एचआर की सैलरी कितनी होती है? | How much is the salary of an HR 

इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि एक एचआर की सैलरी कितनी होती है? एचआर की सैलरी कितनी है? HR ki salary kitni hoti hai? 

दोस्तों जब हम किसी कंपनी (generally private company) में job की बात करते हैं, तो उसमें बहुत से अलग-अलग posts आते हैं। 

पर हर कंपनी में ही एक पोस्ट common होती है, वह है HR की। 

हर company में एक एचआर का काम बहुत जरूरी होता है, इसलिए आज के समय में बहुत से लोग एचआर की job लेने के लिए भी अपने स्तर से तैयारी करते हैं। 

एचआर एक अच्छी job है, और हर job की तरह इससे रिलेटेड भी एक common सवाल जो कई लोगों के मन में रहता है कि एक एचआर की सैलरी कितनी होती है? या एचआर महीने का कितना कमाते हैं?

एचआर की सैलरी कितनी होती है?

इस आर्टिकल में हम इसी के बारे में विस्तार से बात करेंगे। जानेंगे कि भारत में एक HR की औसतन सैलरी कितनी है? 

इसके साथ ही हम एक एचआर के बारे में, और उनके काम आदि से संबंधित कई जरूरी बातों पर भी चर्चा करेंगे।

एचआर (HR) की salary कितनी है?

एक एचआर का औसतन वेतन 20-30 हज़ार रुपए प्रति महीने तक होता है। वहीं यदि एक एचआर के तौर पर आपका अनुभव ज्यादा होता है और आप किसी बड़ी और अच्छी कंपनी में है चार बनते हैं तो आपकी सैलरी 50-60 हज़ार रुपए तक हो सकती है।  वहीं यदि आप HR VP जैसी पोजिशन पर पहुंच जाते हैं तो आपकी सैलरी 1-1.2 लाख या इससे भी ज्यादा तक जा सकती है। 

अलग-अलग संस्था में HR की सैलरी में अंतर होता है। 

इसलिए आप किस कंपनी में एचआर की जॉब पाते हैं यह भी काफी ज्यादा मायने रखता है कि आपकी सैलरी कितनी होगी। 

जैसे कि यदि आप किसी बड़े मल्टीनेशनल कंपनी में HR की नौकरी पा लेते हैं तो आपकी शुरुआती सैलरी ही काफी अच्छी हो सकती है। 

वहीं यदि कंपनी छोटी होगी या फिर कोई नया startup होगा, तो ऐसा संभव है कि वहां आपकी सैलरी कम हो। 

नई कंपनियों में HR की salary 15 हज़ार या कई बार 10 हज़ार रुपए तक भी हो सकती है। 

पर on average कह सकते हैं कि एक एचआर की सैलरी 20, 25 या 30 हजार रुपए प्रति महीने के लगभग ही रहती है। 

HR में आपकी पोस्ट क्या है, उस हिसाब से आपकी सैलरी रहती है। यहां post से मतलब है कि पहले आप किसी भी कंपनी में HR administrator के तौर पर ज्वाइन होते हैं और तब आपकी सैलरी काफी कम होती है। 

इसके बाद यदि आप HR management में चले जाते हैं तो तब आपकी सैलरी अच्छी खासी हो जाती है, लेकिन इसके लिए आपको अच्छा खासा अनुभव प्राप्त करना होता है।

इसके बाद भी आगे आप HR निदेशक के लिए अपना लक्ष्य बना सकते हैं और वहां पर आपकी सैलरी और भी ज्यादा अच्छी होती है। 

एक HR का काम क्या होता है?

एचआर की सैलरी के बारे में जानने के साथ-साथ हमें एक HR के काम के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए कि एक HR काम क्या करता है और उसे किस काम की सैलरी दी जाती है। 

तो, एक HR का काम किसी भी कम्पनी में employees और worker के मैनेजमेंट, recruitment process का काम और बाकी सारे Requirements को देखने का होता है। 

यानी कि प्राइवेट कंपनियों में जब लोगों को hier किया जाता है, तो ये काम एचआर ही करते हैं। 

कई बार HR की जगह HRM का भी उपयोग किया जाता है। HR का पुरा नाम Human Resource होता है। 

HRM का पुरा नाम Human resource management होता है। 

एक HR का मुख्य उद्देश्य कम्पनी को उच्च मार्ग में लाना और  बदले में काम के हिसाब से वर्कर या कर्मचारी को टाइम से वेतन देना होता है। 

इसीलिए बिना HR के कोई कंपनी चल नहीं सकती है। 

इन्हें भी पढ़ें

HR की सैलरी को प्रभावित करने वाले factors –

जैसा कि हमने जाना, एक एचआर की वास्तविक सैलरी कितनी होगी यह निर्भर करता है कि वह किस कंपनी में काम कर रहे हैं एवं वहां पर उनके पास काम का अनुभव क्या है आदि। 

तो अब हम एक HR की सैलरी को प्रभावित करने वाले सभी factors के बारे में भी बात कर लेते हैं। 

एक HR की salary निम्नलिखित factors पर निर्भर करती है –

  • कंपनी कितनी बड़ी है
  • आपकी maturity और experience 
  • कंपनी में आपका अनुभव 
  • आदि

कंपनी कितनी बड़ी है

इसका सीधा सा मतलब यही है कि आप जितनी बड़ी कंपनी में काम करेंगे आपकी सैलरी उतनी ही ज्यादा होगी और कंपनी यदि नई और छोटी होगी तो जाहिर है शुरुआत में वे आपको कम ही सैलरी offer कर पाएंगे। 

किसी बड़े multinational company में HR के रूप में तो शुरुआती सैलरी भी काफी बेहतरीन रहती है। 

तो अगर आपको अच्छी खासी सैलरी चाहिए तो जरूरी है कि आपके पास अच्छी योग्यता हो और आप अच्छे companies में HR के job के लिए अप्लाई करें। 

आपकी maturity और experience 

यानी कि आप की शैक्षणिक योग्यता कितनी है और क्या आपको इस क्षेत्र में कुछ अनुभव है आदि। 

जब एक HR बनने की बात होती है तो आप इसके लिए डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं या फिर एमबीए आदि के बाद भी एचआर बनते हैं। 

तो ऐसे में जाहिर है कि जो उम्मीदवार ज्यादा शैक्षणिक योग्यता रखता होगा उसे preference दी जाएगी, और उसकी सैलरी भी अच्छी होगी।

कंपनी में आपका अनुभव 

इस बारे में हमने ऊपर भी कहा, कि पहले आप एचआर एडमिनिस्ट्रेटर बनते हैं फिर एचआर मैनेजर और फिर आगे चलकर एचआर निदेशक तक बन सकते हैं। 

किसी भी कंपनी में एक एचआर के तौर पर काम करते हुए जैसे जैसे आपका अनुभव बढ़ता है, आपकी salary भी उसी हिसाब से बढ़ती है। 

किसी भी कंपनी में अच्छा-खासा अनुभव हो जाने के बाद एक एचआर के तौर पर आपकी सैलरी भी अच्छी खासी हो जाती है। 

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने बात की है कि एक एचआर की सैलरी कितनी होती है?

यहां हमने एचआर की औसतन सैलरी और इससे संबंधित दूसरी कुछ जरूरी बातों पर भी चर्चा की है। 

उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपके लिए इनफॉर्मेटिक रहा होगा। 

इससे संबंधित कोई प्रश्न आदि हो तो आप हमें नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *