भारत में एमबीबीएस की कुल सीटें?

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम मुख्य तौर पर बात करेंगे कि भारत में एमबीबीएस कोर्स की कुल कितनी सीटें उपलब्ध हैं?

किसी भी विद्यार्थी से पूछे जाने पर कि वह भविष्य में क्या बनना चाहता है,  ‘डॉक्टर’ सबसे कॉमन जवाबों में से एक होता है।

लाखों करोड़ों की संख्या में युवा डॉक्टर बनने के लिए मेडिकल की पढ़ाई करते हैं, और डॉक्टर बनने में एमबीबीएस का कोर्स सबसे महत्वपूर्ण है।

एक अच्छा डॉक्टर बनने के लिए एमबीबीएस के course को आप अनिवार्य समझ सकते हैं। 

देश में बहुत से प्राइवेट और सरकारी मेडिकल शिक्षण संस्थान है जो एमबीबीएस का कोर्स offer करते हैं, लेकिन हर एक college में एमबीबीएस कोर्स की सीट तो limited ही होती हैं।

ऐसे में कई बार विद्यार्थियों के मन में यह सवाल आना लाजमी है कि पूरे भारत में एमबीबीएस कोर्स के लिए कितनी seats उपलब्ध है?

भारत में एमबीबीएस की कुल कितनी सीटें हैं?

कौन कौन से सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेज एमबीबीएस का कोर्स ऑफर करते हैं और उनमें कितनी सीटें हैं।

इस आर्टिकल में हम मुख्यत: इसी की बात करेंगे, जानेंगे कौन-कौन से सरकारी और प्राइवेट कॉलेज एमबीबीएस का कोर्स ऑफर करते हैं और इनमें कुल कितनी सीटें हैं?

भारत में mbbs की कुल seats

दोस्तों भारत के मेडिकल शिक्षण संस्थानों में एमबीबीएस की कुल सीट के बारे में जानने से पहले थोड़ा सा संक्षिप्त में एमबीबीएस के कोर्स के बारे में बात कर लेते हैं।

MBBS का full form बैचलर ऑफ मेडीसिन और बैचलर ऑफ सर्जरी है, यह मेडिकल पेशे के लिए बुनियादी या डिग्री स्तर की योग्यता है।

यह 5 और 1/2 वर्ष की अवधि का है। इसमें 4.5 वर्ष की अकादमिक अध्ययन को पूरा करने के बाद, उम्मीदवार को 1 साल का mandatory internship करना होता है।

असल में एमबीबीएस के कोर्स में दाखिला राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाली NEET यानी National eligibility come entrance test परीक्षा के अंकों के आधार पर होता है।

जो विद्यार्थी अच्छे सरकारी संस्थान से एमबीबीएस की डिग्री लेना चाहते हैं उनके लिए NEET की परीक्षा पास करना अनिवार्य होता है।

इसीलिए कई बार एमबीबीएस की सीट के बजाय इसे NEET की सीट भी कहा जाता है।

अब जब हम पूरे भारत में एमबीबीएस के कोर्स के लिए उपलब्ध कुल सीटों की बात करेंगे तो इसमें सरकारी मेडिकल शिक्षण संस्थानों में उपलब्ध एमबीबीएस की सीट, फिर प्राइवेट मेडिकल कालेजों में उपलब्ध एमबीबीएस की सीट, साथ ही Deemed universities और  Central universities में भी एमबीबीएस के कोर्स में कितनी सीटें हैं, यह सब गिने जाएंगे।

तो सबसे पहले जानते हैं कि भारत में कुल कितने मेडिकल कॉलेज एमबीबीएस का कोर्स ऑफर करते हैं। 2021 तक भारत में एमबीबीएस का कोर्स ऑफर करने वाले मेडिकल कॉलेजेस की कुल संख्या 595 है।

इसमें सरकारी और प्राइवेट और अन्य मेडिकल इंस्टिट्यूट शामिल है। और इन 595 कॉलेजों में एमबीबीएस की कुल सीटों की संख्या 88,370 है।

अब एमबीबीएस का कोर्स ऑफर करने वाले सरकारी और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजेस की अलग-अलग बात करें तो भारत में गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेजेस की कुल संख्या 302 है, और प्राइवेट मेडिकल कॉलेजेस की संख्या 218 है।

वहीं deemed university 47 और central universities 03 हैं। एमबीबीएस के लिए AIIMS यानी All India institute of medical science की संख्या 19 है।

सिर्फ सरकारी कॉलेजों में एमबीबीएस की सीट की बात करें तो गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेजेस, AIIMS, central universities और ESIC को मिलाकर एमबीबीएस की सीटों की कुल संख्या 44,555 है।

वहीं private और deemed medical colleges में एमबीबीएस कोर्स के लिए उपलब्ध सीटों की संख्या 43,815 है। Deemed universities में एमबीबीएस कोर्स के लिए सीटों की संख्या 8,050 है।

देश में एमबीबीएस की सीटें बढ़ी हैं 

आज के समय में देश में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र से जुड़ी आवश्यकताएं तेजी से बढ़ रही है, और इसकी मांग को पूरा करने के लिए भारत सरकार हर साल भारत में कॉलेजों की संख्या, नीट के माध्यम से बीडीएस सीटों और कुल एमबीबीएस सीटों की संख्या बढ़ाने का प्रयास कर रही है।

इसका main मक़सद व्यवस्था में अधिक से अधिक डॉक्टरों को शामिल करना और इसे और मजबूत करना है। सरकार ने समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए घोषित EWS quota लागू करने के जरिये उपलब्ध एमबीबीएस की सीटों में वृद्धि की भी है।

State wise colleges में MBBS की seats

S.No.राज्य का नामGovt. MBBS seatPrivate MBBS seatsTotal MBBS seats
1.andaman and nicobar islands1000100
2.आंध्र प्रदेश 2410       28005210
3.असम110001100
4.बिहार149010502140
5.चंडीगढ़1500150
6.छत्तीसगढ़9656001565
7.दादर और नगर हवेली1500150
8.दमन और दीव000
9.महाराष्ट्र473047209,450
10.मणिपुर225150375
11.मेघालय25025
12.मिजोरम1000100
13.नागालैंड000
14.ओडिशा12507001950
15.पुडुचेरी38011501530
16.तेलंगाना179034505240
17.त्रिपुरा50050
18.उत्तराखंड525300825
19.उत्तर प्रदेश407844007428
20.पश्चिम बंगाल315011504000
21.झारखंड630150780
22.कर्नाटक290065959345
23.केरल155525504105
24.लक्षद्वीप000
25.दिल्ली12222001422
26.जम्मू कश्मीर9851001085
26.मध्य प्रदेश213514503585
28.हरियाणा7109501660
29.हिमाचल प्रदेश720150870
30.गोवा1800180
31.गुजरात205020005650

MBBS में दाखिले के लिए पात्रता 

भारत में एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश के लिए पात्रता मानदंड की बात करें तो यह भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआई) के नियमों और विनियमों पर आधारित होती है।

जो उम्मीदवार भारत में mbbs के पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने की सोचते हैं उन्हें कक्षा 12 वीं भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान के साथ कम से कम 50% के साथ पास होना जरूरी होता है, और यह सामान्य श्रेणी के लिए है।

पिछली श्रेणी के लिए और 40% पीसीबी के साथ कक्षा 12 वीं पास मान्य होता है।

आयु सीमा की बात करें तो उम्मीदवार को कम से कम 17 वर्ष का होना चाहिए, जबकि अधिकतम आयु 25 वर्ष तक ही होनी चाहिए।

Conclusion

ऊपर दिए गए आर्टिकल में हमने भारत में एमबीबीएस कोर्स के लिए उपलब्ध कुल सीटों के बारे में चर्चा की है।

हमने बात की है कि भारत में कुल कितने मेडिकल शिक्षण संस्थान एमबीबीएस का कोर्स उपलब्ध कराते हैं, अलग-अलग कॉलेजस में एमबीबीएस के कोर्स के लिए कितने सीटें उपलब्ध हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.