LLM के बाद क्या करें? | What to do after LLM

दोस्तों भारत में आज के समय में law field career का एक बहुत ही महत्वपूर्ण क्षेत्र है। 

कानून के क्षेत्र में एक अच्छा शरीर बनाने के लिए विद्यार्थियों के पास कई सारे विकल्प होते हैं। 

कानून की पढ़ाई की बात करें तो इसमें सबसे कॉमन नाम आपने LLB का सुना होगा। पर जो विद्यार्थी इसी क्षेत्र में आगे और बेहतर करियर बनाना चाहते हैं वे LLB के बाद practice शुरू न करके LLM course के लिए जाते हैं।

यह law में master’s की degree होती है और इसके बाद विद्यार्थियों के लिए law क्षेत्र में करियर के कई अच्छे विकल्प खुलते हैं। 

LLM के बाद क्या करें?

इस आर्टिकल में हम LLM के बाद क्या करें? इस विषय पर जानकारी प्राप्त करेंगे। 

विद्यार्थी LLM के बाद क्या करें, LLM के बाद career wise उनके पास क्या विकल्प रहते हैं, LLM के बाद सरकारी और प्राइवेट नौकरी के क्या ऑप्शन रहते हैं, इन सभी के बारे में यहां हम जानकारी लेंगे।

LLM के बाद क्या करें?

LLM पूरी कर लेने के बाद विद्यार्थी निम्नलिखित job profiles में जा सकते हैं –

  • Judge
  • Legal Advisor
  • Advocate (civil advocate, tax advocate,  corporate lawyer, international lawyer etc.)
  • Professor/Lecturer/Law teacher
  • etc.

ये कुछ सबसे popular क्षेत्र हैं, जहां एल एल एम किए हुए उम्मीदवारों के लिए नौकरी के अवसर रहते हैं।

  • Law Firms
  • Corporate
  • Finance
  • Media and Publishing Houses
  • NGO
  • Courthouses
  • Consulting Bodies
  • Real Estate
  • Un and UNICEF International Organizations

LLM करने के बाद विद्यार्थी नौकरी के लिए ही जाते हैं। हमने ऊपर जो कुछ मुख्य job profiles की बात की है ज्यादातर विद्यार्थी LLM के बाद उन्हीं में से किसी एक की तरफ़ जाते हैं।

Judge

Judge का position law field के सबसे प्रतिष्ठित पदों में  होता है। LLM करने के बाद विद्यार्थी जिला स्तरीय कोर्ट और फिर हाई कोर्ट आदि में भी जज बन सकते हैं। 

हालांकि इसके लिए सिर्फ LLM की डिग्री काफी नहीं होती है। एक जज बनने के लिए आपको पहले वकील के तौर पर कुछ निर्धारित सालों का अनुभव होना जरूरी है। 

सामान्यतः आप पहले वकील के तौर पर प्रैक्टिस करते हैं और उसके बाद जज बनते हैं। 

आप जितने ऊंचे पद के जज बनेंगे उसके लिए आपको उतना ही ज्यादा अनुभव होना चाहिए। 

Legal Advisor

आसान भाषा में एक लीगल एडवाइजर का काम clients यानी कि लोगों को ही लीगल एडवाइस यानी कानूनी सलाह देने का होता है। 

कानून और कोर्ट से संबंधित कई ऐसी चीजें होती हैं जिनकी लोगों को जानकारी नहीं होती ऐसे में वे एक legal Advisor के पास ही जाते हैं। 

आज के समय में एक लीगल एडवाइजर के तौर पर आप एक बेहतरीन करियर बना सकते हैं। 

एलएलएम करने के बाद Legal Advisor एक बहुत ही अच्छा जॉब प्रोफाइल है।

Advocate

(civil advocate, tax advocate,  corporate lawyer, international lawyer etc.)

सीधे-सीधे, इसे ही वकील कहते हैं। 

अब जब हम एडवोकेट क्या देते हैं तो इसमें सारे अलग-अलग तरह के एडवोकेट आ जाते हैं। 

सिविल एडवोकेट, टैक्स एडवोकेट, कॉरपोरेट लॉयर आदि होते सब वकील ही है बस उनका क्षेत्र अलग अलग होता है। 

उन्होंने कानून के अंतर्गत जिस subject की पढ़ाई की होती है वे उसी के वकील बनते हैं। 

यह सभी अलग-अलग क्षेत्र अपने आप में बहुत vast होते हैं, इसीलिए इनके expert advocates की मांग बहुत रहती है।

Professor/Lecturer/Law teacher

Law में teaching में भी career बनाना बहुत अच्छा विकल्प है। यदि आपकी पढ़ाने में रुचि है तो आप LLM के बाद teaching के लिए भी जा सकते हैं। 

आप कॉलेज/university में अपने लॉ के विषय के टीचर बन सकते हैं। टीचर बनने के लिए हो सकता है आपको कुछ परीक्षाओं आदि को पास करना पड़े। 

अच्छा कॉलेजो में प्रोफेसरों की सैलरी आदि भी काफी अच्छी खासी रहती है।

LLM के बाद Govt. Jobs

सरकारी नौकरी हमेशा से ज्यादातर विद्यार्थियों की preference रहती है। 

LLM किए हुए विद्यार्थियों के लिए सरकारी नौकरियों के बहुत सारे विकल्प रहते हैं। LLM के बाद के मुख्य सरकारी नौकरियों में निम्नलिखित कुछ नाम सबसे मुख्य हैं –

  • Law Clerk
  • Law Assistant
  • Legal Researcher
  • Civil Judge
  • Legal Officer
  • Public Prosecutor
  • Guest Faculty

हालांकि सरकारी नौकरियों के लिए आपकी LLM की डिग्री ही काफी नहीं होती, इसके लिए आपको उनके लिए आयोजित परीक्षा में पास करना जरूरी होता है। 

समय-समय पर इन पदों पर भर्ती के लिए परीक्षाएं आयोजित होती है आप इन परीक्षाओं में बैठ कर इन्हें पास करके अपनी इच्छा, योग्यता और विषय आदि के आधार पर इन सरकारी नौकरियों में से किसी को प्राप्त कर सकते हैं।

LLM के बाद Private Jobs

पर सरकारी नौकरियों के लिए सीट लिमिटेड होती है, ऐसे में जिन्हें सरकारी नौकरी नहीं मिल पाती है उनके लिए Private Jobs भी काफी अच्छे हैं। 

  • Khaitan & Co
  • Luthra and Luthra
  • Cyril Amarchand Mangaldas
  • S&R Associates
  • AZB & Partners

ये कुछ top private law firms के नाम हैं जहां LLM किए हुए उम्मीदवार प्राइवेट नौकरी कर सकते हैं। 

हालांकि इनके अलावा और भी कई प्राइवेट firms और भी अन्य companies हैं जहां LLM graduate प्राइवेट नौकरी कर सकते हैं। 

इन प्राइवेट नौकरियों में उम्मीदवारों की सैलरी आदि भी अच्छी खासी होती है।

इन्हें भी पढ़ें

LLM के बाद higher studies ?

अब कई विद्यार्थियों के मन में यह सवाल भी आ सकता है LLM करने के बाद हायर स्टडीज यानी उच्च शिक्षा के क्या विकल्प रहते हैं। 

LLM करने के बाद विद्यार्थी नौकरी के लिए ही जाते हैं, law में master’s की degree ले लेने के बाद उम्मीदवार के पास इतनी योग्यता आ जाती है कि वह अपने संबंधित क्षेत्र में अपनी रुचि के काम में practice शुरू कर सकते हैं। 

LLM पूरा करने के बाद आप सरकारी या प्राइवेट नौकरी कर सकते हैं। हमने ऊपर जिन भी job profiles की बात की है आप उनमें से किसी में भी LLM के बाद एक अच्छा करियर बना सकते हैं।

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने LLM के बाद क्या करें इसके बारे में बात की है। यहां हमने LLM के बाद के मुख्य job profiles, सरकारी और प्राइवेट नौकरी के बारे में जानकारी दी है। 

हम उम्मीद करते हैं कि यह जानकारी आपके लिए सहायक रहेगी। इससे संबंधित प्रश्न आदि हो तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *