद्यार्थी आईटीआई के बाद नौकरी के लिए ही प्रयास करते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.