एमबीए (MBA) की फीस कितनी है? | MBA Ki Fees Kitni Hai

MBA की फीस कितनी है? एमबीए का कोर्स करने में कितना खर्च आता है? यह एमबीए के course से जुड़ा यह एक बहुत ही Common प्रश्न है।

करियर के चुनाव में, बहुत से विद्यार्थी बिजनेस यानि व्यापार में करियर बनाने की इच्छा रखते हैं, और business की पढ़ाई के लिए वे MBA का कोर्स करते हैं।

Finance marketing, banking sector और इसके अलावा भी कई ऐसे क्षेत्र हैं जिनमें एमबीए करके बेहतरीन करियर बनाया जा सकता है।

आज यहां इस लेख में हम मुख्यतः एमबीए कोर्स की फीस (mba ki fees kitni hai) की बात करेंगे, साथ ही यह भी जानेंगे कि

  • एमबीए का कोर्स क्या है, इसे कैसे कर सकते हैं?
  • एमबीए करने के लिए क्या योग्यताएं होनी चाहिए?
  • एमबीए जैसे कोर्स में दाखिले के लिए कौन सी परीक्षा पास करनी होती है?
  • एमबीए करने के क्या फायदे हैं, इसके बाद करियर के क्या विकल्प होते हैं?

और एमबीए कोर्स से जुड़ी दूसरी सभी जरूरी बातों को भी अच्छे से जानेंगे।

MBA की फीस कितनी है?

MBA क्या है?

यदि फुल फॉर्म से शुरू करें तो एम बी ए का पूरा नाम मास्टर आफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (master of business administration) है, और इसके नाम से ही पता चलता है कि यह बिजनेस की पढ़ाई से जुड़ा कोर्स है।

हिंदी में इसे व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर की डिग्री कहा जाता है। जब आप MBA की पढ़ाई करते हैं, तो उसमें आपको business management आदि के बारे में पढ़ाया जाता है।

बिजनेस मैनेजमेंट का मतलब है कि व्यापार को अच्छे से संभालते हुए ज्यादा कैसे बढ़ाया और सफल किया जाए, यही सब आप MBA में सीखते हैं।

MBA काफी popular course है, क्योंकि हर stream का विद्यार्थी, चाहे उसने ग्रेजुएशन पढ़ा हो या engineering, एमबीए पूरी करके किसी अच्छे और बड़ी कंपनी में मैनेजमेंट डिपार्टमेंट में काम करने की इच्छा रखते हैं। या MBA के बाद सरकारी नौकरी करना चाहता है।

अभ्यार्थी अपनी ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद एमबीए के कोर्स में दाखिला ले सकते हैं, कोर्स की अवधि की बात करें तो यह 2 साल का कोर्स होता है, जिसे 6-6 महीने के 4 सेमेस्टर में बांटा गया है।

हालांकि 12वीं के बाद भी एमबीए का कोर्स में दाखिला लिया जा सकता है लेकिन तब इसकी अवधि 5 वर्ष की हो जाती है क्योंकि उसमें MBA+BBA का कोर्स भी शामिल रहता है।

MBA की फीस कितनी है?

दूसरे किसी भी प्रतिष्ठित कोर्स की तरह एमबीए की फीस (mba ki fees) भी कोई एक निर्धारित रकम नहीं है, यानी कि अलग-अलग colleges/universities में MBA कोर्स की फीस अलग-अलग निर्धारित होती है।

यदि आपको एमबीए की पढ़ाई के लिए एक सरकारी कॉलेज मिल जाता है तो आप एक प्राइवेट कॉलेज की तुलना में तो काफी कम फीस देकर अपनी पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।

सरकारी कॉलेज में एमबीए की फीस कितनी है?

On average कहें तो MBA की फीस 2 लाख से लेकर 20 लाख रूपए तक भी जा सकती है।

Private कॉलेज में एमबीए की फीस कितनी है?

किसी अच्छे private कॉलेज में एमबीए की फीस 10 – 30 लाख तक हो सकती है।

एमबीए जैसे कोर्स में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जाती है, अगर आपका एंट्रेंस एग्जाम क्लियर हो जाता है, तो आपको सरकारी कॉलेज में एमबीए के लिए एडमिशन मिल जाता है।

तब आपकी एमबीए फीस प्राइवेट कॉलेज से काफी कम होती है, आप 1 से 2 लाख में भी यह कोर्स पूरा कर सकते हैं, इसलिए उम्मीदवार एक सरकारी कॉलेज में दाखिले के लिए MBA के एंट्रेंस एग्जाम की अच्छे से तैयारी करते हैं।

MBA कैसे कर सकते हैं?

एमबीए का कोर्स में दाखिले के लिए ग्रेजुएट उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं, graduation में उनके कम से कम 50% अंक तो होने ही चाहिए तभी उन्हें कोई अच्छा कॉलेज मिलने की संभावना रहती है।

भारत में एमबीए के लिए कॉलेजों में IIM (Indian institute of management) का नाम सबसे पहले आता है।

जैसा हमने ऊपर जाना, MBA में दाखिले के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम पास करना होता है, अगर छात्र आई.आई.एम ( IIM ) में प्रवेश करना चाहते हैं, तो उसके लिए उन्हें कैट ( CAT ) एग्जाम क्लियर करना पड़ता है।

इसके अलावा भी देश में कई अच्छे universities हैं, कई अपने स्तर पर प्रवेश परीक्षाएं लेती हैं।

एमबीए में दाखिले के लिए

  • CAT (Common Admission Test)
  • CMAT (Common Management Admission Test)
  • GMAT (Graduate Management Aptitude Test)
  • XAT (Xavier Aptitude Test)
  • IIFT (Indian Institute of Foreign Trade)
  • IRMA (Institute of Rural Management Anand)
  • MICAT, MAT (Management Aptitude Test)
  • ATMA (AIMS TEST FOR MANAGEMENT ADMISSIONS)
  • TISSNET (Tata Institute of Social Sciences)
  • NMAT (NMIMS Management Aptitude Test)
  • SNAP (Symbiosis National Aptitude Test)

आदि प्रवेश परीक्षाएं हैं, यदि आप इनमे से किसी एंट्रेंस एग्जाम को पास कर लेते हैं तो आप अच्छे कॉलेज से एमबीए करके अच्छी नौकरी पा सकेंगे।

MBA किस किस Field में कर सकते हैं?

एमबीए करने के लिए विद्यार्थी के पास अलग-अलग विषय में से चुनने का विकल्प रहता है। आप निम्नलिखित में एमबीए कर सकते हैं।

MBA In Finance, अगर आपकी रूचि फाइनेंस में है, और आप बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विस या कॉर्पोरेट संबंधित इंडस्ट्री में नौकरी करना चाहते हैं, तब आप एमबीए इन फाइनेंस कर सकते हैं।

MBA In HR, MBA In Human Resources में आप कंपनी के लिए काम कर रहे कर्मचारियों के काम को सुधारना, नए कर्मचारियों की भर्ती करना, कर्मचारियों का वेतन का ध्यान रखना आदि करते हैं।

MBA In Business Analytics, बिजनेस एनालिटिक्स मैनेजर का काम आंकड़ों, सर्वे और तथ्यों के आधार पर कंपनी के लिए रणनीतियां बनाना होता है।

MBA In Sales And Marketing, बड़ी कंपनियों में products बेचने के लिए सेल्स और मार्केटिंग में एमबीए किए हुए उम्मीदवारों की जरूरत पड़ती है।

MBA In International Business, कंपनी के विदेश में विस्तार के क्या अवसर रहेंगे, finance funds, business terms के लिए के लिए रणनीति बनाना aur अगर कोई विदेश से कंपनी में इन्वेस्ट करना चाहता है तो उसको कंपनी के मॉडल के बारे में बताना आदि international business manager का काम होता है।

MBA के बाद Career

एमबीए का कोर्स ऐसे ही इतना लोकप्रिय नहीं है, अच्छे कॉलेज से यदि आप एमबीए पूरी कर लेते हैं तो आपके करियर में कई बेहतरीन ऑप्शन खुल जाते हैं।

बिजनेस क्षेत्र में तो अपॉर्चुनिटी काफी सारी है, एमबीए के बाद कुछ टॉप करियर ऑप्शंस निम्नलिखित हैं –

  • Equity Research Analyst
  • HR Manager
  • R&D Manager
  • Brand Manager
  • Stock Broker
  • Account Manager
  • Hotel Manager
  • Investment Banker

Leave a Comment

Your email address will not be published.