सरकारी नर्स की सैलरी कितनी होती है? | Sarkari nurse ki salary kitni hoti hai

इस आर्टिकल में हमारा टॉपिक है ‘सरकारी नर्स की सैलरी कितनी होती है?’। 

सरकारी नर्स की सैलरी कितनी है? नर्स की सैलरी कितनी होती है?

दोस्तों बहुत से विद्यार्थी 12वीं के बाद मेडिकल में नर्सिंग कोर्स की पढ़ाई करते हैं, और आगे चलकर एक नर्स के रूप में करियर बनाते हैं। 

वर्तमान में ‘नर्स’ एक बेहतरीन करियर ऑप्शन है, क्योंकि मेडिकल के क्षेत्र में इस जॉब प्रोफाइल की मांग हमेशा ही रहेगी। 

एक नर्स के रूप में आप प्राइवेट और सरकारी दोनों क्षेत्रों में काम कर सकते हैं, हालंकि जाहिर तौर पर सरकारी क्षेत्र हर किसी की पहली पसंद होती है। 

जो उम्मीदवार आगे चल के सरकारी नर्स बनना चाहते हैं उनके मन में उनकी सैलरी से संबंधित सवाल रहते हैं। 

यहां हम इसी के बारे में विस्तार से बात करेंगे कि सरकारी नर्स की सैलरी कितनी होती है? 

एक सरकारी नर्स को कितनी सैलरी मिलती है?

सरकारी नर्स की सैलरी के साथ-साथ यहां हम इससे जुड़े अन्य कुछ जरूरी बातों पर भी चर्चा करेंगे, इसलिए इस लेख को अंत तक पूरा जरूर पढ़ें।

आज हम जानेंगे

सरकारी नर्स की सैलरी कितनी होती है?

भारत में एक सरकारी नर्स की औसतन शुरुआती सैलरी 25-30 हज़ार रुपए प्रति माह तक होती है। 

ambitionbox.com के मुताबिक government hospitals में staff nurses की average salary 3.3 लाख रुपए सालाना तक होती है। इसमें उनकी estimated take home salary ₹ 23,853 – ₹ 25,309/month तक हो जाती है। 

अब सरकारी नर्स में भी उम्मीदवार के काम करने के स्थान और अनुभव आदि के आधार पर सैलरी अलग-अलग होती हैं। 

आपकी वास्तविक सैलरी कितनी होगी यह निर्भर करता है कि आप कहां और कैसे पद पर काम कर रहे हैं। 

बड़े सरकारी संस्थानों और अस्पतालों में स्टाफ नर्स की सैलरी किसी छोटे सरकारी अस्पताल या संस्थान की तुलना में ज्यादा होती है। 

Jobs

फिर पद (post/level) के आधार पर सीनियर नर्स की सैलरी जूनियर नर्स से ज्यादा होती है। 

जब आप शुरुआत में नर्स के पद पर ज्वाइन करते हैं तो आपकी सैलरी कम होती है, फिर जैसे-जैसे आपके काम का अनुभव बढ़ता है, उसके साथ आपकी सैलरी भी बढ़ती है। 

सरकारी नर्स की सैलरी और सुविधाएं

क्यूंकि यहां हम सरकारी नर्स की सैलरी की बात कर रहे हैं तो, इसमें सैलरी के साथ-साथ अन्य किसी भी सरकारी नौकरी की तरह और कई allowances और perks भी शामिल होते हैं। 

बड़े और प्रतिष्ठित सरकारी संस्थानों जैसे AIIMS, JIPMER, PGIMER आदि में वाले सरकारी नर्स को सैलरी में PF, increment, living allowances pension आदि सभी का बेनिफिट भी मिलता है। 

इसके अलावा जो अन्य सरकारी संस्थान होते हैं उनमें भी सरकारी नर्स को सैलरी में यह सारी सुविधाएं मिलती हैं। 

सरकारी नर्स को मिलने वाली सैलरी और अन्य सभी सुविधाओं में निम्नलिखित चीज़ें आती हैं – 

  • अच्छा Basic Pay
  • Basic Allowances
  • Salary में सालाना increment
  • Loan, PF, ESI benefit
  • Pension
  • Private से बेहतर security और सुविधा
  • आदि

बहुत से सरकारी संस्थान और संगठन हैं, जिनमें nurses की जरूरत पड़ती है।

जब हम सरकारी नर्स की भर्ती निकलने की बात करते हैं तो इसमें सिर्फ सरकारी अस्पताल आदि ही नहीं बल्कि भारतीय रेलवे, Indian Army, state public service commission, और अन्य कई गवर्नमेंट ऑर्गेनाइजेशंस भी आते हैं। 

इसके बारे में आगे हम थोड़ा और बात करेंगे, अभी हम कुछ अलग-अलग government institutions में government nurses की salary structure को देख लेते हैं, जिसमें बेसिक सैलरी के साथ मिलने वाले अन्य allowances भी शामिल हैं –

Indian Railway 

भारतीय रेलवे में सरकारी नर्स को मिलने वाली सैलरी में ₹34,800 + Other Allowance होते हैं।

Indian Military Nursing Service

भारतीय सेना में स्टाफ नर्स के पद पर मिलने वाली सैलरी में, Rs. 15,000 + Grade Pay – 5400 + Military Service Pay – 4200 + DA और अन्य कुछ allowance भी होते हैं। 

यह उन नर्सों के लिए मूल वेतन होता है जो Military Nursing Service में लेफ्टिनेंट के पद से शुरू होती हैं। 

कुछ वर्षों के अनुभव के बाद नर्सों का वेतनमान सेना में उनकी रैंक के आधार पर अधिक हो जाता है।

ESIC (Employees State Insurance Corporation of India)

अन्य सरकारी संस्थानों और अस्पतालों की तरह ESIC मैं काम करने वाले नर्स को भी पीएफ ईएसआई और पेंशन आदि का बेनिफिट मिलता है। 

सैलरी की बात करें तो यहां स्टाफ नर्स की सैलरी में Rs. 34,000 + 4300 शामिल रहते हैं।

AIIMS, PGIMER, JIPMER

यह सरकारी संस्थानों में अलग-अलग पदों के हिसाब से nurses की सैलरी अलग-अलग होती है। इनमें –

  1. Sister Grade II – Rs. 9300 – 34,800 + 4600
  2. Sister Grade I – Rs. 9300 – 34,800 + 4800
  3. Psychiatric Nurses (Only for JIPMER) – Rs. 9300 – 34,800 + 4800
  4. Assistant Nursing Superintendent – Rs. 15,600 – 39,100 + 5400
  5. Sister Tutor (Only for JIPMER) – Rs. 15,600 – 39,100 + 5400
  6. Deputy Nursing Superintendent – Rs. 15,600 – 39,100 + 5400
  7. Nursing Superintendent – Rs. 15,600 – 39,100 + 6600
  8. Chief Nursing Officer – Rs. 15,600 – 39,100 + 7600

यहां काम करने वाले सरकारी nurses को भी सैलरी के साथ-साथ जो अन्य सुविधाएं होती हैं वे सभी मिलती हैं। 

इन्हें भी पढ़ें

सरकारी नर्स कैसे बनें?

अब हम थोड़ा सा सरकारी नर्स बनने के प्रोसेस के बारे में बात कर लेते हैं। 

तो सबसे पहले तो आपको 10वीं और फिर science stream के साथ 12वीं पास करनी होगी। 

उसके बाद आपको नर्सिंग कोर्स में एडमिशन लेना होगा। 

इसमें आपके पास mainly 3 कोर्स का ऑप्शन होता है, B.SC Nursing, GNM और ANM. ANM और GNM क्रमशः 2 और 3 साल के डिप्लोमा नर्सिंग कोर्स हैं, और B.SC Nursing 3 साल का डिग्री नर्सिंग कोर्स है। 

B.SC Nursing और GNM में से कोई कोर्स करके आप एक nurse बन सकते हैं। 

ANM करने के बाद आप असिस्टेंट नर्स बन सकती हैं। 

अपना नर्सिंग कोर्स पूरा कर लेने के बाद आपको सरकारी नर्स की भर्ती निकलने पर उसके लिए आवेदन करना होगा। 

और लिखित परीक्षा आदि की जो भी निर्धारित प्रक्रिया होगी उसे पूरा करके सरकारी नर्स की नौकरी लेनी होगी। 

समय-समय पर अलग-अलग सरकारी संस्थानों द्वारा नर्स के पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे जाते हैं, जिसके लिए जरूरी योग्यता रखने वाले उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। 

अलग-अलग राज्यों में समय-समय पर नर्स की भर्ती निकलती रहती है, उम्मीदवारों को समय-समय पर इसकी जांच करते रहना चाहिए। 

फॉर्म निकलने पर आवेदन करके, परीक्षा पास करके आप एक सरकारी नर्स बन सकते हैं। 

सरकारी नौकरी के लिए कौन सा नर्सिंग कोर्स सबसे अच्छा है?

बीएससी नर्सिंग एक डिग्री लेवल नर्सिंग कोर्स है। सरकारी नौकरी के मामले में बीएससी नर्सिंग को सबसे ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है।

12वीं के बाद नर्सिंग कैसे करें?

12वीं के बाद नर्सिंग कोर्सेज में आप BSc nursing, GNM या ANM में से कोई course कर सकते हैं।

सरकारी नर्स बनने के लिए क्या करें?

12वीं के बाद BSc nursing या GNM या ANM में से कोई course करके, सरकारी नर्स की भर्ती निकलने पर आप उसके लिए आवेदन कर सकते हैं।

क्या नर्सिंग के लिए नीट अनिवार्य है?

Nursing Courses (BSc nursing, GNM, ANM) में दाखिले के लिए NEET में appear होना अनिवार्य नहीं है। 12वीं के बाद आप सीधा भी नर्सिंग कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं।

Conclusion

ऊपर इस आर्टिकल में हमने सरकारी नर्स की सैलरी के बारे में बात की है। 

यहां हमने आपको एक सरकारी नर्स की सैलरी और इससे संबंधित जो दूसरी कुछ जरूरी बातें हैं, उनके बारे में अच्छे से जानकारी देने का प्रयास किया है।

उम्मीद करते हैं यह लेख आपके लिए informative रहा होगा, इससे संबंधित कोई भी प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट सेक्शन में जरूर पूछें। 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *