बीपीएससी सिलेबस 2022 | BPSC syllabus In Hindi

इस आर्टिकल में हम BPSC syllabus 2022 के बारे में बात करेंगे।

प्रशासनिक सेवा में जाना बहुत से विद्यार्थियों का सपना होता है, civil Services की बात करने पर ज्यादातर विद्यार्थियों के मन में UPSC का ही नाम आता है।

पर अलग-अलग राज्यों में state public service commission भी होते हैं, इनके माध्यम से उस राज्य में Sub Divisional Officer, Rural Development Officer, District Sanapark Officer और दूसरे  PCS level Officers की नियुक्ति होती है।

यहां हम BPSC यानी Bihar public service commission (बिहार लोक सेवा आयोग) की बात कर रहे हैं।

बिहार राज्य में PCS level Officers की नौकरी लेने के लिए हर साल बहुत बड़ी संख्या में विद्यार्थी BPSC की तैयारी करते हैं।

BPSC syllabus 2022

परीक्षा में सफल होने के लिए उम्मीदवारों को BPSC syllabus 2022 की पूरी जानकारी होना जरूरी है।

यहां हम BPSC syllabus 2022 के बारे में ही विस्तार से जानेंगे। बीपीएससी की परीक्षा कैसी होती है, इसका एग्जाम पैटर्न क्या होता है, आदि के साथ साथ हम BPSC के सिलेबस को अच्छे से समझेंगे।

अगर आप बिहार police में जाना चाहते है तो जानए की बिहार पुलिस का फॉर्म कब निकलेगा

BPSC syllabus in hindi

बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा हर साल PCS level के ऑफिसरो की नियुक्ति के लिए BPSC exam कंडक्ट करता है।

सिलेबस के बारे में बात करने से पहले BPSC परीक्षा की पूरी जानकारी होना जरूरी है।

UPSC की ही तरह बीपीएससी की परीक्षा में भी तीन चरण शामिल होते हैं। इसमें –

  • BPSC prelims
  • BPSC mains
  • Interview

ये 3 चरण होते हैं। जाहिर है सबसे पहले विद्यार्थी BPSC prelims में बैठते हैं, prelims में पास करने वाले विद्यार्थियों को ही BPSC mains में बैठने के लिए अनुमति होती है।

और सबसे अंत में इंटरव्यू लिया जाता है। और उसके बाद मेरिट लिस्ट बनने की जो निर्धारित प्रक्रिया होती है, उसे follow करते हुए उम्मीदवारों का सिलेक्शन किया जाता है।

अब हम एक-एक करके बीपीएससी प्रीलिम्स और बीपीएससी मैंस (BPSC prelims and BPSC mains) के सिलेबस की बात कर लेते हैं।

BPSC prelims syllabus in hindi

बीपीएससी प्रीलिम्स ही इस परीक्षा का पहला चरण होता है।

BPSC prelims qualifying nature का होता है, इसका मतलब है कि इसमें अंक ज्यादा मायने नहीं रखते।

बस आपको यह परीक्षा क्वालीफाई करनी होती है और उसके बाद ही आप मेंस में बैठ सकते हैं।

अलग अलग वर्ग के उम्मीदवारों के हिसाब से क्वालीफाइंग कट ऑफ मार्क्स अलग अलग हो सकता है।

इस prelims परीक्षा में लाए गए अंक फाइनल मेरिट लिस्ट बनाते वक्त नहीं गिने जाते हैं।

BPSC prelims exam pattern

Prelims paper के एग्जाम पैटर्न की बात करें तो इसमें उम्मीदवारों को एक पेपर ही देना होता है जो कि general studies का होता है।

Prelims पेपर के लिए उम्मीदवार को कुल 2 घंटे का समय दिया जाता है।

इसमें कुल 150 अंको के 150 प्रश्न पूछे जाते हैं। सारे प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के यानी objective type के रहते हैं।

इस बीपीएससी प्रीलिम्स एग्जाम में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है, इसमें उम्मीदवारों को ऑफलाइन ही पेन पेपर मोड में परीक्षा देनी होती है।

प्रश्न हिंदी और इंग्लिश दोनों में होते हैं सिर्फ उन प्रश्नों को छोड़कर जो उम्मीदवारों की इंग्लिश की नॉलेज परखने के लिए रहते हैं।

BPSC prelims syllabus in hindi

  • General Science
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के मुख्य Events
  • History of Bihar और Indian History
  • Geography (मुख्यतः Geography of Bihar)
  • Indian Polity and Economy
  • Changes in the economy of Bihar post-independence
  • Indian National Movement and the Role of Bihar
  • General Mental Ability

BPSC prelims paper में निम्नलिखित topics से ही प्रश्न रहते हैं।

यह general studies का ही paper होता है। हिस्ट्री, ज्योग्राफी और जनरल साइंस के अंतर्गत कई चीजें आ जाती है।

इसमें आने वाले ज्यादातर टॉपिक्स बिहार से ही संबंधित रहते हैं।

इसके अलावा current affairs आदि से भी प्रश्न रहते ही हैं, और खासकर बिहार राज्य से संबंधित प्रश्न रहते हैं।

BPSC mains syllabus in hindi

BPSC Prelims पास करने के बाद उम्मीदवारों को BPSC mains के लिए बुलाया जाता है।

BPSC mains को ही मुख्य लिखित परीक्षा कहा जा सकता है।

क्योंकि सबसे ज्यादा इसी परीक्षा के अंक मायने रखते हैं।

बीपीएससी की तैयारी कर रहे हैं उम्मीदवारों को सबसे ज्यादा बीपीएससी मेंस की तैयारी करनी होती है।

BPSC mains exam pattern

BPSC mains परीक्षा में उम्मीदवारों को कुल मिलाकर 4 पेपर देने होते हैं। इसमें से पहला paper General Hindi का होता है।

इसके अलावा general studies paper 1 और General studies paper 2 के paper होते हैं। और इसके बाद एक ऑप्शनल पेपर देना होता है।

ऑप्शनल पेपर में उम्मीदवारों को लगभग 34 से भी ज्यादा वैकल्पिक विषय में से किसी एक का चुनाव करना होता है जो वे अपने अनुसार चुन सकते हैं।

mains परीक्षा में general Hindi का syllabus 100 अंको का, और बाकी तीनों पेपर 300-300 अंको के होते हैं।

बीपीएससी मेंस की परीक्षा वर्णनात्मक यानी descriptive type होती है।

इसमें विद्यार्थियों को बड़े आंसर लिखने होते हैं। जनरल हिंदी का पेपर क्वालीफाइंग नेचर का होता है इसमें सिर्फ 30% अंक लाने होते हैं।

फाइनल रिजल्ट में general studies paper 1, General studies paper 2 और optional subject/paper के 300+300+300 = 900 अंक ही गिने जाते हैं।

इस परीक्षा के बाद जिन उम्मीदवारों का मेरिट लिस्ट में नाम आता है, उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। 

BPSC mains syllabus in hindi

General Hindi

यह पेपर क्वालीफाई नेचर का होता है और इसका स्तर Bihari school education board के स्तर का ही रहता है। यह कुल 100 अंको का होता है, इसमें –

  • हिंदी निबंध 30 Marks का
  • हिंदी Grammar  30 Marks का
  • Syntax 25 Marks का
  • Summarisation 15 Marks का

रहता है। हिंदी के किसी भी अच्छे सामान्य बुक से इस पेपर की अच्छी तैयारी की जा सकती है।

General studies paper 1

इस पेपर में मुख्य तौर पर निम्नलिखित topics included होते हैं –

  • Indian Culture
  • Modern History of India
  • Contemporary events of national and international importance
  • Statistical Analysis
  • diagrams and graphs
  • आदि

Prelims और उसके बाद Hindi general क्वालीफाइंग नेचर का होता है।

तो मेंस में सबसे पहला और सबसे मुख्य पेपर यही हो जाता है।

इस पेपर की उम्मीदवारों को बहुत अच्छे से तैयारी करनी चाहिए।

इसमें ऊपर दिए गए टॉपिक्स से प्रश्न रहते हैं। इसमें अच्छा स्कोर करना जरूरी हो जाता है।

दरोगा का फॉर्म कब निकलेगा, जानने के लिए Click करें।

General studies paper 2

इस पेपर में मुख्य तौर पर निम्नलिखित टॉपिक्स इंक्लूडेड रहते हैं –

  • Indian (and Bihar) Polity
  • Indian (and Bihar) Economy
  • Indian (and Bihar) Geography
  • Role and impact of Science and Technology in the development of India (and Bihar)
  • आदि

General studies paper 2 में निम्नलिखित टॉपिक से प्रश्न रहते हैं।

यह भी बहुत महत्वपूर्ण पेपर हो जाता है। इसकी भी बहुत अच्छे से तैयारी जरूरी होती है। 

Optional paper/subject

  1. Chemistry
  2. Sociology
  3. Physics
  4. Agriculture
  5. Statistics
  6. Botany
  7. English Language and Literature
  8. Urdu Language and Literature
  9. Hindi Language and Literature
  10. Persian Language and Literature
  11. Arabic Language and Literature
  12. Pali Language and Literature
  13. Maithili Language and Literature
  14. Bangla Language and Literature
  15. Sanskrit Language and Literature
  16. Zoology
  17. Philosophy
  18. Political Science and International Relations
  19. Psychology
  20. Public Administration
  21. Labour and Social Welfare
  22. Geology
  23. History
  24. Law
  25. Civil Engineering
  26. Economics
  27. Commerce and Accountancy
  28. Management
  29. Mathematics
  30. Mechanical Engineering
  31. Geography
  32. Electrical Engineering
  33. Animal Husbandry and Veterinary Science
  34. Anthropology

कुल मिलाकर इतने सारे विषयों में से उम्मीदवारों को किसी एक ऑप्शनल सब्जेक्ट का चुनाव करना होता है।

वैकल्पिक विषय का चुनाव विद्यार्थी अपने अनुसार करेंगे जिस भी सब्जेक्ट में वह अच्छे हों।

यह भी कुल 300 अंकों का होता है, और इसके अंक भी गिने जाते हैं।

प्रश्न पत्र में इन सभी विषयों से संबंधित general topics से ही प्रश्न पूछे जाते हैं।

NDA की तैयारी करने वाले Student जाने की NDA का नया NDA syllabus in hindi क्या है, क्या क्या बदलाव क्या गया है।

BPSC interview syllabus in hindi

Prelims और मेंस दोनों पास करने वाले उम्मीदवारों को ही इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

कमीशन द्वारा अप्वॉइंट किए गए बोर्ड के मेंबर्स इंटरव्यू लेते हैं, जो कि पूर्व ऑफिसर ही होते हैं।

इंटरव्यू में खास तौर पर बिहार से संबंधित या इसके अलावा दूसरे कई विषयों से प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

इंटरव्यू का मुख्य उद्देश्य उम्मीदवार की पर्सनालिटी और कम्युनिकेशन स्किल आदि की जांच करना ही होता है। इसका कोई एक निर्धारित सिलेबस नहीं होता। 

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने BPSC syllabus in hindi के बारे में बात की है।

State public service commission में BPSC एक प्रतिष्ठित नाम है, बहुत बड़ी संख्या में युवा बीपीएससी की परीक्षा की तैयारी करते हैं।

यूपीएससी की परीक्षा में सफल होने के लिए यह जरूरी है कि उम्मीदवारों को इसके सिलेबस की पूरी सही जानकारी हो।

यहां हमने बीपीएससी परीक्षा के तीनों चरणों और उसके सिलेबस के बारे में बात की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.