आईपीएस सिलेबस 2022 | IPS syllabus In Hindi

दोस्तों इस आर्टिकल में हम IPS syllabus के बारे में बात करेंगे।

जब भी पुलिस के सबसे उच्च पदों के ऑफिसरो की बात होती है, तो उसमें आईपीएस ऑफिसर (IPS officer) का नाम जरूर आता है।

भारतीय प्रशासनिक सेवा की गिनती देश के सबसे प्रतिष्ठित सरकारी नौकरियों में होती है और उसमें IPS के बाद सबसे बड़ी नौकरी IPS को ही कहा जाता है।

IPS officer बनने के लिए Civil Services की परीक्षा पास करनी होती है, और यह देश की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है।

ऐसे में एक आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए, और civil services की परीक्षा पास करने के लिए IPS syllabus 2022 के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है।

IPS syllabus 2022

यहां इस लेख में हम मुख्य तौर पर IPS syllabus 2022 के बारे में ही अच्छे से बात करेंगे।

IPS के syllabus में किन विषयों से प्रश्न रहते हैं, इसमें कौन-कौन से topics included होते हैं, सभी के बारे में अच्छे से जानेंगे। 

IPS बनने के लिए UPSC पास करना होता है 

जो भी विद्यार्थी एक आईपीएस ऑफिसर बनना चाहते हैं उन्हें यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सर्विसेज की परीक्षा (civil services examination) पास करनी होती है, इसे UPSC exam के नाम से भी जाना जाता है।

Union public service commission of India हर साल सिविल सर्विसेज में नियुक्ति के लिए CSE (civil service examination) का आयोजन करता है।

इसमें अलग अलग वर्गों के शीर्ष rank लाने वाले उम्मीदवारों को मुख्यत: आईएएस या आईपीएस में से चयन करना होता है।

जिन उम्मीदवारों की रुचि police service से जुड़ने की होती है वे आईपीएस का चुनाव करते हैं और police विभाग में SP आदि के पद पर नियुक्ति किए जाते हैं।

IPS syllabus in hindi

तो IPS  बनने के लिए उम्मीदवार को UPSC यानी कि union public service commission of India के द्वारा हर साल आयोजित की जाने वाली civil service examination (CSE) ही पास करनी होती है।

इसीलिए IPS syllabus 2022 कहने के बजाय UPSC syllabus 2022 कहना ही ज्यादा सही रहता है।

IPS बनने के लिए यूपीएससी द्वारा आयोजित यह परीक्षा तीन चरणों में आयोजित होती है। इसमें –

  • UPSC prelims (Pre)
  • UPSC mains (mains)
  • Interview (साक्षात्कार)

आते हैं। इन तीनों ही चरणों को पास करने वाले उम्मीदवार जो UPSC में top ranks लाते हैं, उन्हीं को उनके चुनाव के हिसाब से IPS के तौर पर सेलेक्ट किया जाता है।

अब हम एक IPS बनने के लिए आयोजित यूपीएससी के तीनों चरणों के syllabus को एक-एक करके देख लेते हैं।

UPSC IPS prelims syllabus in hindi

प्रीलिम्स यूपीएससी की परीक्षा का पहला चरण होता है, और प्रीलिम्स में 2 paper्स की परीक्षा ली जाती है।

इसे क्वालीफाइंग एग्जाम (qualifying exam) भी कहा जाता है।

इसमें पहला paper सामान्य अध्ययन यानी general studies और दूसरा paper CSAT का होता है –

  • General studies
  • CSAT

UPSC सिविल सर्विसेज की परीक्षा का सिलेबस काफी vast होता है, इसमें General studies के अंतर्गत बहुत सी चीजें पढ़नी होती है। 

General studies में –

  • भारतीय राज्यव्यवस्था
  • विज्ञान एवं प्राद्यौगिकी
  • भूगोल
  • इतिहास
  • भारतीय अर्थव्यवस्था
  • पर्यावरण एवं पारिस्थितिकि
  • अंतराष्ट्रीय सम्बन्ध 
  • करेंट अफेयर्स 

आदि topics से प्रश्न पूछे जाते हैं। General studies के paper में और भी कई विषयों से प्रश्न रहते हैं।

CSAT में –

उम्मीदवार की पढ़ने की समझ निर्णय लेने की समझ और उसकी तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमता को आंकने के लिए प्रश्न पूछे जाते हैं। इसमें –

  • Comprehension
  • Communication skills के साथ Interpersonal skills
  • Logical reasoning और analytical ability
  • Decision-making and problem solving
  • General mental ability
  • Basic numeracy (numbers और उनके relations, orders of magnitude, आदि) (Class X स्तर के)
  • Data interpretation (charts, graphs, tables, data sufficiency आदि  Class X स्तर के) 

के लिए प्रश्न रहते हैं। CSAT paper में भी वस्तुनिष्ठ प्रकार (objective type) के प्रश्न ही होते हैं।

इसमें प्रश्नों की कुल संख्या 80 होती है, पूर्ण अंक 200, और समय 2 घंटे का होता है।

General studies paper पास करने का आधार merit होता है।

वहीं यदि CSAT की बात करें तो इसमें 33% अंक लाना जरूरी होता है।

परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होती है, हर गलत उत्तर के लिए उम्मीदवार का ⅓ marks काटा जाता है।

UPSC mains की परीक्षा में बैठने के लिए प्रीलिम्स के दोनों paper्स पास करने अनिवार्य होते है।

Prelims Exam के pattern में, general studies के paper में प्रश्नों की कुल संख्या 100 होती है।

सारे प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के होते हैं, हर प्रश्न के 2 अंक के हिसाब से कुल 200 अंक हो जाते हैं और इसके लिए कुल 2 घंटे का समय मिलता है।

UPSC IPS mains syllabus in hindi

UPSC prelims पास करने वाले उम्मीदवारों को UPSC mains में बैठने की अनुमति होती है।

UPSC Mains की परीक्षा UPSC prelims के मुकाबले tough होती है।

क्यूंकि UPSC mains descriptive  यानी कि वर्णनात्मक परीक्षा होती है।

इसका मतलब है कि इसमें उम्मीदवार को subjective ( long ) answers लिखने होते हैं।

UPSC Mains के syllabus की बात करें तो इसमें कुल 9 paper देने होते हैं।

इन 9 papers में से 2 language के paper होते हैं, language में कुल 300 अंक की परीक्षा ली जाती है, और इसमें qualify करने के लिए 25% अंक लाना अनिवार्य होता है। 

Final result बनाते समय इन दो language papers को छोड़कर बाकी 7 papers को सम्मिलित किया जाता है।

ये 7 papers general studies और निबंध (essays) के होते हैं।

इन 9 papers में paper A भारत की किसी भी मान्य भाषा का, और फिर paper B अंग्रेजी का होता है।

दोनों ही papers 300-300 अंकों के होते हैं, और इनके लिए 3 घंटे का समय होता है। 

चूंकि paper A भाषा का है, इसीलिए अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड और सिक्किम राज्यों के उम्मीदवारों के लिए paper A compulsory नहीं रहता है।

  • paper I – निबन्ध (essay) का होता है। इसमें अलग-अलग important topics पर essay लिखना होता है। 
  • paper II – general studies 1 का होता है। इसमें भारतीय विरासत और संस्कृति, विश्व का इतिहास और भूगोल से प्रश्न रहते हैं।
  • paper III –  general studies II का होता है। इसमें शासन, संविधान, सामाजिक न्याय, राजनीति, अंतर्राष्ट्रीय सम्बन्ध से प्रश्न रहते हैं।
  • paper IV – general studies III का होता है। इसमें प्रद्योगिकी, आर्थिक विकास, जैव विभिन्नता, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन से प्रश्न रहते हैं।
  • paper V –  general studies IV का होता है। इसमें ईमानदारी, आचार-विचार और कौशल के लिए प्रश्न रहते हैं।
  • paper VI –  वैकल्पिक I / optional l होता है। इसमें उम्मीदवार अपने हिसाब से किसी भी एक वैकल्पिक विषय यानी optional subject का चुनाव कर सकता है। 
  • paper VII –  वैकल्पिक II / optional ll का होता है। इसमें भी उम्मीदवार अपने हिसाब से ऑप्शनल सब्जेक्ट रख सकता है। इन दोनो ही papers के लिए समय 3 घंटे का और कुल अंक 250 के होते हैं।

UPSC IPS interview syllabus in hindi

UPSC civil service examination interview का कोई सिलेबस नहीं होता।

जो विद्यार्थी prelims और उसके बाद mains qualify कर लेते हैं, उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

UPSC interview में यूपीएससी बोर्ड के senior IAS/IPS अधिकारियों द्वारा सवाल पूछे जाते हैं, जो किसी भी क्षेत्र से हो सकते हैं, क्योंकि यूपीएससी का सिलेबस बहुत ज्यादा vast है।

Interview 275 अंको का होता है। उम्मीदवारों का Final merit और उनका rank mains में आए अंकों और इंटरव्यू में आए अंको को जोड़कर बनाया जाता है।  

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने आईपीएस सिलेबस 2022 (IPS syllabus 2022) के बारे में बात की है।

प्रशासनिक सेवा में जाना बहुत से विद्यार्थियों का सपना होता है और उसमें से बहुत से एक आईपीएस अधिकारी बनना चाहते हैं।

इसके लिए यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास करनी होती है।

सफल होने के लिए यह जरूरी है कि विद्यार्थियों को इसके सिलेबस की पूरी सही जानकारी हो।

यहां हमने यूपीएससी सिलेबस के बारे में अच्छे से बताने का प्रयास किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.