एमसीए के बाद क्या करें? | MCA ke baad kya Kare

दोस्तों टेक्नोलॉजी के इस समय में कंप्यूटर का इस्तेमाल तो हर क्षेत्र में ही हो रहा है, इसी ने आईटी सेक्टर को इतना बड़ा बनाया है।

जिसके परिणाम स्वरूप कंप्यूटर के जानकार उम्मीदवारों के लिए कई क्षेत्रों में करियर के अच्छे ऑप्शन खुलते हैं।

जो विद्यार्थी कंप्यूटर एप्लीकेशन के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, वे 12वीं के बाद बीसीए यानी बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन और उसके बाद उसी में मास्टर्स की डिग्री यानी एमसीए करते हैं।

एम सी ए का कोर्स पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर काफी विद्यार्थियों द्वारा चुने जाने वाले courses में से है।

MCA  विद्यार्थियों को कई विकल्प देता है, जिसमें नौकरी के अच्छे विकल्प होते हैं।

एमसीए पूरा कर चुके बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल आता ही है कि अब एमसीए के बाद क्या करें?

मतलब कि क्या आगे वे पढ़ाई कर सकते हैं, या फिर किन क्षेत्रों में नौकरी ले सकते हैं।

एमसीए के बाद क्या करें?

यहां इस आर्टिकल में हम मुख्य तौर पर MCA कर लेने के बाद के विकल्पों के बारे में ही बात करेंगे।

एमसीए के बाद विद्यार्थी किन क्षेत्रों में और किन पदों पर नौकरी ले सकते हैं।

MCA के बाद क्या करें?

एमसी के बाद क्या करें, के सवाल के जवाब में MCA पास विद्यार्थी के पास कंप्यूटर से संबंधित कई क्षेत्रों में अच्छे job profiles का विकल्प होता है। 

यदि आपने एमसीए कर लिया है, तो फिर इसी क्षेत्र में अच्छी खासी सैलरी वाली जॉब के लिए आपको और किसी अन्य कोर्स को करने की जरूरत नहीं है। 

इससे थोड़े अलग field में नौकरी के लिए आप कुछ दुसरे कोर्स कर सकते हैं।

लेकिन ज्यादातर विद्यार्थी एमसीए के बाद एक अच्छी नौकरी की तरफ ही जाते हैं, क्योंकि इसके बाद अच्छे नौकरियों के काफी विकल्प होते हैं।

हालांकि एमसीए के बाद यदि आप हायर स्टडीज के लिए जाना चाहते हैं, तो आप एमई (कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग) कर सकते हैं। 

एमई में admission लेने के लिए MCA (10+2+3+3 वर्ष पैटर्न) या BE/B.tech की eligibility criteria चाहिए होती है।

MCA के बाद आप PhD भी कर सकते हैं। पीएचडी करने के लिए आपसे MCA की डिग्री और मान्य GATE score मांगी जाती है।

पीएचडी की कम से कम अवधि 2 वर्ष की होती है पर आप इसे 5 साल तक पूरा कर सकते हैं। 

MCA पूरी कर लेने के बाद अगर आप एक अच्छा programmer बनने के लिए आपको programming languages जावा, सी++, सी, .net और एएसपी के साथ NET की अच्छी जानकारी भी जरुर होनी चाहिए। 

Networking field में काम करने के लिए आपको linux, एसक्यूएक की basic जानकारी होनी चाहिए।

नौकरी देने वाली कंपनियों को impress करने के लिए आपको सीसीएनपी, सीसीएनए और सीसीआईई जैसे courses में quick certification लेना चाहिए।

MCA के बाद career options

एमसीए के बाद अच्छी नौकरियों के बहुत से ऑप्शन हैं, इसके बाद के मुख्य job profiles में निम्नलिखित नाम आते हैं –

  • Software developer/programmer/engineer
  • Business analyst
  • App developer
  • Software application architect
  • System analyst
  • Software consultant
  • Troubleshooter
  • Web Designer/Developer
  • Hardware engineer
  • Technical writer                        आदि।

Software developer/programmer/engineer

MCA के बाद सबसे ज्यादा विद्यार्थी एक सॉफ्टवेयर डेवलपर के तौर पर ही काम करना चाहते हैं। सॉफ्टवेयर डेवलपर का काम complicated software systems को डिजाइन करना और उन्हें मेंटेन करने का होता है।

साथ ही इससे  संबंधित किसी तरह की समस्या आने पर उसका निवारण यही करते हैं। Software developer coding skills से IT service देते हैं। एक सॉफ्टवेयर डेवलपर की सैलरी अच्छी खासी होती है।

Business analyst

एमसीए के बाद बिजनेस एनालिस्ट एक काफी अच्छा जॉब प्रोफाइल है। मुख्य रूप से बिजनेस एनालिस्ट का काम बिजनेस के टेक्निकल और नॉन टेक्निकल दोनों ही पहलुओं को सुलझाने का होता है।

इसमे मुख्य रूप से आपको अपने बिजनेस और product के management पर ध्यान देना होता है। एक अच्छे बिजनेस एनालिस्ट की सैलरी भी अच्छी खासी होती है।

App developer

App तो अपने स्मार्टफोन और कंप्यूटर में इस्तेमाल करते ही हैं। App developer ही ये apps बनाते हैं। apps के जरिए आज आपको लगभग हर तरह की सर्विस ही मिल जाती है।

एप डेवलपर का काम अलग-अलग प्लेटफॉर्म्स के लिए एप्स design करने का होता है। किसी अच्छे कंपनी में एप डेवलपर की शुरुआती सैलरी आसानी से 25 से 30 हज़ार रुपए प्रति महीने तक हो सकती है, और समय के साथ यह बढ़ती है।

Software application architect

अच्छे Visualisation और imaginative skills वाले उम्मीदवारों के लिए एमसीए के बाद सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन आर्किटेक्ट अच्छा जॉब प्रोफाइल हो सकता है।

इनका काम IT products और services की designing यानी architecture में मदद करने का होता है। इसमें भी उम्मीदवार बेहतरीन सैलरी पैकेज पा सकते हैं।

System analyst

System analyst का काम बिजनेस को अच्छे से चलाने और productivity बढ़ाने के लिए इन्नोवेटिव आईटी सॉल्यूशंस के मॉडल्स डिजाइन करने का होता है।

एक तरह से कह सकते हैं कि सिस्टम एनालिस्ट सर्विस प्रोवाइडर और client के बीच में एक महत्वपूर्ण कड़ी होता है। System analyst भी अच्छी सैलरी वाली job प्रोफाइल है।

Software consultant

एक Software consultant का काम business अच्छी तरह से चलाने के लिए सबसे अच्छे software solutions और इससे संबंधित दूसरे feedbacks उपलब्ध कराने का होता है।

Software consultant भी MCA के बाद एक लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल है। इसके बाद आप आगे अपनी consultancy service भी शुरू कर सकते हैं।

Troubleshooter

आसान भाषा में एक ट्रबल शूटर का काम troubles यानी कि कंप्यूटर हार्डवेयर और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की प्रॉब्लम की जांच करने का होता है। इसके अलावा जिन लोगों को टेक्नोलॉजी की जरूरत होती है उन्हें भी यह सर्विस देता है।

Basically, IT issues को सुलझाने का काम ट्रबल शूटर ही करता है। इसमें भी शुरुआती सैलरी 25000 से ज्यादा तक की हो सकती है।

Web Designer/Developer

ये वेब डेवलपर्स से थोड़ा अलग प्रोफाइल है। आज के समय में इंटरनेट और ऑनलाइन मार्केटिंग में वेब डिजाइनिंग की काफी ज्यादा मांग है।

असल में वेब डिजाइनर क्लाइंट्स द्वारा बताए गए निर्देशों के आधार पर वेबसाइट डिजाइन और डिवेलप करता है। Professional Web designers को वेबसाइट डिजाइन करने के अच्छे खासे पैसे मिलते हैं।

Hardware engineer

एक Hardware engineer के काम में computer hardware systems से संबंधित काम होते हैं। जैसे कि circuit boards, hard disk, printer, router, keyboard, wires आदि की repairing।

इसके अलावा इनके काम में hardware equipments के production और उनकी testing का भी काम होता है। एमसीए के बाद हार्डवेयर इंजीनियर की सैलरी भी अच्छी खासी रहती है।

Technical writer

टेक्निकल स्किल्स के साथ-साथ यदि आप बढ़िया लिख सकते हैं तो आप टेक्निकल राइटिंग में अच्छा करियर बना सकते हैं।

एमसीए के बाद बहुत से विद्यार्थी इस जॉब प्रोफाइल में भी जाते हैं। सीधे तौर पर कहे तो टेक्निकल राइटर का काम user manuals/guides, project design, specifications, product descriptions जैसे टेक्निकल डाक्यूमेंट्स लिखने का होता है। यह भी अच्छी सैलरी वाला जो प्रोफाइल है।

यह सारे एमसीए कोर्स के बाद चुने जाने वाले कुछ सबसे लोकप्रिय जॉब प्रोफाइल्स है।

पर इनके अलावा भी एमसीए किए हुए विद्यार्थीयों के लिए कुछ दूसरी नौकरियां हो सकती हैं। उम्मीदवार अपने इंटरेस्ट के हिसाब से इनका चुनाव कर सकते हैं।

Conclusion

ऊपर इस आर्टिकल में हमने एमसीए के बाद के विकल्पों के बारे में बात की है।

एमसीए पूरी कर लेने के बाद उम्मीदवारों के पास बहुत से अच्छे job profiles के options होते हैं और हमने ऊपर उन्हीं की बात की।

नौकरी से पहले एमसीए ग्रैजुएट्स हायर एजुकेशन के लिए भी जा सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.