दसवीं के बाद आईटीआई कोर्स कैसे करें? | 10th ke baad ITI course kaise kare

दोस्तों दसवीं के बाद हर विद्यार्थी अपने लिए यह निर्णय लेता है कि उसे आगे किस क्षेत्र में करियर बनाना है, और उसी हिसाब से आगे 11वीं 12वीं की पढ़ाई या फिर दूसरे courses में दाखिला लेता है।

जिन विद्यार्थियों की इच्छा टेक्निकल क्षेत्र में जल्दी एक नौकरी लेने की होती है, उनमें से ज्यादातर दसवीं के बाद ITI के कोर्स का चुनाव करते हैं। 

आज के समय में आईटीआई काफी लोकप्रिय टेक्निकल कोर्स है, इसमें हर साल बड़ी संख्या में विद्यार्थी एडमिशन लेते हैं।

ऐसे नए विद्यार्थी जो दसवीं के बाद आईटीआई की तरफ जाना चाहते हैं, उनके मन में कई बार यह सवाल आता है कि दसवीं के बाद आईटीआई कोर्स कैसे करें? या दसवीं के बाद आईटीआई में दाखिले आदि की प्रक्रिया क्या है?

दसवीं के बाद आईटीआई कोर्स कैसे करें?

आज यहां इस आर्टिकल में हम इसी के बारे में अच्छे से जानेंगे।

जानेंगे दसवीं के बाद विद्यार्थी आईटीआई कोर्स कैसे कर सकते हैं? दसवीं के बाद आईटीआई करने से संबंधित सभी जरूरी बातों को हम यहां जानेंगे।

10th के बाद ITI course कैसे करें?

पहले आईटीआई कोर्स क्या है इस बारे में बात कर लेते हैं। पहले तो ITI का पूरा नाम Industrial Training Institutes है। 

ITI संस्थान government और private होते हैं। ये training organizations होते हैं, जो post-school technical training प्रदान करते हैं।

ताकि उम्मीदवारों को अलग-अलग industry के demand के हिसाब से प्रशिक्षित किया जा सके।

आईटीआई संस्थानों में विद्यार्थियों को अलग-अलग trades की practical training प्रदान किया जाता है।

वहां उन्हें theory के साथ साथ vocational training भी मिलती है।

असल में ITI में अलग-अलग job-orientation के हिसाब से courses होते हैं।

हालांकि इनमें से कुछ ITI courses सबसे लोकप्रिय होते हैं, जिन्हें विद्यार्थी अपने 10th के पढाई के बाद pursue कर सकते हैं।

10th के बाद ITI में admission कैसे लें?

जब बात आती है कि दसवीं के बाद आईटीआई कैसे करें, तो इसका मतलब यह है कि दसवीं के बाद आईटीआई में एडमिशन की प्रक्रिया क्या है या आईटीआई में एडमिशन कैसे ले सकते हैं?

तो यदि दसवीं के बाद आईटीआई में एडमिशन की प्रक्रिया की बात करें तो अलग-अलग राज्यों में दसवीं के बाद आईटीआई में दाखिले की प्रक्रिया थोड़ी अलग अलग हो सकती है।

हालांकि ज्यादातर राज्यों में एडमिशन की प्रक्रिया बहुत हद तक एक समान ही होती है।

ज्यादातर राज्य आईटीआई में दाखिले के लिए एक centralized एडमिशन प्रक्रिया को ही फॉलो करते हैं, जिसमें उम्मीदवारों का चुनाव मेरिट के आधार पर होता है।

जिसका मतलब है कि दसवीं कक्षा में उम्मीदवार ने जितने अच्छे अंक अर्जित किए होंगे उसके लिए आईटीआई में दाखिला लेना उतना ही आसान हो जाता है।

अलग-अलग राज्यों में हर साल आईटीआई पाठ्यक्रम में विद्यार्थियों का दाखिला होता है और यह दाखिले की प्रक्रिया सामान्यतः जून/जुलाई/अगस्त के महीने से शुरू हो जाती है। 

कई राज्यों में आईटीआई में दाखिले के लिए उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, जबकि कुछ राज्यों में आईटीआई में दाखिला ऑफलाइन तरीके से भी होता है।

हालांकि ज्यादातर राज्यों में आईटीआई में एडमिशन के लिए फॉर्म ऑनलाइन ही भरे जाते हैं।

ऑनलाइन के बारे में तो हम जानते ही हैं कि इसमें विद्यार्थी को ऑनलाइन एप्लीकेशन भरना होता है।

आईटीआई के फॉर्म जारी होने की तारीख और इससे संबंधित सारी जानकारी की अधिसूचना जारी कर दी जाती है।

Form भरने की अंतिम तिथि तक से पहले विद्यार्थी ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर वहां उपलब्ध फॉर्म भरकर, आवेदन कर सकते हैं।

विद्यार्थी अपने हिसाब से आईटीआई ट्रेड का चुनाव कर सकते हैं और दाखिले के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

मेरीट बेसिस पर यदि उनके नंबर अच्छे होते हैं तो उन्हें आईटीआई में दाखिला मिल जाता है।

ऑफलाइन मोड की बात करें तो इसमें ऐसा हो सकता है कि उम्मीदवारों को, जिस संस्थान में वे दाखिला चाहते हैं, उसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर वहां से एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करके फिर उसे फिल करके कॉलेज में जाकर सबमिट करना होता है।

पर ज्यादा आजकल ऑनलाइन ही आवेदन किया जाता है।

ऑनलाइन आवेदन कर देने के बाद यदि मेरिट लिस्ट में आपका नाम आ जाता है तब आप उस आईटीआई संस्थान में जाकर अपना डॉक्यूमेंट आदि वेरीफाई करवाएंगे।

और उसके बाद आपका दाखिला वहां हो जाता है।

10वीं के बाद आईटीआई में उपल्ब्ध trade

हमने ऊपर भी कहा, कि जल्दी नौकरी पाने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों के लिए आईटीआई बहुत अच्छा विकल्प हो सकता है।

दसवीं के बाद विद्यार्थी आईटीआई में दाखिला ले सकते हैं, और आईटीआई में उनके पास बहुत से trades में से अपने पसंद का trade चुनने का विकल्प मिलता है।

जैसे कि शायद आपने सुना हो कि आईटीआई में कोई इलेक्ट्रिशियन का कोर्स करता है, तो कोई कारपेंटर का, तो कोई fitter का, आदि।

आईटीआई के अंदर कुल मिलाकर 50 से भी बहुत ज्यादा trades उपलब्ध होते हैं। कुछ सबसे लोकप्रिय trades के नाम में निम्नलिखित नाम आते हैं – 

  • Electrician Engineering
  • Tool & Die Maker Engineering
  • Draughtsman (Mechanical)
  • Diesel Mechanic Engineering
  • Draughtsman (Civil) Engineering
  • Manufacture Footwear
  • Commercial Art
  • Leather Goods Maker
  • Mechanic Motor Vehicle Engineering
  • Information Technology & E.S.M. Engineering
  • Secretarial Practice
  • Machinist Engineering
  • Pump Operator
  • Fitter Engineering
  • Motor Driving-cum-Mechanic Engineering
  • Turner Engineering
  • Dress Making
  • Hair & Skin Care
  • Letterpress Machine Mender
  • Hand Compositor
  • Mechanic Radio & T.V. Engineering
  • Mechanic Electronics Engineering
  • Surveyor Engineering
  • Foundry Man Engineering
  • Sheet Metal Worker Engineering
  • Refrigeration Engineering
  • Fruit & Vegetable Processing
  • Mech. Instrument Engineering
  • Bleaching & Dyeing Calico Print
  • आदि

इनके अलावा भी आईटीआई में और कई सारे trades होते हैं जिनका विद्यार्थी दसवीं के बाद अपने अनुसार चयन कर सकते हैं।

बहुत से कोर्सेज खासतौर पर महिलाओं के लिए भी डिजाइन किए जाते हैं।

दसवीं के बाद छात्राएं उनका चुनाव कर सकती है और अपने लिए रोजगार के अच्छे अवसर तलाश सकती हैं।

Conclusion

ऊपर इस आर्टिकल में हमने दसवीं के बाद आईटीआई कैसे करें? इसके बारे में बात की है।

हमने जाना कि दसवीं के बाद विद्यार्थियों के लिए आईटीआई संस्थान में दाखिले की प्रक्रिया क्या है?

State wise दसवीं के बाद आईटीआई में एडमिशन की प्रक्रिया में अंतर देखने को मिल सकता है।

विद्यार्थी आईटीआई संस्थान से संपर्क करके भी एडमिशन प्रक्रिया की पूरी जानकारी अच्छे से ले सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.