12वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता? | Eligibility For LLB

दोस्तो आज का यह आर्टिकल LLB course के बारे में है। आज के समय में हर विद्यार्थी अपने लिए बेहतर से बेहतर प्रोफेशन चुनना चाहता है, और इसके लिए उन्हें दसवीं और 12वीं के बाद से ही तैयारी शुरू कर देनी होती है।

विद्यार्थियों के लिए करियर ऑप्शंस में डॉक्टर, इंजीनियर, सरकारी अफसर या टीचर जैसे कई ऑप्शंस हैं, और उनमें से वकील भी एक लोकप्रिय प्रोफेशन है जिसे बहुत से विद्यार्थी चुनते हैं।

बड़ी संख्या में विद्यार्थी वकील बनने के लिए LLB के कोर्स में एडमिशन लेते हैं।

वकील का प्रोफेशन चुनने की सोचने वाले विद्यार्थियों को भी 12वीं के बाद से ही इसकी तैयारी करनी होती है, फिर सवाल यह आता है कि 12वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता क्या होती है?

यहां इस आर्टिकल में हम मुख्यतः 12वीं के बाद एलएलबी में दाखिले के लिए जरूरी पात्रताओं की ही बात करेंगे।

12वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता ?

दूसरे किसी भी कोर्स की तरह इसमें भी दाखिले के लिए कुछ जरूरी पात्रता (eligibility) होती हैं, जिन्हें पूरा करने पर ही विद्यार्थी इसमें दाखिला लेकर इसकी पढ़ाई कर सकते हैं।

यहां हम एलएलबी में दाखिले के लिए जरूरी पात्रता के साथ-साथ इससे जुड़ी दूसरी कुछ जरूरी बातें भी जानेंगे।

LLB Course के बारे में

LLB यानी की Bachelor of Laws, Law field में 3 साल या 5 साल का एक बैचलर डिग्री कोर्स है, जो कि ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद करने पर 3 साल का और 12वीं के बाद करने पर 5 साल का होता है।

भारत के कई प्रसिद्ध Law Colleges में एलएलबी कोर्स Bar Council of India (BCI) द्वारा अनिवार्य दिशा निर्देशों के अनुसार offer की जाती है।

Bar council of India भारत में कानूनी शिक्षा और कानूनी पेशे को नियंत्रित करता है। 

LLB कोर्स के दौरान आपको कानून से जुड़े कई विषयों के बारे में पढाया जाता है।

LLB course की पढ़ाई करने के बाद आपको इंटर्नशिप (Internship) करनी पड़ती है, जिस दौरान आपको कोर्ट और वकील के कामों के बारे में सब कुछ सिखाया जाता है।

जैसे- किस तरह से दो वकील अपने-अपने पक्षों के लिए आपस में केस लड़ते है।

इंटर्नशिप पूरी होने के बाद आपको State Bar Council में पंजीकरण (registration) करना होता है।

नामांकन करने के बाद आपको All India Bar Examination clear करना होता है, जिसे Bar Council Of India (BCI) आयोजित करती है।

इस परीक्षा को क्लियर करने के बाद आपको प्रैक्टिस का Certificate मिल जाता है। इस तरह से आपकी एलएलबी की पढ़ाई पूरी होती है, और आप एक वकील बनते हैं।

12 वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता क्या हैं?

  • 12th में कम से कम 45% अंक होना चाहिए।
  • ग्रेजुएशन में 45% अंक होना चाहिए।
  • अधिकतम आयु निर्धारित नहीं क्या गया हैं।

12 वीं के बाद एलएलबी के लिए पात्रता

12वीं के बाद एलएलबी में दाखिले के लिए पात्रता में उम्मीदवार का बारहवीं बोर्ड परीक्षा में कम से कम 45% अंक होना अनिवार्य है। तथा ग्रेजुएशन में कम से कम 45% अंक होना चाहिए।

आयु सीमा की बात करें तो भारत में एलएलबी का कोर्स करने के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं है।

इन सबके अलावा एलएलबी में दाखिले के लिए जो सबसे मुख्य पात्रता हो जाती है, वह है इसके लिए आयोजित होने वाली Entrance Exam।

एक अच्छे सरकारी कॉलेज में LLB कोर्स में admission लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा देनी होती है, उम्मीदवार इस परीक्षा में तभी बैठ सकते हैं जब वे 12वीं पास हों अथवा उनके पास स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री हो। 

भारत में कानून की शिक्षा की बात आते ही सबसे पहला नाम नेशनल लॉ यूनिवर्सिटीज़ (NLUs) का ही आता है।

देश में 22 नेशनल लॉ यूनिवर्सटीज़ हैं, जिनमें एडमिशन पाना हर law aspirent का सपना होता है।

इन universities में CLAT के जरिये एडमिशन होता है। हर साल मई-जून में यह परीक्षा होती है। इस साल यानी 2021 के लिए CLAT 2021 कोविड के कारण स्थगित की गई थी।

NLU Consortium द्वारा CLAT का आयोजन किया जाता है। National Law University में एलएलबी (LLB), 5 साल के Integrated LLB Course के लिए 12वीं के बाद अप्लाई कर सकते हैं।

CLAT score के आधार पर एनएलयू के अलावा अन्य कई संस्थान भी एडमिशन देते हैं।

National Law University Delhi (NLU Delhi) में एडमिशन के लिए AILET ( All India law entrance test ) परीक्षा ली जाती है।

यह यूनिवर्सिटी 12वीं पास के लिए 5 साल का BA LLB programme ऑफर करती है। 

एनआईआरएफ रैंकिंग 2020 (NIRF Ranking) के अनुसार एनएलयू दिल्ली देश का दूसरा सबसे अच्छा लॉ college है।

इसके अलावा बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी भी BHU Law entrance test लेती है।

फिर अलग अलग राज्य भी स्टेट लेवल पर एलएलबी में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा लेती है जिसमें Maharashtra law entrance test आदि का नाम आता है।

हालांकि प्रवेश परीक्षा कोई जरूरी पात्रता नहीं होती, यदि आप प्रवेश परीक्षा पास नहीं करते तो भी प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेकर l.l.b. कर सकते हैं।

LLB प्रवेश परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

CLAT प्रवेश परीक्षा की बात करें तो इसे पास करने के लिए आपको इसके सिलेबस और exam pattern को अच्छे से समझना होगा।

CLAT एंट्रेंस एग्जाम में Legal Aptitude, Logical Reasoning, General Knowledge or Current Affairs, English Including    Comprehension और Elementary Math जैसे topics से प्रश्न पूछे जाते हैं।

परीक्षा के लिए आप 2-3 वर्ष के प्रश्न पत्रों को सोल्व करके देखें, रोज प्रैक्टिस और revision कर सकते हैं।

यह एग्जाम केवल english में होती है, सही आंसर देने पर 1 मार्क्स और गलत आंसर पर 0.25 मार्क्स काटे जाते हैं। 

इसलिए इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर अगर आप सही स्ट्रेटेजी बनाकर CLAT की तैयारी करेंगे तो आप इस प्रवेश परीक्षा को जरुर पास कर सकते हैं, जिसके बाद आपको किसी अच्छे Law कॉलेज में एडमिशन मिल जाएगा। 

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने बात की 12वीं के बाद एलएलबी में दाखिला लेने के लिए जरूरी पात्रताओं की।

12वीं के बाद एलएलबी 5 साल का कोर्स होता है, और एक अच्छे सरकारी लॉ कॉलेज में दाखिले के लिए कुछ general educational qualifications के साथ entrance exam पास करनी होती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.