सैनिक स्कूल कहां-कहां है?

दोस्तों आज के समय में बहुत से विद्यार्थी सैनिक स्कूल से पढ़ाई करना चाहते हैं।

देशभर में सैनिक स्कूल का नाम सबसे अच्छे शिक्षण संस्थानों में आता है, और इसमें admission के लिए National level पर प्रवेश परीक्षा आयोजित होती है जिसे पास करके ही इसमें दाखिला लिया जा सकता है।

लाखों की संख्या में विद्यार्थी सैनिक स्कूल में भर्ती के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा में बैठते हैं।

सैनिक स्कूल में शिक्षा का स्तर बेहतरीन है इसीलिए ज्यादा से ज्यादा छात्र इसमें दाखिला चाहते हैं।

लेकिन हर राज्य में सैनिक स्कूल नहीं है जिस में दाखिले के लिए छात्र आवेदन कर सकें।

ऐसे में बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल आता है कि भारत में सैनिक स्कूल कहां कहां है? और आज यहां इस आर्टिकल में हम मुख्यत: इसी के बारे में जानेंगे।

सैनिक स्कूल कहां-कहां है?

जानेंगे भारत में सैनिक स्कूल किन किन राज्यों में है? किन किन राज्यों में एक भी सैनिक स्कूल नहीं है?

जिन राज्यों में सैनिक स्कूल नहीं है वहां के विद्यार्थी कैसे और किस राज्य के सैनिक स्कूल में दाखिला ले सकते हैं? आदि।

सैनिक स्कूल क्या है?

जैसा किसके नाम से थोड़ा पता चलता है सैनिक स्कूलों में छात्रों को मुख्य रूप से नेशनल डिफेंस एकेडमी के माध्यम से भारतीय सेनाओं में ऑफिसर यह अधिकारी बनने के लिए तैयार किया जाता है।

भारत में जितने भी सैनिक स्कूल हैं वह सभी भारतीय रक्षा मंत्रालय की सैनिक स्कूल सोसाइटी के प्रबंधन में संचालित किए जाते हैं।

सैनिक स्कूल CBSE board से संबंधित इंग्लिश मीडियम के आवासीय स्कूल होते हैं जिनमें छात्रों को कक्षा छठी और कक्षा 9वी में एडमिशन लेने का मौका दिया जाता है, जिसके बाद वे आगे की पढ़ाई सैनिक स्कूल में करते हैं।

आज के समय में देश में 30 से ज्यादा सैनिक स्कूल चल रहे हैं और 10 से ज्यादा और खोले जाने के लिए प्रस्तावित भी है।

सैनिक स्कूल कहां-कहां है?

सैनिक स्कूल का नाम देश के शीर्ष स्कूलों में आता है, लेकिन भारत के हर राज्य में सैनिक स्कूल नहीं है।

कुछ राज्यो में एक से ज्यादा सैनिक स्कूल भी हैं। आज के समय में देश में कुल 33 सैनिक स्कूल चल रहे हैं जबकि कई और खुलने के लिए प्रस्तावित है।

देश के 33 सैनिक स्कूल और वे किस राज्य में हैं, इसकी सूची को जिस प्रकार है –

1.आंध्र प्रदेश – सैनिक स्कूल, कोरूकोंडा (Korukonda)   

2. आंध्र प्रदेश –  सैनिक स्कूल, कालीगिरी (Kalikiri)   

3. अरूणाचल प्रदेश – सैनिक स्कूल, पूर्व सियांग(East Siang)   

4. असम –  सैनिक स्कूल, गोवालपारा(Goalpara)

5. बिहार –  सैनिक स्कूल, नालन्दा (Nalanda)

6. बिहार – सैनिक स्कूल, गोपालगंज(Gopalganj)   

7. छत्तीसगढ़ – सैनिक स्कूल, अम्बिकापुर (Ambikapur)

8.गुजरात – सैनिक स्कूल, बलचदि (Balachadi)   

9. हरियाणा – सैनिक स्कूल, कुंजपुरा (Kunjpura)   

10. हरियाणा – सैनिक स्कूल, रेवाड़ी (Rewari)   

11. हिमाचल प्रदेश – सैनिक स्कूल, सुजानपुर टीरा (Sujanpur Tira)

12. जम्मू & कश्मीर – सैनिक स्कूल, नगरोटा(Nagrota)   

13.झारखण्ड – सैनिक स्कूल, तिलैया(Tilaiya)   

14. कर्नाटक –  सैनिक स्कूल, बीजापुर(Bijapur)

15.कर्नाटक – सैनिक स्कूल, कोडागू (Kodagu)

16.केरल – सैनिक स्कूल,कज़हाकूट्टम (Kazhakootam)   

17. मध्यप्रदेश – सैनिक स्कूल, रेवा (Rewa)   

18. महाराष्ट्र – सैनिक स्कूल, सतारा (Satara)

19. महाराष्ट्र – सैनिक स्कूल, चन्द्रपुर (Chandrapur)   

20. मणिपुर – सैनिक स्कूल, इम्फाल (Imphal)

21.मिजोरम – सैनिक स्कूल, चिंचचिप(Chhingchhip)   

22. नागालैण्ड – सैनिक स्कूल, पुंगलवा (Punglwa)

23. ओडिसा – सैनिक स्कूल, भूनेश्वर (Bhubaneswar)   

24. ओडिसा – सैनिक स्कूल, सम्बलपुर (Sambalpur)   

25. पंजाब – सैनिक स्कूल, कपूरथला (Kapurthala)

26. राजस्थान – सैनिक स्कूल, चित्तौड़गढ़ (Chittorgarh)   

27. राजस्थान – सैनिक स्कूल, झुन्झूनू (Jhunjhunu)   

28. तमिलनाडू – सैनिक स्कूल, आमरवथिनगर (Amaravathinagar)

29. उत्तरप्रदेश – सैनिक स्कूल, मैनपुरी (Mainpuri)

30. उत्तरप्रदेश – सैनिक स्कूल, झाँसी (Jhansi)

31. उत्तरप्रदेश –  सैनिक स्कूल, अमेठी (Amethi)

32. उत्तराखण्ड – सैनिक स्कूल, घोड़ाखाल (Ghorakhal)   

33. पश्चिम बंगाल – सैनिक स्कूल, पुरूलिया (Purulia)

किन राज्यों में सैनिक स्कूल नहीं है ?

जैसा कि हमने ऊपर कहा, कई ऐसे राज्य और उनके साथ साथ कई केंद्र शासित प्रदेश भी हैं जहां सैनिक स्कूल नहीं है।

जिन राज्यों में कोई सैनिक स्कूल उपलब्ध नहीं है, वहां के विद्यार्थी प्रवेश के लिए नीचे दिए गए स्कूलों से संपर्क कर सकते हैं-

  • दिल्ली      – सैनिक स्कूल, कुंजपुरा
  • चंडीगढ़    – सैनिक स्कूल, कपूरथला
  • त्रिपुरा      – सैनिक स्कूल, इंफाल
  • लक्षद्वीप व माहे   – सैनिक स्कूल, कझाकूटम
  • पुडुचेरी व कराइकल   – सैनिक स्कूल, अमरावतीनगर
  • गोवा     – सैनिक स्कूल, सतारा
  • दीव व दमण, दादर व नगर हवेली  – सैनिक स्कूल, बालाचड़ी
  • मेघालय और सिक्किम –  सैनिक स्कूल, गोलपाड़ा
  • अंडमान व निकोबार द्वीप समूह –  सैनिक स्कूल, पुरुलिया
  • यानम व तेलंगाना – सैनिक स्कूल, कोरुकोंडा

सैनिक स्कूल में एडमिशन की प्रक्रिया

भारत के सभी सैनिक स्कूलों में दाखिले के लिए राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली एंट्रेंस परीक्षा पास करनी होती है।

इस में दाखिले के लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी NTA द्वारा एक ही संयुक्त प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है जिसे all India Sainik schools entrance exam (AISSEE) के नाम से जाना जाता है।

सैनिक स्कूल में दाखिले के लिए विद्यार्थी दो बार आवेदन कर सकते हैं। विद्यार्थी या तो छठी कक्षा में सैनिक स्कूल में दाखिला ले सकते हैं या फिर नौवीं कक्षा में।

6th में एडमिशन के लिए पांचवी कक्षा उत्तीर्ण और आयु 10 से 12 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

नौवीं में एडमिशन के लिए भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से आठवीं कक्षा उत्तीर्ण और आयु 13 से 15 वर्ष के बीच होनी चाहिए।

दोनों ही कक्षा में एडमिशन के लिए अब लड़कों के साथ साथ लड़कियां भी आवेदन कर सकती है।

सैनिक स्कूल में प्रवेश के लिए आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा के लिए विद्यार्थी तय समय सीमा में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

जिसके लिए उन्हें इसकी आधिकारिक वेबसाइट aissee.nta.nic.in पर जाकर आवेदन से संबंधित जानकारी लेकर आवेदन करना होता है।

विद्यार्थी ऑनलाइन आवेदन कर के आवेदन शुल्क जमा करेंगे। आवेदन की प्रक्रिया कोई बहुत ज्यादा कठिन नहीं होती विद्यार्थी को मांगे गए डाक्यूमेंट्स अपलोड करने होते हैं, इसके अलावा मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी आदि लगता है।

ये सभी चीजें सावधानी से भरने चाहिए क्योंकि परीक्षा के लिए रोल नंबर और एडमिट कार्ड इत्यादि आपको ईमेल और एसएमएस के द्वारा ही आता है।

Conclusion 

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने मुख्य तौर पर यह जाना कि भारत में सैनिक स्कूल कहां-कहां यानी की किन किन राज्यों में स्थित है।

आज के समय में बहुत से विद्यार्थी सैनिक स्कूल में पढ़ना चाहते हैं। इच्छुक विद्यार्थियों को इससे संबंधित सारी जानकारी होना जरूरी है।

ऐसे में सैनिक स्कूल कहां कहां है, और वह किस तरह उनके लिए अप्लाई कर सकते हैं, यह सब जानकारी जरूरी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.