पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए? | Paramedical course ke liye yogyta kya chahiye

दोस्तों इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?

मेडिकल लाइन आज के समय में विद्यार्थियों के लिए करियर के सबसे मुख्य विकल्पों में से एक होता है।

सिर्फ डॉक्टर ही नहीं बल्कि इसके अलावा भी मेडिकल लाइन में अच्छे profession के कई विकल्प होते हैं।

इन्हीं में एक नाम आता है पैरामेडिकल कोर्सेज का।

कम खर्च में और कम समय में यदि आप मेडिकल लाइन में किसी अच्छी नौकरी की तलाश में है, तो 12 वीं के बाद या फिर दसवीं के बाद भी पैरामेडिकल कोर्स कर सकते हैं, और इस क्षेत्र में एक अच्छी सैलरी वाली नौकरी पा सकते हैं।

Paramedical courses में कई courses का नाम आता है ऐसे में कई विद्यार्थियों के मन में यह कंफ्यूजन या कहें यह सवाल रहता है, कि पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए? या paramedical courses के लिए क्या qualifications चाहिए?

पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?

यहां इस आर्टिकल में हम मुख्य तौर पर इसी की बात करेंगे कि पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?

पैरामेडिकल कोर्स में दाखिला लेने के लिए विद्यार्थियों से क्या क्वालीफिकेशंस मांगी जाती है? 

पैरामेडिकल कोर्स क्या है?

पैरामेडिकल कोर्स के लिए जरूरी योग्यता के बारे में जानने से पहले पैरामेडिकल कोर्स क्या है, इस बात को अच्छे से समझना जरूरी है।

आसान भाषा में, किसी अस्पताल में मुख्य doctors के अलावा जितने भी लोग कार्यरत होते हैं, उन्हें पैरामेडिकल स्टाफ कहते हैं, इन्हें सहायक चिकित्सक कहा जा सकता है।

और पैरामेडिकल कोर्स करके आप paramedic ही बनते हैं। मेडिकल के क्षेत्र में पैरामेडिकल नौकरी लेने के लिए एक शैक्षणिक कोर्स होता है। 

पैरामेडिकल का चुनाव उन उम्मीदवारों के लिए एक बेहतर विकल्प है, जो विज्ञान एवं अस्पताल के कार्यों में रुचि रखते हैं।

इस क्षेत्र को चुनकर आप अपने भविष्य को सुरक्षित एवं बेहतर बना सकते हैं।

हॉस्पिटल, नर्सिंग होम, टेस्ट लैबोरेट्रीज, क्लीनिक और चिकित्सा विज्ञान के दूसरे तमाम क्षेत्रों में paramedical staff की बड़ी जरूरत रहती है।

Paramedical में बहुत सारे courses आते हैं। 

  • Degree paramedical courses
  • Diploma paramedical courses
  • Certificate paramedical courses

अस्पतालों में डॉक्टर के साथ जो सहायक होते हैं, उन्होंने पारा मेडिकल का कोर्स ही किया होता है।

Urine test, blood test, x ray, ultrasound, CT scan, MRI आदि अस्पतालों में पैरामेडिकल स्टाफ ही करते हैं।

इनके अलावा भी पैरामेडिकल कोर्स में इन्हें और कई जरूरी चीजे सिखाई जाती है।

पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?

पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए उम्मीदवार के पास निम्नलिखित जरूरी योग्यताओं का होना जरूरी है –

  • Paramedical course में दाखिले के लिए सामान्यतः उम्मीदवारों से 12वीं पास की योग्यता मांगी जाती है। उम्मीदवार को कम से कम 50% अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से बारहवीं उत्तीर्ण होना जरूरी है।
  • Paramedical course में दाखिला लेने के लिए यह जरूरी है कि विद्यार्थी ने दसवीं के बाद कक्षा 11वीं और 12वीं में साइंस स्ट्रीम और उसमें भी PCB यानी physics, chemistry और biology विषयों का चुनाव किया हो।
  • दसवीं के बाद भी आप पारा मेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए आपका अच्छे अंकों के साथ मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं पास होना जरूरी है।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए उम्मीदवार का मान्यता प्राप्त संस्थान से अच्छे अंकों के साथ ग्रेजुएशन किया हुआ होना जरूरी है।

12वीं के बाद के paramedical courses लिए योग्यता

हमने ऊपर बात की है कि पैरामेडिकल कोर्सेज में मुख्यतः तीन प्रकार आते हैं।

जिसमें से degree paramedical courses और diploma paramedical courses के लिए विद्यार्थी सामान्यत: 12वीं के बाद ही दाखिला ले सकते हैं।

12वीं के बाद इन पैरामेडिकल कोर्स इसके लिए जरूरी योग्यता की बात करें तो –

  • पहला तो यही है कि आपको साइंस स्ट्रीम में बायोलॉजी के साथ किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 50% अंकों के साथ 12वीं उत्तीर्ण होना जरूरी है।
  • Diploma paramedical courses के लिए generally कोई minimum percentage निर्धारित नहीं होती अलग-अलग कॉलेज के लिए यह क्राइटेरिया अलग-अलग रहती है।
  • बहुत से कॉलेज विद्यार्थियों का दाखिला बोर्ड परीक्षा में आए अंकों के आधार पर भी एक्सेप्ट करते हैं।
  • ज्यादातर कॉलेज राष्ट्रीय स्तर पर या राज्य स्तर पर आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षाओं के आधार पर पैरामेडिकल कोर्स में दाखिला देते हैं। जबकि कुछ खुद की भी प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करते हैं। इसमें NEET प्रमुख प्रवेश परीक्षा में आता है।

12वीं के बाद डिग्री पैरामेडिकल कोर्सेज में –

BOT – Bachelor of Occupational Therapy), B.Sc (Audiology and Speech Therapy), B.Sc in Operation Theatre Technology आदि जैसे अन्य कई बैचलर डिग्री पैरामेडिकल कोर्सेज का नाम आता है। 

12वीं के बाद डिप्लोमा पैरामेडिकल कोर्सेज में –

Diploma in Medical Laboratory Technology, Diploma in Dialysis Technology, Diploma in Medical Imaging Technology, Diploma in Anaesthesia, Diploma in OT Technician आदि जैसी अन्य कई डिप्लोमा पैरामेडिकल कोर्सेज का नाम आता है।

Graduation के बाद के paramedical courses लिए योग्यता

विद्यार्थी ग्रेजुएशन के बाद भी पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर पर पैरामेडिकल कोर्स कर सकते हैं।

पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर भी डिग्री पैरामेडिकल कोर्स और डिप्लोमा पैरामेडिकल कोर्स दोनों ही उपलब्ध होते हैं।

ग्रेजुएशन के बाद इन पैरामेडिकल कोर्सेज में दाखिले के लिए निम्नलिखित योग्यता चाहिए होती है –

  • यदि विद्यार्थी पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर के पैरामेडिकल कोर्स में दाखिला चाहते हैं तो इसके लिए उन्हें साइंस स्ट्रीम के विषय के साथ किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कम से कम न्यूनतम जरूरी अंकों के साथ ग्रेजुएशन पास करना जरूरी है। यानी कि उम्मीदवार के पास bachelor’s degree होनी चाहिए।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन पैरामेडिकल कोर्सेज में दाखिले के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा को भी पैरामेडिकल कोर्स में दाखिला लेने के लिए जरूरी योग्यता में गिना जा सकता है। पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर NEET-PG या AIIMS आदि की भी प्रवेश परीक्षाएं होती हैं, जिन्हें पास करने के बाद ही उम्मीदवार पारा मेडिकल पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स में दाखिला ले सकते हैं।

पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल की कुछ पैरामेडिकल कोर्स में –

MD in Pathology, MD in Radiodiagnosis, MD in Anaesthesia, Master in Physiotherapy (MPT), PG Diploma in Anesthesiology, Post Graduate Diploma in Child Health, Post Graduate Diploma in Medical Radio-diagnosis (D.M.R.D.), M.Sc. Medical Lab Technology आदि courses का नाम आता है।

Certificate paramedical courses के लिए योग्यता

दसवीं के बाद भी विद्यार्थियों के पास कुछ पैरामेडिकल सर्टिफिकेट कोर्सेज करने का ऑप्शन होता है।

कुछ certificate paramedical courses में दाखिले के लिए 10वीं की योग्यता भी पर्याप्त होती है।

इनमें दाखिला लेने के लिए उम्मीदवारों का विज्ञान विषय के साथ (जो कि दसवीं तक पढ़ना ही होता है) अच्छे अंकों के साथ किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं उत्तीर्ण होना जरूरी है।

दसवीं पास करने के बाद विद्यार्थी कुछ सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्सेज में दाखिला ले सकते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने बात की है कि पैरामेडिकल कोर्स के लिए योग्यता क्या चाहिए?

या पैरामेडिकल कोर्स में दाखिले के लिए क्या क्वालिफिकेशन मांगी जाती है। पैरामेडिकल कोर्स विद्यार्थी सामान्यता 12वीं के बाद और फिर पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर पर भी कर सकते हैं।

इसके अलावा सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्स में दसवीं के बाद भी दाखिला लिया जा सकता है।

यहां हमने अलग-अलग स्तर पर पैरामेडिकल कोर्सेज में दाखिले के लिए जरूरी योग्यताओं की बात की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.