होटल मैनेजमेंट कोर्स कितने साल का होता है? | Hotel management course kitne saal ka hota hai

दोस्तों वर्तमान में होटल मैनेजमेंट विद्यार्थियों के बीच एक काफी लोकप्रिय करियर ऑप्शन के रूप में उभर रहा है। 

डॉक्टर, इंजीनियर और इस तरह के दूसरे कुछ मुख्य प्रोफैशंस के बीच hotel management भी आज के समय में बहुत से विद्यार्थियों द्वारा career option के रूप में चुना जा रहा है। 

पर्यटन उद्योग तेजी से उभरता हुआ क्षेत्र है, और होटल मैनेजमेंट इसका महत्वपूर्ण हिस्सा है। 

होटल मैनेजमेंट करके आप आज एक अच्छी खासी सैलरी वाली और अपने पसंद की काम वाली जॉब प्राप्त कर सकते हैं। 

होटल मैनेजमेंट वर्तमान में सबसे बेहतरीन career options में से एक है, और इसीलिए हर साल बहुत बड़ी संख्या में विद्यार्थी होटल मैनेजमेंट के अलग-अलग courses में दाखिला भी लेते हैं।

अब होटल मैनेजमेंट कोर्स से संबंधित एक बहुत ही कॉमन सवाल जो बहुत से विद्यार्थियों के मन में आता है कि आखिर होटल मैनेजमेंट कोर्स कितने साल का होता है? 

या होटल मैनेजमेंट की पढ़ाई कितने साल की होती है? 

होटल मैनेजमेंट कोर्स कितने साल का होता है?

यहां इस आर्टिकल में हम यही जानेंगे कि होटल मैनेजमेंट कोर्स कितने साल का होता है? 

होटल मैनेजमेंट में कितने साल की पढ़ाई करनी होती है? होटल मैनेजमेंट कोर्स की अवधि कितनी है? आदि।

Hotel management course कितने साल का होता है?

सीधे-सीधे कहें तो होटल मैनेजमेंट का कोर्स सामान्यतः 3-4 वर्ष का होता है। 

अब यहां पर सामान्यतः का मतलब है कि ज्यादातर विद्यार्थियों के द्वारा जो होटल मैनेजमेंट का कोर्स चुना जाता है, वे 12वीं के बाद अंडर ग्रेजुएशन होटल मैनेजमेंट कोर्सेज ही होते हैं, और उनकी अवधि सामान्यतः 3 वर्ष और कुछ की 3-4 वर्ष की होती है।

पर असल में होटल मैनेजमेंट के अंतर्गत बहुत से courses आते हैं। 

विद्यार्थी 12वीं के बाद ही होटल मैनेजमेंट कोर्स के लिए जा सकते हैं, और 12वीं के बाद होटल मैनेजमेंट का कोर्स कितने साल का होगा यह निर्भर करता है कि विद्यार्थी द्वारा होटल मैनेजमेंट कोर्स में कौन सा फॉर्मेट चुना जाता है।

मतलब की hotel management में स्नातक पाठ्यक्रम यानी Undergraduate Course होते हैं जिनकी अवधि 3-4 साल तक की रहती है। 

फिर पारास्नातक पाठ्यक्रम यानी Postgraduate courses होते हैं जिनकी अवधि सामान्यतः 2 साल की रहती है।

फिर होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स (Diploma Course) भी होते हैं जिनकी अवधि सामान्यतः 1 साल की होती है।

और इसके बाद होटल मैनेजमेंट में सर्टिफिकेट कोर्स (Certificate Course) भी होते हैं, जिन की अवधि 3 महीने, 6 महीने, या 1 साल यह उससे ज्यादा तक की भी रहती है। 

इसीलिए होटल मैनेजमेंट का कोर्स कितने साल का होगा यह निर्भर करता है कि विद्यार्थी ने इनमें से किस होटल मैनेजमेंट कोर्स का चुनाव किया है।

वैसे 12वीं के बाद सामान्यतः विद्यार्थियों को under graduation hotel management courses करने की सलाह दी जाती है, जिसके बाद में आगे पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्सेज के लिए जा सकते हैं।

पर होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा और सर्टिफिकेट कोर्सेज भी अच्छे होते हैं। इनके बाद भी विद्यार्थी इस क्षेत्र में अच्छी खासी सैलरी वाली नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

अलग-अलग hotel management courses और उनकी अवधि

हमने ऊपर बात की, कि होटल मैनेजमेंट कोर्स में विद्यार्थी अंडरग्रैजुएट कोर्स, पोस्टग्रेजुएट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स या सर्टिफिकेट कोर्स के लिए जा सकते हैं। 

और उसी पर निर्भर करेगा कि होटल मैनेजमेंट का कोर्स विद्यार्थी के लिए कितने साल का होगा।

अब हम बात कर लेते हैं कि होटल मैनेजमेंट में अंडर ग्रेजुएशन कोर्स में कौन-कौन से कोर्स आते हैं, और उनकी अवधि कितनी है?

उसी तरह पोस्ट ग्रेजुएशन में कौन-कौन से कोर्स आते हैं, और उनकी अवधि। 

डिप्लोमा कोर्स में कौन-कौन से कोर्स आते हैं, और उनकी अवधि कितनी होती है?

फिर सर्टिफिकेट courses में कौन-कौन से कोर्स आते हैं, और उनकी अवधि कितनी होती है?

विद्यार्थी 12वीं के बाद इनमें से कोई भी Hotel Management कोर्स करते हैं, तो वे generally 20-25 हजार रुपए सैलरी वाली जॉब तो आसानी से ले ही सकते हैं।

Hotel management undergraduate courses और उनकी अवधि

  • बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी (BHMCT- bachelor of hotel management and catering Technology) – यह 4 साल की अवधि का कोर्स है।
  • बैचलर’स ऑफ़ होटल मैनेजमेंट (BHM- bachelors of hotel management) – यह 3-4 साल की अवधी का कोर्स है।
  • बी.बी.ऐ इन हॉस्पिटैलिटी, ट्रेवल एंड टूरिस्म (BBA in Hospitality, Travel, and Tourism) – यह 3 साल की अवधि का कोर्स है।
  • बीएससी होटल मैनेजमेंट (BSc in hotel management) – यह 3 साल की अवधि का कोर्स है।
  • बीएससी हॉस्पिटैलिटी एंड होटल एडमिनिस्ट्रेशन (BSc in hospitality and hotel administration) – यह 3 साल की अवधि का कोर्स है।   

Hotel management postgraduate courses और उनकी अवधि

  • एम.बी.ऐ इन होटल मैनेजमेंट (MBA in Hotel Management)    – यह 2 साल की अवधि का कोर्स है।    2
  • मास्टर इन होटल मैनेजमेंट (MHM – master in hotel management) – यह 2 साल की अवधि का कोर्स है।
  • एमबीऐ हॉस्पिटैलिटी (MBA in Hospitality)    – यह 3 साल की अवधि का कोर्स है।
  • एम.बी.ऐ टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट (MBA in tourism and hotel management) – यह 2 साल की अवधि का कोर्स है।
  • मास्टर इन टूरिज्म एंड होटल मैनेजमेंट (Master in Tourism and Hotel Management) – यह 2 साल की अवधि का कोर्स है।

Hotel management diploma courses और उनकी अवधि

  • डिप्लोमा इन फ़ूड & बेवरीज प्रोडक्शन (Diploma in food and beverages Production) – यह 18 महीने का कोर्स है।
  • डिप्लोमा इन बेकरी एंड कन्फेक्शनरी (Diploma in Bakery and Confectionary)    – यह 1 साल की अवधि का कोर्स है।
  • डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट    (Diploma in hotel management ) – यह 3 साल की अवधि का कोर्स है।
  • डिप्लोमा इन हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट ( diploma in hospitality management) – यह 3 साल 3 महीने का कोर्स है।
  • डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग टेक्नोलॉजी (diploma in hotel management and catering Technology) – यह 2 साल की अवधी का कोर्स है।
  • डिप्लोमा इन फ्रंट ऑफिस (diploma in front office) – यह 2 साल की अवधि का कोर्स है।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने होटल मैनेजमेंट का कोर्स कितने साल का होता है?  इस बारे में बात की है।

वर्तमान में बहुत से विद्यार्थी होटल मैनेजमेंट में जाने की इच्छा रखते हैं और इस क्षेत्र में बेहतरीन करियर बनाया जा सकता है।

होटल मैनेजमेंट में अलग-अलग courses होते हैं, और उनकी अवधि भी अलग-अलग होती है। यहां हमने उन्हीं के बारे में जाना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.