सीटेट (CTET) की तैयारी कैसे करें? | CTET preparation kaise karein

दोस्तों वर्तमान समय में सबसे लोकप्रिय करियर विकल्पों में एक मुख्य नाम टीचिंग का भी आता है। 

डॉक्टर, इंजीनियर आदि के अलावा बहुत से विद्यार्थियों का लक्ष्य एक टीचर बनने का भी होता है। 

School में एक टीचर के तौर पर नियुक्त होने के लिए आपको शिक्षक पात्रता परीक्षा पास करनी होती है। 

Central Schools जैसे कि KVs, JNVs, DSSSB आदि में एक शिक्षक की नौकरी लेने के लिए आपको CTET की परीक्षा पास करनी होती है। 

जो भी उम्मीदवार इन विद्यालयों में शिक्षक की नौकरी लेना चाहते हैं वे CTET की तैयारी करते हैं, और CTET की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों की संख्या काफी बड़ी होती है। 

CTET देने की सोचने वाले उम्मीदवारों के मन में एक common सवाल रहता है कि CTET की तैयारी कैसे करें? 

CTET की तैयारी कैसे कर सकते हैं? CTET preparation कैसे करें?

सीटेट (CTET) की तैयारी कैसे करें?

यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर इसी पर चर्चा करेंगे। बात करेंगे कि CTET की तैयारी कैसे करें? सीटीईटी/सीटेट की तैयारी कैसे कर सकते हैं? 

यहां हम CTET की preparation के लिए सभी जरूरी tips को जानेंगे 

CTET के बारे में

CTET की तैयारी के बारे में बात करने से पहले हम CTET से संबंधित सभी जरूरी बातों को जान लेते हैं। 

CTET का पूरा नाम Central Teacher Eligibility Test (केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा) होता है। 

केंद्रीय विद्यालयों में सरकारी शिक्षकों की भर्ती के लिए हर साल शिक्षक पात्रता परीक्षा CTET Exam का आयोजन किया जाता है, जिसमें लाखों की संख्या में उम्मीदवार बैठते हैं। 

Central Schools में शिक्षक की नौकरी के लिए सीटेट पास करना अनिवार्य है। 

यह CBSE द्वारा आयोजित की जाती है। वहीं स्टेट गवर्नमेंट के अंतर्गत आने वाले स्कूलों का टीचर बनने के लिए TET देना होता है।

CTET exams 2 levels के लिए आयोजित की जाती है। इस परीक्षा का पहला paper प्राथमिक स्‍तर का होता है, इसे class 1St से 5th तक के बच्‍चों को पढ़ाने का टीचर बनने के लिए देना होता है। 

वहीं, दूसरा पेपर उच्च स्‍तर के प्राथमिक कक्षाओं के लिए होता है।  

इसमें सफल होने वाले उम्‍मीदवार कक्षा 6 से 8वीं तक के छात्रों को पढ़ाने वाले टीचर बन सकते हैं। CTET exam के जरिए शिक्षकों की योग्यता का आंकलन किया जाता है।

इस साल भी CTET exam का आयोजन जुलाई में किया जाना है, हालांकि अभी तक बोर्ड की ओर से official dates आदि की घोषणा नहीं की गई है। 

बोर्ड की ओर से सीटीईटी परीक्षा से जुड़ा नोटिफिकेशन जल्द ही इसकी official website, ctet.nic.in पर जारी कर दिया जाएगा।

CTET की तैयारी कैसे करें?

अब बात करते हैं कि विद्यार्थी सीटेट परीक्षा की तैयारी कैसे कर सकते हैं, सीटेट की तैयारी करने के लिए उम्मीदवारों को किन जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए – 

  • CTET के Syllabus और exam pattern को अच्छे से समझें
  • सही books का चुनाव करें
  • नियमित तौर पर पढ़ाई करें
  • सही books को पढ़ें 
  • CTET previous year questions solve करें
  • Mock test दें
  • आदि।

CTET के Syllabus और exam pattern को अच्छे से समझें

CTET की सही प्रिपरेशन के लिए सबसे जरूरी है कि आपको इसके सिलेबस और एग्जाम पैटर्न की सही जानकारी हो। 

CTET syllabus 2022 की जानकारी विद्यार्थी यहां से प्राप्त कर सकते हैं। 

सिलेबस और एग्जाम पैटर्न को अच्छे से समझ लेने के बाद आपको आइडिया मिल जाएगा कि आपको क्या-क्या topics पढ़नी है और किस तरह से पढ़नी हैं। 

Syllabus को ही follow करें, इसके अलावा कोई नए टॉपिक्स ना पढ़ें, इससे आप सिर्फ अपना समय ही बर्बाद करेंगे।

सही books का चुनाव करें

सीटेट ही नहीं बल्कि किसी भी और परीक्षा के लिए भी सही किताबों का चुनाव करना जरूरी होता है। 

सीटेट की तैयारी में जो चीजें पढ़ने होती है उन्हें आप NCF, NFGP, NCERT books से पढ़ सकते हैं, इसीलिए इन किताबों को आपको अच्छे से पढ़ना चाहिए। 

इनके अलावा भी CTET preparation के लिए और कई सारी बुक्स अवेलेबल हैं, इसके लिए मार्केट में उपलब्ध जो भी सबसे लोकप्रिय books हैं, उम्मीदवारों को उन्हें सही से पढ़ना चाहिए।

नियमित तौर पर पढ़ाई करें

CTET की सही से तैयारी करने के लिए नियमित तौर पर पढ़ाई करना जरूरी है। 

Regular study से आसानी से आप पर्याप्त समय में पूरे सिलेबस को cover कर पाएंगे और बचे हुए समय में revision आदि करके इसकी और अच्छे से तैयारी कर पाएंगे। 

Regular study करने पर आप CTET की तैयारी आप बिना किसी समस्या के कर लेंगे। 

Routine बनाकर पढ़ने से पूरे सिलेबस के हर portion को आप उसका पर्याप्त समय दे पाएंगे जिससे आप CTET में आसानी से सफल हो पाएंगे।

CTET previous year questions solve करें

सीटेट की परीक्षा में बैठने से पहले सिलेबस की अच्छे से पढ़ाई कर लेने के साथ-साथ CTET previous year questions solve करना भी आपकी परीक्षा के लिए काफी फायदेमंद होता है। 

previous year questions solve करने से आपको, इस परीक्षा में किस तरह से प्रश्न आते हैं या इस बार किस तरह के प्रश्न आ सकते हैं इसकी जानकारी मिलती है। 

इसलिए पेपर में बैठने से पहले सीटेट के पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को सॉल्व कर लेना जरूरी हो जाता है।

Mock test दें

परीक्षा के कुछ दिन पहले से आपको CTET का mock test भी देना चाहिए। 

मॉक टेस्ट आप ऑनलाइन या ऑफलाइन भी दे सकते हैं, हालांकि आजकल ऑनलाइन ज्यादा चलन में है।  

इसमें आपको बिल्कुल परीक्षा की ही तरह एक निर्धारित समय में उसी तरह के प्रश्नों को हल करना होता है। 

मॉक टेस्ट देने से आपको एक तरह से एग्जाम का रियल एक्सपीरियंस मिलता है। 

तो CTET की तैयारी के लिए, यह सारी कुछ जरूरी बातें हैं जिनका विद्यार्थियों को ध्यान रखना चाहिए। 

इसके अलावा अन्य कुछ बातें भी हैं, जैसे CTET में नेगेटिव मार्किंग नहीं होती इसीलिए हर प्रश्न को अटेंड करना ही चाहिए। 

किसी भी एक प्रश्न पर बहुत ज्यादा समय नहीं देना चाहिए, और यदि आपके पास समय बचता है तो आप एक बार अपने पेपर को recheck भी कर सकते हैं। 

इसके अलावा सीटेट से संबंधित दूसरी किसी जानकारी जैसे CTET के लिए योग्यता आदि की जानकारी उम्मीदवार यहां से ले सकते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए आर्टिकल में हमने सीटेट की तैयारी के लिए कुछ जरूरी बातों को जाना है। 

जो उम्मीदवार केंद्रीय स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए सीटेट की प्रिपरेशन करते हैं, उन्हें इन सभी जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए। 

इस लेख में हमने CTET से संबंधित और इसकी तैयारी से संबंधित जरूरी बातें को जाना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.