जिला जज की सैलरी कितनी है? | How much is the salary of a District Judge

इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि जिला जज की सैलरी कितनी होती है? एक district judge की सैलरी कितनी होती है? 

दोस्तों जो विद्यार्थी law यानी कानून के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं, उनके मन में इस क्षेत्र के अलग-अलग पदों से संबंधित कई प्रश्न रहते हैं। 

बहुत से विद्यार्थियों या सामान्य लोगों के मन में भी यह सवाल कई बार आता है कि एक जिला जज की सैलरी कितनी होती है? District judge की सैलरी कितनी होती है? 

इस आर्टिकल में मुख्य तौर पर इसी के बारे में बात करेंगे। जिला जज की सैलरी से संबंधित सभी जरूरी बातों को हम यहां जानेंगे। 

जिला जज की सैलरी कितनी होती है?, उन्हें सैलरी के अलावा और कौन सी सुविधाएं मिलती हैं? आदि सब कुछ। 

इसीलिए यदि आप जिला जज की सैलरी और इससे संबंधित दूसरी जरूरी बातों के बारे में पूरा जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक पूरा पढ़ें।

जिला जज की सैलरी कितनी है?

जूनियर जिला जज की औसतन सैलरी 40 से 45 हजार रुपए होती है। वहीं सीनियर जिला जज की सैलरी औसतन 70 से 75 हज़ार रुपए होती है। 

जिला न्यायालय देश में सबसे निचले स्तर का न्यायालय होता है, लेकिन यही वह अदालत है जहां सबसे ज्यादा संख्या में cases पर फैसला सुनाया जाता है। 

किसी भी संबंध में जब कोई कानूनी केस दायर किया जाता है तो उसके लिए पहले आप जिला न्यायालय में ही जाते हैं, यदि आप वहां के फैसले से संतुष्ट नहीं होते तो फिर आप हाई कोर्ट का रुख कर सकते हैं। 

और सबसे अंत में सुप्रीम कोर्ट आता है। हमारा यह लेख जिला जज की सैलरी पर केंद्रित है, इसीलिए हम इसी के बारे में विस्तार से बात करते हैं। 

जिला न्यायालय में जो जज होते हैं, उनमें भी अलग-अलग स्तर के जज होते हैं। 

सबसे पहले सिविल जज आते हैं, ये district magistrate से आए और कुछ दूसरे special act petitions देखते हैं। 

जिन्हें आप थोड़े छोटे cases कह सकते हैं। 

अब इनमें भी जूनियर, और फिर सीनियर सिविल जज होते हैं। 

इसके बाद जिला न्यायाधीश यानी district judge आते हैं, जो कि जिला स्तर पर सबसे ऊंची जुडिशरी अधिकारी होते हैं। 

और इनमें भी जूनियर और सीनियर जिला न्यायाधीश होते हैं। 

तो सैलरी जो होती है वह जज के पोस्ट के हिसाब से रहती है। 

जाहिर है जूनियर जज की सैलरी कम और फिर सीनियर जज की सैलरी ज्यादा होती है। 

इसीलिए हम सैलरी को अच्छे से समझने के लिए एक-एक करके जिला न्यायालय के सभी जजों के पद और उस हिसाब से उनकी सैलरी की बात कर लेते हैं। 

जिला न्यायालय के जज और इनकी सैलरी –

शुरु से देखें तो इसमें सबसे पहले जूनियर सिविल जज आते हैं और उसके बाद यह सीनियर जिला न्यायाधीश तक जाते हैं-

  • जूनियर सिविल जज (junior civil judge) / प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट (first class magistrate) – इनकी सैलरी 27700 – 44700 रुपए तक रहती है।
  • जूनियर सिविल जज (junior civil judge) / प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट (first class magistrate) – ACP* यानी पहले 5 सालों के बाद – इनकी सैलरी 33090 – 45850 रुपए तक रहती है।
  • जूनियर सिविल जज (junior civil judge) / प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट (first class magistrate) – II ACP* यानी पहले ACP के 5 सालों के बाद – इनकी सैलरी 39530 – 54090 रुपए तक रहती है।
  • वरिष्ठ सिविल जज – इनकी salary 39530 – 54010 रुपए तक रहती है।
  • वरिष्ठ सिविल जज – ACP* यानी पहले 5 सालों के बाद – इनकी salary 43690 – 56470 रुपए तक रहती है।
  • सीनियर सिविल जज – II ACP* यानी पहले ACP के 5 साल बाद – इनकी salary 51550 – 63010 रुपए तक रहती है।
  • जिला जज – इनकी salary 51550 – 63070 रुपए तक रहती है।
  • जिला जज – प्रवेश ग्रेड 5 वर्ष बाद प्रवेश इनकी salary 57700 – 70290 रुपए तक रहती है।
  • जिला जज – सुपर टाइम स्केल – चयन ग्रेड के बाद 3 वर्ष – इनकी salary 70290 – 76450 रुपए तक रहती है।

तो इस हिसाब से अलग अलग स्तर के जजों की salary इस प्रकार से रहती है। 

अब सैलरी के अलावा एक District Judge (DJ) को सरकारी आवास, सुरक्षा और वाहन और इसके साथ-साथ और भी कई सुविधाएं और सरकारी भत्ते मिलते हैं। 

तो अब हम एक-एक करके उनके बारे में बात कर लेते हैं।

इन्हें भी पढ़ें

जिला जजों को मिलने वाली सरकारी आवास की सुविधा

आवास की सुविधा भी पद के हिसाब से निर्धारित होती है, पर बिजली और पानी सभी के लिए फ्री होता है। 

आवाज की बात करें तो जिला न्यायाधीश को 2500 वर्ग फुट और सिविल जज को 2000 वर्ग फुट का आवास मिलता है। 

हर 5 साल में उन्हें फर्नीचर खरीदने के 1.25 लाख भी मिलते हैं लेकिन उन्हें खरीद का प्रमाण दिखाना होता है। 

आवास के रखरखाव के लिए राज्य सरकार व्यक्तिगत रूप से हर जज को रैंक के अनुसार yearly पैसे देती है। 

जिला न्यायाधीश को अधिकारियों और कर्मचारियों के आवास, और अदालत के सामान्य रखरखाव के लिए अतिरिक्त ₹10,00,000 आवंटित किया जाता है। 

Principal district judge, फैमिली जज, CJM को निर्धारित आमतौर पर 6 BHK के बंगले दिए जाते हैं, वरना कम से कम 5 बीएचके फ्लैट्स। 

ज्यादातर राज्यों में एसडीजेएम, वरिष्ठ एडीजे, विशेष न्यायालय के न्यायाधीशों को भी या तो बंगला या 5 BHK Flat दिए जाते हैं, और यह निर्धारित हैं। 

जिला जजों को मिलने वाली सुरक्षा और वाहन की सुविधा

सुरक्षा के मामले में नीचे से लेकर ऊपर तक सभी न्यायिक अधिकारियों को उनके आवास पर बिना बंदूक के ही सही होमगार्ड प्रदान किए जाते हैं। 

वहीं जो जज आपराधिक मामलों को देखते हैं उन्हें 24×7 बंदूकधारी और होमगार्ड मिलता है। 

इसके साथ ही इन्‍हें सेडान गाड़ी भी मिलती है। Principal district judge (PDJ) और CJM को उनके आवास पर दो बंदूकधारी और करीब 5 armed homeguard उपलब्ध कराए जाते हैं। 

इसके साथ ही इन्‍हें पुलिस मुख्यालय से escort vehicle (sedan या SUV) भी उपलब्ध कराए जाते हैं। 

जिला जजों को मिलने वाली अन्य सुविधाएं और भत्ते

हर जज को एक को एक कार्यालय क्लर्क और एक बेंच क्लर्क दिया जाता है। 

PDJ, CJM और कुछ प्रमुख न्यायाधीशों को PA के रुप में अतिरिक्त क्लर्क भी दिए जाते हैं।

इन्हें ही अलग निवास अर्दली चपरासी, रसोइया और अलग कार्यालय अर्दली चपरासी भी प्रदान किए जाते हैं। 

इसके अलावा जिला जज के लिए 1500 रुपये और सिविल जजों के लिए 1000 रुपये तक की आवासीय लैंडलाइन और ब्रॉडबैंड की सुविधा फ्री रहती है साथ ही इनके फोन कॉल फ्री होते हैं। 

एक District Judge को मोबाइल खरीदने के लिए 30000 और सिविल जज को 20000 रूपए दिए जाते हैं। 

हर जज को हर महीने 3000 रुपये का निश्चित medical भत्ता मिलता है। 

जजों के बच्चों के लिए मिलने वाले भक्तों की बात करें तो इन्हें 12वीं कक्षा तक के 2 बच्चों के लिए बाल शिक्षा भत्ता के रूप में हर महीने 2250 रुपये और hostel fees के रूप में 6750 रुपये मिलता है।

इसी में, पहाड़ी क्षेत्र या कठिन स्थान पर posted जज को 5000 रुपये महीने की दर से अतिरिक्त भुगतान किया जाता है। 

इसके अलावा समाचार पत्रों और पत्रिकाओं के लिए district judge को 1000 और सिविल जज को 700 रुपये हर महीने मिलते हैं। 

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर या फिर उग्रवाद प्रभावित दूसरे राज्यों में posted judges को उसी हिसाब से अतिरिक्त भत्ता भी मिलता है। 

Conclusion

हु कर दिया गया है इस आर्टिकल में हमने जिला जज की सैलरी के बारे में बात की है। 

हमने अलग-अलग पोस्ट के जज की सैलरी के साथ-साथ उन्हें मिलने वाली अन्य भत्तों और सुविधाओं के बारे में भी जानकारी प्राप्त की है। 

हम उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। 

यदि आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हमें नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि जिला जज की सैलरी कितनी है? सैलरी के साथ-साथ इन्हें अन्य कौन-कौन सी सुविधाएं और भत्ते मिलते हैं?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *