कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स | Computer Diploma course

इस आर्टिकल में हम कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स के बारे में बात करेंगे।

दोस्तों ज्यादातर विद्यार्थियों का लक्ष्य अपनी पढ़ाई पूरी करके एक अच्छी नौकरी लेने का ही होता है। 

और वर्तमान समय में, सरकारी या प्राइवेट, किसी भी क्षेत्र में नौकरी करने के लिए कंप्यूटर की नॉलेज बहुत ही जरूरी हो गया है। 

यदि विद्यार्थी के पास किसी कंप्यूटर कोर्स का सर्टिफिकेट होता है तो उसे आसानी से अच्छी नौकरी मिल सकती है। 

Computer courses में अलग-अलग प्रकार के course होते हैं, जिसमें degree computer courses, certificate computer courses और diploma computer courses आ जाते हैं। 

Computer Diploma course

यहां हम Diploma Computer Courses की बात करेंगे। विद्यार्थी अक्सर diploma computer courses की जानकारी चाहते हैं।

विद्यार्थी सामान्यतः 12वीं पास करने के बाद ही diploma computer courses में दाखिला लेते हैं। 

यहां हम कुछ मुख्य diploma computer courses के बारे में बात करेंगे, जिन्हें विद्यार्थी 12वीं के बाद कर सकते हैं।

Diploma Computer Courses

दोस्तों वर्तमान समय में किसी भी क्षेत्र में नौकरी लेने के लिए कंप्यूटर की नॉलेज और कंप्यूटर कोर्स का सर्टिफिकेट होना अनिवार्य सा हो गया है। 

यदि आप प्राइवेट क्षेत्र में नौकरी के लिए जाते हैं, तो भी आपको किसी अच्छे कंप्यूटर कोर्स का सर्टिफिकेट दिखाना होता है। 

और बहुत से सरकारी नौकरियों के लिए भी कंप्यूटर कोर्स का सर्टिफिकेट और इसका एग्जाम भी देना होता है। 

जिन विद्यार्थियों का 11वीं और 12वीं में कंप्यूटर रहा हो, या जिनका नहीं भी रहा हो उनके लिए भी, 12वीं के बाद computer diploma courses उपलब्ध होते हैं। 

Computer से संबंधित कुछ अलग-अलग diploma courses को विद्यार्थी कर सकते हैं और उससे संबंधित क्षेत्र में आगे अच्छा करियर बना सकते हैं।

कुछ मुख्य Diploma Computer Courses –

Computer courses में कई अलग-अलग diploma computer courses का नाम आता है, जिसमें से कुछ मुख्य नाम नाम निम्नलिखित हैं –

  • Diploma in Animation & VFX
  • Diploma in Digital Marketing
  • Diploma in Mobile Application Development
  • Diploma in web Designing and Development
  • Diploma in Software Engineering
  • Diploma in Hardware Engineering
  • Diploma in Graphic Designing
  • MS office Certification Program
  • Computer Aided Design and Drawing
  • etc.

अब हम एक-एक करके इन अलग-अलग diploma computer courses के बारे में संक्षिप्त में जान लेते हैं। 

Diploma in Animation & VFX

कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्सेज में animation course, specialisation का एक मुख्य क्षेत्र बन रहा है। 

असल में यह ग्राफिक डिजाइनिंग का एक पार्ट होता है। पर बहुत से विद्यार्थी कंप्यूटर में इस कोर्स को स्पेशलाइजेशन के रूप में चुनते हैं। 

यह सामान्यतः 1 साल की अवधि का डिप्लोमा कंप्यूटर कोर्स होता है। आज के समय में टीवी पर कार्टून एनिमेशन आदि में इसी का इस्तेमाल होता है। 

Movies आदि में visual effects के लिए VFX और animation का इस्तेमाल होता है। 

इस कोर्स के बाद VFX Professional (freelance), VFX Expert, Film Animationist, Visual Effects Expert, Trainer, Creative Head आदि जैसे कई जॉब प्रोफाइल्स उपल्ब्ध हैं।

Diploma in Digital Marketing

Digital marketing एक vast और wide क्षेत्र है, और इसके साथ साथ यह कंप्यूटर courses में सबसे unique courses में भी आता है। 

डिजिटल मार्केटिंग के कंप्यूटर कोर्स के अंतर्गत कंटेंट राइटिंग, सोशल मीडिया, ईमेल मार्केटिंग, मार्केटिंग एनालिटिक्स जैसी कई सारी चीजें आ जाती हैं। 

खास तौर पर बिजनेस के लिए या ब्रांड के प्रमोशन आदि के लिए डिजिटल मार्केटिंग बहुत ही अच्छा रहता है। 

यदि आप blogging आदि जैसे किसी भी ऑनलाइन काम से जुड़े हैं, तो रीता मार्केटिंग में डिप्लोमा करना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। 

इस कंप्यूटर कोर्स के बाद डिजिटल मार्केटर, सोशल मीडिया मैनेजर, SEO consultant जैसे कई job profiles उपलब्ध हैं।

Diploma in Mobile Application Development

आज के समय में स्मार्टफोन के इस्तेमाल से तो हम सब वाकिफ हैं ही। 

स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या बहुत- बहुत बड़ी है। और इसीलिए मोबाइल एप्लीकेशंस की संख्या भी उतनी ही ज्यादा है। 

Short term Mobile App development Diploma courses 6 महीने तक के हो सकते हैं। 

वर्तमान में यह भी, कंप्यूटर से संबंधित करियर का एक अच्छा field है। 

इन Diploma courses के बाद विद्यार्थी Application designer, User Interface designer, Application developer, Entrepreneur, App tester जैसी job profiles के लिए जा सकते हैं।

Diploma in web Designing and Development

Diploma computer courses में यह भी एक अच्छा विकल्प है। 

यह सामान्यतः 3-6 महीने का डिप्लोमा कोर्स हो सकता है, हालांकि इसकी अवधि 1 साल तक भी जा सकती हैं। 

कंप्यूटर के इस कोर्स में वेबसाइट बनाना और उसे मेंटेन  करने के बारे में ही सिखाया जाता है। 

इंटरनेट के बढ़ते इस्तेमाल के साथ हर छोटा-बड़ा व्यापार online शिफ्ट हो रहा है। 

इसीलिए हर किसी को वेबसाइट बनाने की जरूरत रहती है, जिसके लिए वेब डिजाइनर ओर डेवलपर को हायर किया जाता है। 

इस कोर्स के बाद Web designer (independent या Agencies/MNCs के लिए), Web Developer, UEX Designer, Graphics Designer जैसे job profiles में जा सकते हैं।

Diploma in Software Engineering

Software Engineering में Diploma करने पर आपको मुख्य तौर पर computer languages में expertise करनी होती है। 

कंप्यूटर लैंग्वेज के इस्तेमाल से ही आप सॉफ्टवेयर डेवलपर कर सकते हैं। 

Software engineering में long term diploma courses ही recommend किए जाते हैं, जिससे कि आगे चलकर भविष्य में उम्मीदवार किसी अच्छी जगह पर या अच्छी कंपनी के लिए काम कर सके।

Diploma in Hardware Engineering

कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर के साथ-साथ हार्डवेयर की सही जानकारी भी उतनी ही जरूरी है। 

यह भी एक जरूरी और अच्छा डिप्लोमा कंप्यूटर कोर्स है। 

Hardware Engineering Diploma computer course, computer hardwares जैसे कि मॉनिटर, सीपीयू आदि की पढ़ाई से संबंधित होता है। 

हार्डवेयर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा के बाद उपलब्ध करियर ऑप्शंस में प्राइवेट कंप्यूटर फर्म्स और service stations में jobs के अवसर रहते हैं। 

Diploma in Graphic Designing

क्रिएटिव विद्यार्थियों के लिए ग्राफिक डिजाइनिंग का डिप्लोमा कंप्यूटर को सबसे अच्छा हो सकता है। 

आज के समय में बहुत से क्षेत्रों में ग्राफिक डिजाइनिंग का  इस्तेमाल होता है। 

Graphic designing में diploma करने के बाद विद्यार्थी Graphics designer (independent या Corporate team के लिए), Brand identity manager, Printing specialist, Creative director, Digital magazines या दूसरे publishing firms में Graphic designer जैसी job profiles के लिए जा सकते हैं।

MS office Certification Program

कंप्यूटर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले टूल्स में एमएस ऑफिस का नाम आता है। 

एमएस वर्ड, एमएस पावरप्वाइंट और एमएस एक्सल आदि कस्टमर बहुत से कामों में होता है। आपने भी इनका नाम जरूर सुना होगा या इन पर काम भी किया होगा। 

एमएस ऑफिस सर्टिफिकेशन प्रोग्राम में खासतौर पर एमएस ऑफिस और इसके सभी tools के बारे में विस्तार से पढ़ाया जाता है। 

अस्पतालों, उद्योगों, रेस्टोरेंट्स स्कूल/कॉलेजेस आदि में बड़े अमाउंट में डाटा को मैनेज करने के लिए MS office experts की जरूरत होती है।

Computer Aided Design and Drawing

यह computer course कंप्यूटर के टेक्निकल एजुकेशन से संबंधित होता है। 

जिन विद्यार्थियों की टेक्निकल क्षेत्र में रुचि हो, वे कंप्यूटर डिप्लोमा कोर्स में यह कोर्स कर सकते हैं। 

मैकेनिकल या इलेक्ट्रिकल trade वाले इंजीनियरिंग छात्र भी यह कंप्यूटर कोर्स कर सकते हैं। 

इस diploma कोर्स में कंप्यूटर से Designing और drawing सिखाया जाता है, जिसका इस्तेमाल कई क्षेत्रों में होता है।

ये कुछ मुख्य computer diploma courses के विकल्प थे। हालांकि इनके अलावा भी डिप्लोमा और एडवांस डिप्लोमा स्तर पर कई अन्य कंप्यूटर कोर्स उपलब्ध हैं, जिनका विद्यार्थी अपने रुचि और करियर के हिसाब से चयन कर सकते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने Computer Diploma course के बारे में बात की है। 

यहां हमने कुछ मुख्य डिप्लोमा कंप्यूटर कोर्सेज के बारे में जाना है, जो आज के समय में काफी लोकप्रिय हैं। 

बहुत से विद्यार्थी इन computer courses को करते हैं, और इसके के बाद इनसे संबंधित अलग-अलग क्षेत्रों में अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.