BA के बाद मेडिकल कोर्स कौन-से हैं? | BA ke baad medical course kaun se hai

दोस्तों मेडिकल लाइन आज के समय में, करियर के मामले में सबसे ज्यादा चुने जाने वाले क्षेत्र में से है।

Medical line में विद्यार्थी एक अच्छा करियर बना सकते हैं।

पर जब हम मेडिकल लाइन की बात करते हैं तो ज्यादातर विद्यार्थियों को यही लगता है कि इसमें जाने के लिए दसवीं के बाद साइंस स्ट्रीम, और उसमें भी PCB यानी कि physics, chemistry और biology होना जरूरी है, और यह बात सही भी है। 

बहुत से विद्यार्थी आर्ट्स स्ट्रीम से 12वीं के बाद b.a कर लेते हैं और उसके बाद वह मेडिकल लाइन में जाना चाहते हैं।

ऐसे में अक्सर उनके मन में यह सवाल आता है कि वे बीए के बाद मेडिकल कोर्स कर सकते हैं या नहीं? और यदि कर सकते हैं तो कौन-सा ?

बीए के बाद मेडिकल कोर्स कौन-से हैं?

इस आर्टिकल में हम बीए (BA) के बाद मेडिकल कोर्स की बात करेंगे।

जानेंगे कि क्या बीए के बाद विद्यार्थी मेडिकल लाइन में जा सकते हैं? यदि हां तो उनके पास कौन से मेडिकल कोर्स करने का विकल्प होता है?

BA के बाद Medical Course

BA करने के बाद Medical कोर्स करने के लिए आपको BA, साइकोलॉजी से करना होगा। BA के बाद MA करके आप साइकोलॉजिस्ट बन सकते है और मेडिकल के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं।

सीधे-सीधे कहे तो बीए के बाद मेडिकल कोर्सेज के विकल्प नहीं ही है।

यदि आपने दसवीं के बाद आर्ट्स स्ट्रीम चुना होगा, और फिर 12वीं के बाद b.a. किया है, और फिर यदि आप चाहते हैं कि बीए के बाद किसी मेडिकल कोर्स का चुनाव करें, तो आप ऐसा नहीं कर सकते हैं क्योंकि मेडिकल कोर्सेज के लिए साइंस बैकग्राउंड से होना जरूरी हो जाता है।

हां, लेकिन यदि ऐसा है कि 12वीं तक आपने साइंस स्ट्रीम से पढ़ाई की हो और फिर 12वीं के बाद ग्रेजुएशन में आर्ट्स स्ट्रीम चुन लिया हो।

और फिर यदि आपको अपनी बैचलर ऑफ आर्ट्स की degree पूरी होने के बाद मेडिकल कोर्स की तरफ जाने का मन करें, तो आप medical courses की तरफ जा सकते हैं पर आपको अपनी बीए की डिग्री का कोई भी लाभ नहीं मिलेगा। 

आप जो मेडिकल कोर्स में एडमिशन लेंगे उसमें आप की शैक्षणिक योग्यता 12वीं पास की ही मानी जाएगी क्योंकि आपने 12वीं तक साइंस पढ़ा होगा।

और उसी basis पर आपको एक साइंस बैकग्राउंड का विद्यार्थी मानते हुए आपका मेडिकल कोर्स में दाखिला हो जाएगा।

हालांकि ANM जिसका पूरा नाम auxiliary nurse midwifery nursing के अंतर्गत एक ऐसा कोर्स है जिसमें आर्ट्स स्ट्रीम से 12वीं पास विद्यार्थी भी आवेदन कर सकते हैं।

कुछ कॉलेज आर्ट्स के विद्यार्थियों को एएनएम कोर्स में दाखिला देते हैं।

पर यहां भी इसका लाभ नहीं है, क्योंकि इसमें भी उम्मीदवार को 12th बेसिस पर ही एडमिशन लेना होता है। उसकी बीए की डिग्री का कोई लाभ नहीं होता।

मतलब कि जैसे बीए के बाद आप ग्रेजुएट हो जाते हैं, तो ऐसा नहीं है कि आप ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन लेवल पर कोई मेडिकल कोर्स चुन पाएंगे।

तो दोस्तों कुल मिलाकर बात यही है कि मेडिकल लाइन में जाने के लिए सबसे पहले तो दसवीं के बाद साइंस स्ट्रीम और उसमें भी फिजिक्स केमिस्ट्री और बायलॉजी सब्जेक्ट का होना जरूरी होता है। 

BA के बाद यदि आप मेडिकल उसकी तरफ जाना चाहते हैं तो तभी जा सकते हैं जब आपका 12th तक साइंस स्ट्रीम रहा हो।

और मेडिकल कोर्स में आपका एडमिशन 12th basis पर ही होता है।

BA के बाद किन मेडिकल कोर्स की तरफ जाना चाहिए?

हमने ऊपर जान ही लिया कि बीए के बाद मेडिकल लाइन में नहीं जाया जा सकता है, पर ऐसे ही उम्मीदवार जो 12वीं तक साइंस स्ट्रीम के विद्यार्थी रहे हो, वे 12th basis पर मेडिकल कोर्स की तरफ जा सकते हैं लेकिन उन्हें बीए की डिग्री का लाभ नहीं मिलता।

अब यदि थोड़ा सा बात करे कि ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने 12वीं तक साइंस से पढ़ाई की, फिर आर्ट्स स्ट्रीम से b.a. किया, और यदि अब वह मेडिकल लाइन में जाने की इच्छा रखते हैं तो उनके लिए 12वीं के आधार पर किन मेडिकल courses की तरफ जाना सही रहता है?

तो जिन विद्यार्थियों की शुरू से ही मेडिकल लाइन में करियर बनाने की इच्छा होती है। वह तो दसवीं के बाद साइंस और उसमें भी बायोलॉजी फिर 12वीं के बाद अपनी इच्छा के अनुसार मेडिकल कोर्स जैसे कि सबसे लोकप्रिय एमबीबीएस फिर बीडीएस आदि, या इसके अलावा बीएससी नर्सिंग, जीएनएम, एएनएम जैसे कोर्स का चुनाव करते हैं।

जो विद्यार्थी बीए के बाद दोबारा से 12वीं के आधार पर मेडिकल कोर्स की तरफ जाना चाहते हैं उनके लिए nursing courses का विकल्प सही हो सकता है।

क्योंकि नर्सिंग के क्षेत्र में आज के समय में नौकरी के काफी अच्छे अवसर हैं, और यह कोर्स कम समय के भी होते हैं जिसके कारण विद्यार्थी यदि बीए के बाद नर्सिंग courses को चुनते हैं तो उन्हें मेडिकल लाइन में रोजगार के अवसर जल्दी मिलते हैं।

12वीं के बाद Nursing Courses

खास तौर पर आज के समय में तो, जहां कोरोना महामारी जैसी समस्या के कारण अस्पतालों में डॉक्टरों और स्टाफ की जरूरत काफी ज्यादा बढ़ी है, nursing course काफी ज्यादा फायदेमंद होता है।

इसमें उम्मीदवारों को नर्स के कामों की ट्रेनिंग दी जाती है जिसमें मरीजों की देखभाल और डॉक्टर की सहायता जैसे काम आते हैं।

बीए के बाद मेडिकल कोर्स चुनने के विकल्प में उम्मीदवार को 12th basis पर एडमिशन लेना होता है जिसके लिए उनका 12वीं तक साइंस स्ट्रीम से होना जरूरी है।

12वीं के बाद नर्सिंग कोर्सेज के विकल्प में – 

1. GNM

12वीं के बाद नर्सिंग कोर्स में जीएनएम जिसका पूरा नाम general nursing and midwifery है, सबसे ज्यादा चुने जाने वाले नर्सिंग कोर्स में से है।

इस कोर्स में उम्मीदवारों को पहले स्तर के नर्सिंग ऑपरेशन एक्सपर्ट्स के तौर पर काम करने का प्रशिक्षण दिया जाता है।

इस नर्सिंग कोर्स का चुनाव करने के लिए 12वीं तक साइंस स्ट्रीम यानी फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी होना जरूरी है।

तो ऐसे BA pass students जिनका 12वीं तक यह बैकग्राउंड रहा हो, वे बीए के बाद दोबारा 12वीं के आधार पर इसमें दाखिला ले सकते हैं।

2. ANM

हमने ऊपर भी बात की, कि कई बार ऐसा भी होता है कि arts stream के विद्यार्थियों को भी एएनएम नर्सिंग कोर्स में दाखिला मिल जाता है।

ए एन एम का पूरा नाम auxiliary nursing midwifery होता है।

इस कोर्स में भी नर्स के काम का ही प्रशिक्षण दिया जाता है। BA पूरा कर लेने के बाद मेडिकल लाइन में जाने की सोचने वाले विद्यार्थियों के लिए यह कोर्स भी सही रह सकता है पर बात वही है कि इसमें भी आप दाखिला आपको 12th basis पर ही मिलता है, आपकी बीए की डिग्री का कोई फायदा नहीं होता।

3. B.Sc Nursing

Bsc nursing को तो आप 12वीं के बाद नर्सिंग के लिए मेडिकल लाइन में सबसे लोकप्रिय course कह सकते हैं।

डॉक्टरों के साथ साथ highly qualified nurses की भी और दूसरे चिकित्सा संस्थानों में उतनी ही मांग रहती है।

और बीएससी नर्सिंग के बाद आप आसानी से किसी अच्छे संस्थान में एक अच्छी नौकरी ले सकते हैं।

इसमें दाखिले के लिए भी 12वीं तक science stream (PCB) का होना जरूरी है।

इसीलिए BA के बाद वही विद्यार्थी इसमें दाखिला ले सकते हैं जिनका 12वीं तक यह विषय रहा हो।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने बीए (BA) के बाद मेडिकल कोर्स की बात की है।

बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल रहता है कि क्या वे बीए के बाद मेडिकल कोर्स की तरफ जा सकते हैं?

तो BA के बाद medical courses की तरफ जाया जा सकता है, पर सिर्फ तभी जब आपका बारहवीं तक साइंस बैकग्राउंड रहा हो।

Leave a Comment

Your email address will not be published.