12वीं के बाद फार्मेसी के लिए प्रवेश परीक्षा | 12th ke baad pharmacy ke liye entrance exam

इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि 12वीं के बाद फार्मेसी के लिए प्रवेश परीक्षा कौन सी है? 12th के बाद pharmacy courses में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षाएं कौन-कौन सी हैं? 

दोस्तों बहुत से विद्यार्थी अपने करियर के चुनाव में medical line को चुनते हैं। 

इसमें सिर्फ doctor ही नहीं है, बल्कि medical line काफ़ी vast area है। 

ऐसे विद्यार्थी जो MBBS आदि जैसे courses में दाखिले के लिए नीट की परीक्षा से नहीं गुजारना चाहते हैं या जो कोई medical line में थोड़ा आसान course करके जल्दी रोजगार पाना चाहते हैं, उनके लिए Pharmacy एक बहुत अच्छा विकल्प है। 

आपने भी संभवत:  बी फार्मा, डी फार्मा, एम फार्मा जैसे courses का नाम जरूर सुना होगा। 

फार्मेसी, मेडिकल लाइन में एक अच्छा करियर बनाने का एक अच्छा विकल्प है। 

इसीलिए बहुत से विद्यार्थी 12वीं के बाद फार्मेसी का चुनाव भी करते हैं। फार्मेसी चुनने की सोचने वाले विद्यार्थियों के मन में इससे संबंधित एक सवाल जरूर आता है कि 12वीं के बाद pharmacy courses में admission के लिए प्रवेश परीक्षाएं कौन सी है?

12वीं के बाद फार्मेसी के लिए प्रवेश परीक्षा

यहां इस लेख में हम मुख्यतः इसी पर चर्चा करेंगे। 

जानेंगे कि pharmacy courses के लिए देश में कौन-कौन से entrance exam लिए जाते हैं? फार्मेसी में प्रवेश के लिए कौनसी प्रवेश परीक्षा है? आदि।

12th के बाद Pharmacy के लिए entrance exam

पहले थोड़ा सा फार्मेसी के बारे में बात करें तो, Basically, Pharmacy medical science की एक ऐसा शाखा है, जहां medicines को प्रस्तुत करना, वितरण करना, इसके अलावा स्वस्थ सेवाएं कैसे दी जाए आदि, इन्हीं सब की तकनीक सिखाई जाती है। 

फार्मेसी के मुख्यतः तीन भाग हैं, जिनमें एम फार्मा, बी फार्मा और डी फार्मा आते हैं। 

फार्मेसी का मतलब यही होता है कि विद्यार्थी इन्हीं courses में से किसी में दाखिला लेते हैं। 

वर्तमान समय में फार्मेसी काफी लोकप्रिय है, बहुत से विद्यार्थी फार्मेसी कोर्स करना चाहते हैं। 

इससे वे ख़ुद का कोई medical store खोल सकते हैं या किसी अच्छी जगह पर नौकरी ले सकते हैं।

अब यदि हम फार्मेसी courses में दाखिले के लिए लिए जाने वाले प्रवेश परीक्षाओं की बात करें तो इसमें नेशनल लेवल एंट्रेंस एग्जाम और स्टेट लेवल एंट्रेंस एग्जाम दोनों ही आ जाते हैं। 

जो विद्यार्थी देशभर के सबसे प्रसिद्ध कॉलेजों से फार्मेसी कोर्स करना चाहते हैं उन्हें उन कॉलेजों में दाखिले के लिए नेशनल लेवल पर आयोजित होने वाली फार्मेसी प्रवेश परीक्षा देनी होती है। 

वहीं यदि विद्यार्थी किसी राज्य विशेष के मेडिकल कॉलेज से फार्मेसी का कोर्स करना चाहते हैं, तो उसके लिए उन्हें उस राज्य के संबंधित अथॉरिटी द्वारा आयोजित की जाने वाली फार्मेसी प्रवेश परीक्षा  देनी होती है। 

अलग अलग राज्य वहां के मेडिकल कॉलेजों में pharmacy courses में दाखिले के लिए उसी राज्य में अपनी प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं।

National level Pharmacy प्रवेश परीक्षाएं

12वीं के बाद फार्मेसी कोर्सेज में दाखिले के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भी प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है। 

इसमें सफल होने वाले विद्यार्थियों को देशभर के टॉप pharmacy colleges में एडमिशन मिलता है। 

National level की Pharmacy प्रवेश परीक्षा में दो मुख्य नाम आते हैं, जो निम्नलिखित हैं –

  • GPAT
  • NIPER JEE

GPAT

GPAT pharmacy courses में दाखिले के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है, जो नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा M.Pharma (और समकक्ष कोर्सेज) में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है। 

यह एक कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) होता है, जो हर साल आयोजित की जाती है।

NIPER JEE

National institute of pharmaceuticals education and research joint entrance exam (NIPER JEE) M. Pharma, MS. Pharma, M. Tech Pharma, और फार्मेसी में PhD प्रोग्राम में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है। 

NIPER JEE के जरिए अहमदाबाद, गुवाहाटी, हाजीपुर, हैदराबाद, कोलकाता, रायबरेली और एसएएस नगर स्थित NIPER JEE संस्थानों में pharmacy courses में एडमिशन दिया जाता है। 

State level Pharmacy प्रवेश परीक्षाएं

अलग अलग राज्य अपने वहां के medical colleges में pharmacy courses में दाखिले के लिए अपनी अपनी परीक्षा आयोजित करता है, जिनमें विद्यार्थी 12वीं के बाद शामिल हो सकते हैं। 

इसमें सभी राज्यों की अपनी-अपनी प्रवेश परीक्षाएं हैं, पर इनमें से कुछ state level प्रवेश परीक्षाओं का नाम सबसे मुख्य State level Pharmacy प्रवेश परीक्षाओं में आता है।

  • RUHS
  • CG PPHT
  • AP EAMCET
  • NMIMS NPAT
  • TS EAMCET फार्मेसी
  • आदी

RUHS 

Rajasthan University of health science pharmacy entrance exam B Pharma और D Pharma courses में एडमिशन के लिए आयोजित की जाती है। 

बी फार्मा के लिए उम्मीदवारों को पीसीबी (physics, chemistry, biology) विषयों के साथ 12th pass होना चाहिए. डी फार्मा उम्मीदवारों के पास बी फार्मा या इसके समकक्ष की कोई डिग्री होनी चाहिए।

CG PPHT 

Chhattisgarh Pre Pharmacy Test का आयोजन बैचलर ऑफ फार्मेसी (B. Pharma) और डॉक्टर ऑफ फार्मेसी (D. Pharma) courses में दाखिले के लिए किया जाता है। 

इस प्रवेश परीक्षा क्वालीफाई करने के बाद, छात्र छत्तीसगढ़ के pharmacy colleges में एडमिशन के लिए आवेदन कर सकते हैं।

AP EAMCET  

AP EAMCET यानी Andhra Pradesh engineering agriculture and pharmacy common entrance test (आंध्र प्रदेश इंजीनियरिंग कृषि और फार्मेसी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट) भी एक मुख्य स्टेट लेवल फार्मेसी प्रवेश परीक्षा है। 

इस entrance exam का इस्तेमाल बी फार्म और डी फार्मा courses में एडमिशन के लिए ही किया जाता है। 

TS EAMCET फार्मेसी 

TS EAMCET फार्मेसी प्रवेश परीक्षा इंजीनियरिंग और कृषि courses के अलावा, फार्मेसी में एडमिशन के लिए भी उपयोग किया जाता है। 

यह भी कंप्यूटर आधारित मोड में आयोजित एक राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा होती है।

NMIMS NPAT 

Narsee Monjee institute of Management studies  (NMIMS), B.Pharma + MBA (फार्मेसी टेक) में प्रवेश के लिए NPAT प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है। 

NMIMS NPAT के result के आधार पर, विद्यार्थियों को pharmacy courses में मुंबई, शिरपुर और हैदराबाद में NPAT संस्थानों में एडमिशन दिया जाता है।

इनके अलावा कुछ अन्य State level Pharmacy प्रवेश परीक्षाओं में UKSSE (Uttrakhand), MET Pharmacy (Manipur), OJEE Pharmacy (Odisha), UPSSE (उत्तर प्रदेश), GUJCET (गुजरात), KCET (कर्नाटक), BITSET, KEAM, आदि फार्मेसी प्रवेश परीक्षाओं का नाम आता है। 

विद्यार्थी जिस भी स्तर पर और जिस भी फार्मेसी कॉलेज में दाखिला लेना चाहते हैं उस हिसाब से प्रवेश परीक्षा में बैठ सकते हैं। 

Pharmacy courses का चुनाव वर्तमान में बहुत से विद्यार्थी कर रहे हैं। 

Pharmacy courses से संबंधित कई सवाल भी विद्यार्थियों के मन में रहते हैं, जैसे B.Pharma की फीस कितनी है? कितने साल का है, क्या पढ़ना होता है, आदी। 

फिर D. Pharma की फीस कितनी है? कितने साल का है, क्या पढ़ना होता है, आदी। 

Pharmacy courses में दाखिला लेने से पहले विद्यार्थियों को उस कोर्स से संबंधित सारी जरूरी बातें पता कर लेनी चाहिए।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने 12वीं के बाद फार्मेसी के लिए प्रवेश परीक्षा के बारे में बात की है। 

वर्तमान में फार्मेसी करियर का एक अच्छा विकल्प है, बहुत से विद्यार्थी इस कोर्स का चुनाव करते हैं। 

फार्मेसी में दाखिला लेने की सोचने वाले विद्यार्थियों के मन में इसकी प्रवेश परीक्षा से संबंधित कई प्रश्न रहते हैं। 

इस लेख में हमने फार्मेसी में एडमिशन के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षाओं के बारे में ही अच्छे से बात की है। 

Leave a Comment

Your email address will not be published.