REET का पेपर कैसा होता है? | REET ka paper kaisa hota hai

इस आर्टिकल में हम REET एग्जाम के बारे में बात करेंगे। 

टीचर बनने के लिए होने वाली परीक्षाओं में REET एक मुख्य नाम है, राजस्थान राज्य में टीचर बनने के लिए ये REET की परीक्षा ही पास करनी होती है। 

रीट की परीक्षा राजस्थान राज्य में राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (BSER) द्वारा प्रतिवर्ष आयोजित की जाती है, जिसमें बहुत बड़ी संख्या में विद्यार्थी शामिल होते हैं। 

बहुत बड़ी संख्या में विद्यार्थी REET की तैयारी करते हैं, और इसमें सफल होने के लिए यह जरूरी है कि विद्यार्थियों को इस परीक्षा से संबंधित सारी जानकारी हो। 

REET की preparation करने वाले विद्यार्थियों के मन में इस परीक्षा से संबंधित कई सारे प्रश्न रहते हैं। 

यह सवाल भी बहुतों के मन में रहता है कि REET का paper कैसा होता है? या REET exam कैसा होता है?

यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर इसी के बारे में विस्तार से बात करेंगे। 

REET का पेपर कैसा होता है?

REET की परीक्षा से संबंधित सभी जरूरी जानकारी लेंगे। 

रीट का पेपर कैसा होता है? इसमें किन subjects, किन topics से और कैसे क्वेश्चन आते हैं? क्वेश्चंस का स्तर कैसा रहता है? इन सभी के बारे में अच्छे से चर्चा करेंगे।

REET का paper कैसा होता है?

REET के paper के बारे में बात करने से पहले इस परीक्षा की पूरी जानकारी लेते हैं। 

इसका full form Rajasthan Eligibility Examination for Teachers है। 

इसका हिंदी में नाम राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा है। 

REET राजस्थान राज्य में 3rd grade टीचरों की भर्ती के लिए ली जाने वाली परीक्षा होती है। 

राजस्थान में teachers के 3 grades में, First grade teacher कक्षा बारहवीं तक को पढ़ते हैं, 2nd grade teacher दसवीं तक को पढ़ाते हैं और 3rd grade teacher आठवीं तक पढ़ाते हैं।

इन 3rd grade teachers की भर्ती के लिए ही REET की परीक्षा पास करनी होती है। 

REET की परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवार ही राजस्थान में Government schools में 3rd grade teachers की नौकरी प्राप्त करते हैं। 

REET exam माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान अजमेर द्वारा करवाई जाती है। 

Rajasthan में हर साल इन टीचरों की भर्ती के लिए रीड की परीक्षा आयोजित करवाए जाने का प्रावधान है। 

अब REET परीक्षा की बात करते हैं। 

इस REET की परीक्षा में दो levels पर परीक्षा आयोजित होती है, REET level 1 और REET level 2. Level 1 परीक्षा कक्षा 1 से 5वीं तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने (प्राथमिक शिक्षकों) के लिए होती है, और Level 2 कक्षा 6वीं से 8वीं तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने (उच्च प्राथमिक शिक्षकों) के लिए होती है। 

यानी REET में दो paper होते हैं, यदि आपको प्राथमिक शिक्षक बनना है तो आप level-1 पेपर देंगे और उच्च प्राथमिक शिक्षक बनना है तो level 2 paper. 

REET paper का स्तर

REET exam में बैठने के लिए उम्मीदवार के पास शैक्षणिक योग्यता में, BSTC, d.el.ed, b.Ed आदि में से कोई डिग्री होनी चाहिए डिपेंडिंग कि आप किस टीचर पद के लिए जाना चाहते हैं। 

इसीलिए रीट परीक्षा के पेपर का स्तर भी इसी के हिसाब से रहता है। 

REET level 1 और level 2 दोनों में थोड़े अलग अलग विषयों से किंतु कुल मिलाकर पांच विषयों से 30-30 अंक के हिसाब से 150 अंकों के 150 प्रश्न रहते हैं। 

REET एक काफी लोकप्रिय परीक्षा है, इसीलिए इस परीक्षा में प्रश्न का स्तर काफी अच्छा ही रहता है। 

हर paper के अपने विषयों का अपना सिलेबस होता है, जिसके बारे में हम आगे बात करते हैं।

REET level 1 paper कैसा होता है?

REET Level 1 Exam में 

  • Child Development & Pedagogy, 
  • Mathematics
  • Language-1
  • Language-2
  • Environmental Science 

विषय होते हैं। पांचों विषयों से 30-30 प्रश्न रहते हैं। 

कुल 150 प्रश्न होते हैं, जिसके लिए कुल अंक भी 150 होते हैं। यह पेपर 2 घंटे और 30 मिनट की होती है। 

प्रत्येक प्रश्न के लिए एक मार्क्स और कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होता है। 

रीट लेवल वन पेपर के पांचों विषयों का अपना निर्धारण सिलेबस होता है जिसकी जानकारी आप REET exam syllabus से ले सकते हैं।

REET level 2 paper कैसा होता है?

REET Level 2 Exam में 

  • Child Development & Pedagogy
  • Language I
  • Language II  
  • Mathematics & Science (Maths & Science के Teacher के लिए)
  • Social Science (Social Science Teachers के लिए) 

विषय होते हैं।  

इसमें ऊपर के तीन विषयों से 30-30 अंकों के 90 प्रश्न, और यदि आप मैथ और साइंस के टीचर बनना चाहते हैं तो उसके लिए आप ऊपर के तीनों के साथ सिर्फ इसी maths और science विषय की परीक्षा देंगे जिसमें मैथ और साइंस से 60 अंकों के साथ प्रश्न रहेंगे। 

और यदि आप सोशल साइंस के टीचर बनना चाहते हैं तो ऊपर के तीनों विषयों के साथ सोशल साइंस का पेपर चुनेंगे और उसमें सोशल साइंस में 60 अंकों के 60 प्रश्न रहेंगे। 

इस तरह इसमें भी कुल 150 अंकों के 150 प्रश्न होते हैं। इस पेपर की अवधि भी 2 घंटे 30 मिनट की ही होती है। 

इसमें भी हर क्वेश्चन के लिए 1 marks और कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं रहता है। 

इन विषयों के सिलेबस की जानकारी के लिए भी ऊपर दिए गए REET exam syllabus link को देखें।

Language papers के बारे में –

राजस्थान राज्य के जो भी विद्यार्थी REET की परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, वे language paper में अपनी पसंदीदा भाषा का चयन कर सकते हैं। 

भाषाओं में Hindi, Sindhi, English, Sanskrit, Urdu, Punjabi & Gujarati का विकल्प रहता है। 

REET exam देते समय paper 2 में language 1और paper 3 में language 2 भाषाओं का चयन करना अनिवार्य होता है। 

इस श्रेणी में आप अपनी पसंदीदा भाषा का चयन कर सकते हैं। भाषा 1 में आपको उस भाषा का चयन करना होता है जो application form में निर्धारित होती है। 

और भाषा 2 में आपको वह भाषा चुननी होती है, जिसमें आप अच्छे हैं, जिसमें आप questions solve कर सकते हैं। 

Candidates के द्वारा दोनों language papers में एक ही भाषा का चयन भी किया जा सकता है, और अलग-अलग भाषाओं का भी। 

REET परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट rajeduboard.rajasthan.gov.in से कर सकते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने REET के पेपर के बारे में बात की है। राजस्थान राज्य में बहुत से उम्मीदवार टीचर बनने के लिए REET की परीक्षा की तैयारी करते हैं। 

इसीलिए उनमें लिए यह जरूरी है कि उन्हें इस परीक्षा से संबंधित सारी जरूरी बातें पता हो। 

यहां हमने REET exam के बारे में ही विस्तार में बात की है। 

शिक्षक भर्ती की दूसरी परीक्षाओं में TET और CTET आदि का भी नाम आता है, जो इनकी तैयारी करते हैं उनके लिए जरूरी है कि उन्हें TET/CTET exam syllabus की जानकारी हो।

Leave a Comment

Your email address will not be published.