कंप्यूटर कोर्स करने के फ़ायदे क्या हैं? | Computer course karne ke fayde

दोस्तों इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि कंप्यूटर कोर्स करने के फायदे क्या हैं? कंप्यूटर कोर्स करने से विद्यार्थियों को क्या फायदे हैं?

दोस्तों आज का समय ज्ञान और तकनीक का समय है, और हर क्षेत्र में ही Technology का इस्तेमाल हो रहा है।

और इस तकनीक का एक बहुत ही महत्वपूर्ण भाग ‘कंप्यूटर’ है। चाहे हम किसी भी क्षेत्र की बात कर लें, अनगिनत कामों के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल होता है।

ऐसे में जिन विद्यार्थियों को कंप्यूटर की अच्छी जानकारी होती है, उन्हें आसानी से नौकरी मिल जाती है।

कंप्यूटर कोर्स आज के समय में एक अनिवार्य योग्यता सी हो गई है।

कंप्यूटर कोर्स करने के फ़ायदे क्या हैं?

कंप्यूटर कोर्स किया हुआ होने पर विद्यार्थियों को कई फायदे मिलते हैं।

और इस आर्टिकल में हम कंप्यूटर कोर्स करने के फायदे के बारे में ही बात करेंगे।

यहां हम मुख्य तौर पर यही जानेंगे कि कंप्यूटर कोर्स करने के फायदे क्या-क्या हैं? कंप्यूटर कोर्स किया हुआ होने पर विद्यार्थियों को क्या benefits मिलते हैं?

इसके साथ ही हम, कंप्यूटर कोर्स क्या है, और इसके महत्व के बारे में भी बात करेंगे।

Computer course करने के फ़ायदे –

पहले थोड़ा कंप्यूटर कोर्स के बारे में बात करते हैं।

आसन शब्दों में, कंप्यूटर कोर्स, कंप्यूटर सीखने का माध्यम होता है। विद्यार्थी सामान्यत: कंप्यूटर कोर्स 10th, 12th या ग्रेजुएशन के बाद करते हैं।

अलग-अलग computer courses में विद्यार्थियों को कंप्यूटर से संबंधित अलग-अलग चीजें सिखाई जाती है जिससे कि कंप्यूटर कोर्स करने वाले विद्यार्थी को अपने course के अनुसार कंप्यूटर के किसी विशेष काम में निपुणता प्राप्त होती है। 

यानी कि basically, कंप्यूटर में सीखने के लिए बहुत सारी चीजें होती हैं, अपने करियर या रुचि के हिसाब से आप जो भी सीखना चाहते हैं उसका कोर्स कर सकते हैं।

कंप्यूटर कोर्स सामान्यतः 6 महीने,1 वर्ष, 2 वर्ष, 3 वर्ष आदि के भी हो सकते है। यह निर्भर करता है की आप कंप्यूटर में कौन सा कोर्स कर रहे है।

Computer को मुख्य विषय के रूप में लेकर बीटेक आदि करने पर 4 साल भी लग जाते हैं।

आपके द्वारा किये गये कंप्यूटर कोर्स के आधार पर ही आपको job मिलती है। 

तो अलग-अलग कंप्यूटर कोर्स में कंप्यूटर के अलग-अलग कार्यो के बारे में पढ़ाया और सिखाया जाता है।

Computer courses basic से लेकर advance लेवल तक के होते है। इसी के आधार पर इसकी अवधी और फिर fees आदि भी निर्धारित होती है।

कुछ General Computer Courses में आपने  DCA, ADCA, PGDCA, DTP, TALLY आदि, फिर ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर पर BCA, MCA और B.tech का भी नाम सुना होगा।

इसके अलावा भी अन्य कई सारे computer courses उपलब्ध हैं।

Computer courses के निम्नलिखित फायदे हैं –

आप किसी भी क्षेत्र में नौकरी के लिए जाए, यदि आप से कोई कंप्यूटर कोर्स किया हुआ होता है, और आपको कंप्यूटर की अच्छी नॉलेज होती है, तो आपको आसानी से और अच्छी नौकरी मिल जाती है।

कई नौकरियों के लिए तो खास तौर पर कंप्यूटर कोर्स किया हुआ अनिवार्य भी मांगा जाता है।

तो कंप्यूटर कोर्स करने के क्या फायदे हैं जिनमें से कुछ मुख्य निम्नलिखित हैं –

  • आपकी knowledge बढ़ती है।
  • Employment के अवसर मिलते हैं।
  • Business में भी मदद मिलती है।
  • अच्छी salary वाली job मिलती है।
  • सरकारी नौकरी मिलने में help करता है।
  • आदि

आपकी knowledge बढ़ती है-

कंप्यूटर कोर्स करने का सबसे पहला फायदा तो यही है कि आपकी नॉलेज यानी आपका ज्ञान बढ़ता है।

कंप्यूटर में सीखने के लिए बहुत कुछ होता है, और आज के इस तकनीक के समय में हर किसी को कंप्यूटर की जानकारी होनी ही चाहिए।

इसके साथ साथ कंप्यूटर से आप किसी भी चीज के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आप जो भी कंप्यूटर कोर्स करते हैं, उसमें आपको किसी विशेष चीज के बारे में अच्छे से सिखाया जाता है।

इससे आपका नॉलेज और ज्ञान बढ़ता है।

आपके कंप्यूटर से जुड़े ज्ञान में वृद्धि होती है, जो आपको आगे चलकर अच्छी अच्छी जॉब, वेतन और पदोन्नति (promotion) में मदद करता है।

Employment के अवसर मिलते हैं-

सरकारी और private दोनों ही sectors में योग्य उम्मीदवारों को नौकरी पहले मिलती है, और आज के समय में कंप्यूटर की नॉलेज होना एक अनिवार्य योग्यता हो गई है।

आपने जिस भी कंप्यूटर का कोर्स किया होगा, आपको उसी से संबंधित जॉब आसानी से मिल सकती है।

अलग-अलग कंपनियां पढ़े लिखे और कंप्यूटर का कोर्स किए हुए उम्मीदवारों को अच्छी नौकरियां ऑफर करते हैं।

कई उम्मीदवारों को नौकरी सिर्फ इसलिए नहीं मिल पाती है, क्योंकि उनके पास कंप्यूटर की कोई डिग्री नहीं होती है।

इसीलिए कंप्यूटर कोर्स एंप्लॉयमेंट के अवसर पाने में बहुत मदद करता है।

Business में भी मदद मिलती है-

नौकरी के अलावा यदि आप बिजनेस करना चाहते हैं, तो बिजनेस में भी ऐसे बहुत से काम होते हैं, जिनके लिए आप कंप्यूटर का इस्तेमाल करेंगे।

इसलिए कंप्यूटर का कोर्स किया हुआ होने पर आपको बिजनेस में भी मदद मिलती है।

व्यापार में लेन-देन करने, हिसाब किताब करने, आयात निर्यात का रिकॉर्ड रखने, इसके अलावा बिल आदि मैनेज करने जैसे अनगिनत कामों के लिए कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है।

ऐसे में यदि आपने कंप्यूटर का कोई कोर्स किया हुआ होता है, जिसमें आपको इन बेसिक चीजों की जानकारी दी जाती है, तो व्यापार में भी आपको कंप्यूटर कोर्स का लाभ मिलता है।

अच्छी salary वाली job मिलती है-

कंप्यूटर का कोई कोर्स किया हुआ होने से ना सिर्फ आपको एंप्लॉयमेंट के अच्छे अवसर मिलते हैं, बल्कि आपको एंप्लॉयमेंट में अच्छी सैलरी वाली नौकरी भी ऑफर की जाती है।

कंप्यूटर का इस्तेमाल तो हर क्षेत्र में होना ही है, ऐसे में यदि 2 उम्मीदवार है जिनमें से एक को कंप्यूटर की नॉलेज है, और एक को नहीं।

तो जिसे कंप्यूटर की नॉलेज है उसे निश्चित तौर पर ज्यादा अच्छी सैलरी वाली जॉब ऑफर की जाएगी।

यदि आपने एडवांस केबल के अच्छे कंप्यूटर कोर्स कर रखे होते हैं, तो आपको अच्छी कंपनी में अच्छे पद पर अच्छी सैलरी के साथ जॉब मिलती है।

सरकारी नौकरी मिलने में help करता है-

नौकरियों में सिर्फ सरकारी नौकरियों की बात करें तो इसकी तरफ विद्यार्थियों का एक अलग ही झुकाव होता है, जिससे कई कारण है।

वहां से सरकारी नौकरियां ऐसी होती है जिनके लिए कंप्यूटर कोर्स की डिग्री होना अनिवार्य होता है, भाषा सरकारी नौकरियों में कंप्यूटर की योग्यता मांगी जाती है।

इसीलिए सरकारी नौकरी की तैयारी करने वाले विद्यार्थी साथ-साथ कंप्यूटर का कोर्स भी किए हुए होते हैं।

Computer courses government jobs मिलने में भी मदद करते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने कंप्यूटर कोर्स करने के फायदे के बारे में बात की है।

आज के समय के अनुसार कंप्यूटर कोर्स एक अच्छी नौकरी पाने के लिए एक अनिवार्य योग्यता सी हो गई है।

हर विद्यार्थी को कंप्यूटर कोर्स करना चाहिए क्योंकि इसके कई सारे फायदे होते हैं।

यहां हमने कंप्यूटर कोर्स करने के कुछ मुख्य फायदों के बारे में बात की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.