बीसीए (B.CA) में कितने विषय होते हैं? | B.CA Subject

बीसीए में कितने विषय होते हैं? बीसीए के कोर्स में कौन-कौन से विषय पढ़ने होते हैं? Bachelor of computer application कोर्स में कितने subjects होते हैं? BCA के कोर्स से संबंधित इस तरह के सवाल BCA करने वाले बहुत से विद्यार्थियों के मन में आते हैं।

12वीं के बाद विद्यार्थी अपने करियर को ध्यान में रखकर अलग-अलग courses में से चुनाव करते हैं, जिन विद्यार्थियों की कंप्यूटर में रुचि होती है और वह इसी में आगे करियर बनाना चाहते हैं, वे BCA यानी bachelor of computer application का कोर्स चुनते हैं।

BCA course चुनने की सोचने वाले बहुत से विद्यार्थियों को इसकी पूरी जानकारी नहीं होती कि (bca me kitne subject hote hain) बीसीए में कुल कितने विषय पढ़ने होते हैं?, कॉलेज के दोरान कितना खर्च होता है या बीसीए की फ़ीस कितनी है?

आज यहां इस लेख में हम मुख्यतः इसी की बात करेंगे कि बीसीए के कोर्स में कितने subjects होते हैं।

बीसीए (B.CA) में कितने विषय होते हैं?

विद्यार्थि कम्प्यूटर के क्षेत्र मे अपनी रुची रखते है, और जिन्हे Engineering से सम्बन्धित ऐसा कोई कोर्स करना हो, जो कम्प्यूटर से सम्बन्धित हो, तो BCA डिप्लोमा कोर्स उनके करियर के लिए सही रहता है। इसकी मान्यता गवर्नमेंट और प्राइवेट नौकरी मे भी है।

यह एक 3 वर्ष की अवधि का कोर्स है जिसे आप कंप्यूटर में ग्रेजुएशन कह सकते हैं।

आज के समय में IT Sector में इस डिप्लोमा कोर्स की मॉग दिन प्रतिदिन बढती जा रही है। BCA कोर्स में आपको software बनाना, website बनाना और design करना आदि इन्हीं सभी चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है।

BCA के Subjects

BCA course में आपको computer languages, coding, networking, operating system और Data Structure जैसे विषयों के बारे में पढ़ना होता है।

वैसे तो BCA में बहुत सारे सब्जेक्ट होतें है, लेकिन students ज्यादातर उन्हीं विषयों की पढाई करते हैं, जिनकी आज के समय में ज्यादा मांग है और जिनसे वे एक अच्छी नौकरी पा सके।

इन विषयों में

  • C language
  • c++
  • Programming language
  • database management system
  • Maths, Discrete physics
  • Operating system
  • English
  • computer organisation
  • Ms office आदि जैसे subjects आते हैं।

कंप्यूटर के क्षेत्र में इन सारे विषयों की ही अच्छी जानकारी होने पर विद्यार्थी अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

1. C language

कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सबसे महत्वपूर्ण विषयों में होता है। कंप्यूटर के माध्यम से कोडिंग करना आज के समय की सबसे बड़ी जरूरतों में से है।

अलग-अलग softwares के लिए कोडिंग करने की जरूरत होती है और यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के जरिए ही होता है।

C language कंप्यूटर में एक लो लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिससे हम बेसिक कंप्यूटर कोड लिखना और उससे सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट करना सीखते हैं। इससे हम code के द्वारा कुछ instruction को देकर बदले में उसका result देख सकते हैं।

2. Database management system

इसे short form में DBMS कहा जाता है। बेसिकली डाटा बेस मैनेजमेंट सिस्टम में हमें यह सिखाया जाता है की डेटा को किस तरह से अरेंज और मेंटेन करके रखा जाना चाहिए।

बड़ी-बड़ी कंपनियों या बड़े संस्थान जैसे कि हॉस्पिटल या बैंक आदि में बहुत सारी जानकारी कंप्यूटर में होती है, उन सभी डेटा को मेंटेन करके रखना आसान नहीं होता उसके लिए अच्छा डाटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम चाहिए होता है।

Database management system के उदाहरण में, आपने oracle का नाम सुना होगा जिसके माध्यम से data को आसानी से manage किया जा सकता है।

3. C++

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में c++ का नाम काफी लोगों ने सुना होगा। C++ language एक basic प्रोग्रामिंग लैंग्वेज होता है जिसके इस्तेमाल से कॉलिंग करके सॉफ्टवेयर develop किए जा सकते हैं।

c++ एक free from language होती है और मुख्य तौर पर इसका इस्तेमाल games और operating systems आदि बनाने के लिए किया जाता है।

4. Physics

बीसीए कोर्स के अंतर्गत फिजिक्स में आपको मुख्य तौर पर सिर्फ logic gate और gate market आदि के बारे में ही पढ़ना होता है। यह सारी चीजें कंप्यूटर से संबंधित होती है।

अलग-अलग logic गेट्स के इस्तेमाल से screens पर 0-9 नंबर दर्शाए जाते हैं। Logic gates उनका truth table आदि के बारे में ही इसमें पढ़ना होता है।

5. Basic mathematics

कंप्यूटर की पढ़ाई में भी बेसिक मैथमेटिक्स कि अच्छे से जानकारी होना जरूरी है। Computer में भी बेसिक मैथमेटिकल ऑपरेशंस करने होते हैं, इसमें 12th का पूरा maths पढ़ाया जाता है।

6. Operating system

operating system के विषय में हमें computer के hardware और software के बारे में पूरी जानकारी दी जाती है, इसमें हमें microsoft office के बारे में भी पूरी तरह से जानकारी दी जाती है।

7. Multimedia

कंप्यूटर की पढ़ाई में तो मल्टीमीडिया के बारे में जानना अनिवार्य ही है। Multimedia में आपको photoshop और coreldraw आदि के बारे में बताया जाता है।

किसी फोटो का बैकग्राउंड कैसे हटाते हैं, photo edit करना, शादी का कार्ड बनाना, मैन्यू कार्ड बनाना, Design बनाना, logo designing आदि जैसी चीजें सिखाई जाती है।

8. General English

English language में हमें basic grammar और इस तरह की चीजों के बारे में बताया जाता है। इंग्लिश का इस्तेमाल कम्युनिकेशन और लेटर आदि लिखने के लिए किया जाता है, कंप्यूटर की पढ़ाई में भी इन सब की पढ़ाई करनी जरूरी होती है।

BCA Course में Semester Wise Subjects

Bachelor of computer application का कोर्स 3 वर्ष की अवधि का होता है जिसमें कुल 6 सेमेस्टर होते हैं। हर सेमेस्टर में आपको अलग-अलग विषयों के अलग-अलग topics के बारे में पढ़ना होता है।

BCA Subjects 1st Year

Semester 1

  • Computer Fundamental and Office Automation
  • Business Communication
  • Principles Of Management
  • Programming Principles and Algorithms
  • Computer Laboratory and Practical Work(OA+PPA)
  • Business Accounting

semester 2

  • Elements of Statistics
  • Cost Accounting
  • Computer Laboratory and Practical work (C.P + DBMS)
  • C Programming
  • Organizational Behaviour
  • File Structure and Database Concepts

BCA Subjects 2nd Year

semester 3

  • RDBMS
  • A computer Laboratory and Practical Work (D.s + RDBMS)
  • Software Engineering
  • Numerical Method
  • Data Structure using C
  • Management Accounting

semester 4

  • Visual Basic
  • Inventory Management(SAD)
  • Object-Oriented Programming using c++
  • Human Resource Management
  • Computer Laboratory and Practical work (VB+ C++)
  • Networking

BCA Subjects 3rd Year

semester 5

  • Project Work (VB)
  • Principals of Marketing
  • NET Frameworks
  • Computer Laboratory & Practical Work(NET + Core Java)
  • Internet Programming and Cyber Law
  • Core Java

Semester 6

  • Multimedia Systems
  • Advance Java
  • E-Commerce
  • Computer Laboratory & Practical Work(Multimedia + Advanced Java)
  • Introduction to System Pro & Operating System
  • Project Work( Banking & Finance, Cost Analysis, Financial Analysis, EDP, Payroll, ERP)

Leave a Comment

Your email address will not be published.