पुलिस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है? | Police banne ke liye kaun sa subject Lena padta hai

दोस्तों वर्तमान में नौकरी की तलाश में तो हर युवा ही है, और इसमें सरकारी नौकरियां जादातर विद्यार्थियों की पहली पसंद होती है।

केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा समय समय पर अलग-अलग विभागों में नौकरियां निकाली जाती हैं, इसी में बहुत से युवा पुलिस की नौकरी के लिए भी तैयारी करते हैं या तैयारी करना चाहते हैं। 

पुलिस विभाग में अलग-अलग पदों पर नौकरियां उपलब्ध हैं और यह नौकरी एक अच्छी नौकरी भी है।

इसीलिए बहुत विद्यार्थी चाहते हैं कि उन्हें पुलिस की नौकरी मिल जाए।

पर बहुत से विद्यार्थियों के मन में एक प्रश्न रहता है कि पुलिस बनने के लिए कौन-सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है? या पुलिस की नौकरी के लिए किस विषय से पढ़ाई करनी होता है?

यहां इस लेख में हम इसी के बारे में बात करेंगे, जानेंगे कि पुलिस बनने के लिए कौन-सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

पुलिस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

जो विद्यार्थी पुलिस की नौकरी चाहते हैं, उन्हें कौन-सा विषय लेकर पढ़ना होता है?

पुलिस की नौकरी के लिए जरुरी सब्जेक्ट के साथ-साथ इस से संबंधित दूसरे कुछ जरुरी बात पर भी हम चर्चा करेंगे।

Police बनने के लिए कौन-सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

सबसे पहले यदि इसी की बात करें कि पुलिस बनने के लिए कौन-सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है, तो इसका जवाब होगा कि आप कोई भी सब्जेक्ट लेकर पुलिस कि नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

चाहे आप साइंस स्ट्रीम के छात्र हों, या कॉमर्स स्ट्रीम के या फिर आर्ट्स, आप police बन सकते हैं।

असल में पुलिस बनने के लिए आपको इसकी अलग से ली जाने वाली competitive exams पास करना जरूरी होता है।

पुलिस विभाग राज्य के state departments के अंतर्गत आता है, और अलग अलग राज्यो में समय-समय पर पुलिस विभाग में भर्ती के लिए उम्मीदवारों से आवेदन मांगे जाते हैं।

अलग-अलग पदों के लिए अलग-अलग योग्यताएं निर्धारित होती हैं।

इच्छुक उम्मीदवार को पहले फॉर्म भर कर आवेदन करना होता है, और फिर इसके लिए आयोजित की जाने वाली लिखित परीक्षा पास करनी होती है। 

इसके लिए जरूरी योग्यता में, उम्मीदवार ने किस विषय या सब्जेक्ट को लेकर पढ़ाई की है, यह बात सामान्यतः मायने नहीं रखती।

यानी कि किसी भी सब्जेक्ट को लेकर पढ़ने वाला पुलिस की नौकरी के लिए आवेदन कर सकता है। 

पुलिस की नौकरी रेलवे और एसएससी आदि की कॉम्पिटेटिव परीक्षाओं जैसी होती हैं, किसी भी स्ट्रीम (साइंस,कॉमर्स,आर्ट्स) का विद्यार्थी इसकी परीक्षा में बैठ सकता है और पास होने के बाद दूसरी जरूरी निर्धारित प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद नौकरी प्राप्त कर सकता है।

पुलिस बनने के लिए 11वीं में कौन-सा सब्जेक्ट लें?

बहुत से विद्यार्थियों के मन में यह सवाल भी रहता है कि पुलिस बनने के लिए 11वीं में कौन सा सब्जेक्ट लें? तो इसका जवाब भी वही होगा, जैसा कि हमें ऊपर कहा कि पुलिस बनाने के लिए दसवीं के बाद कक्षा ग्यारहवीं में विद्यार्थी साइंस, कॉमर्स या फिर आर्ट्स स्ट्रीम में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं।

11वीं और 12वीं में तो विद्यार्थियों को इन streams के अंतर्गत आने वाले कई विषयों की पढ़ाई करनी होती है।

विद्यार्थी के जिस भी विषय में रुचि हो, फिर चाहे वह arts stream का हो या फिर कॉमर्स का या साइंस का, विद्यार्थी उस विषय की पढ़ाई कर सकते हैं। 

पुलिस में कांस्टेबल आदि जैसे कुछ निचले पदों पर भर्ती के लिए 10वीं पास की योग्यता मांगी जाती है, और इससे थोड़े उच्च स्तर के पदों पर आवेदन करने के लिए सामान्यतः 12 वीं पास की योग्यता मांगी जाती है।

उम्मीदवार का किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से किसी भी विषय के साथ बारहवीं उत्तीर्ण होना जरूरी है।

उसके बाद वे पुलिस विभाग में कई पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं, और परीक्षा पास करके पुलिस की नौकरी ले सकते हैं।

यदि विद्यार्थी 12वीं के बाद ग्रेजुएशन करना चाहते हैं, तो ग्रेजुएशन में भी वे किसी भी विषय को लेकर अपना ग्रेजुएशन पूरा कर सकते हैं।

पुलिस विभाग में कुछ पदों पर आवेदन के लिए ग्रेजुएशन की योग्यता भी मांगी जाती है, लेकिन सब्जेक्ट वहां भी मायने नहीं रखता है।

हालांकि यदि ऐसा है कि किसी विद्यार्थी का लक्ष्य शुरुआत से ही पुलिस की नौकरी लेने का है, तो 11वीं में arts stream के subjects का चुनाव करना उसके लिए ज्यादा फायदेमंद हो सकता है।

क्योंकि arts stream के विषय कई विद्यार्थियों के लिए कॉमर्स और साइंस के subjects की तुलना में आसान हो सकते हैं।

जिसका फायदा यह होता है कि विद्यार्थी को पुलिस या कॉन्स्टेबल की लिखित परीक्षा की तैयारी करने के लिए ज्यादा वक्त मिल जाता है।

विद्यार्थी competitive exams की तैयारी में ज्यादा ध्यान दे पाएंगे जिससे वे लिखित परीक्षा पास करके जल्दी पुलिस की नौकरी ले सकते हैं।

पुलिस बनने के लिए सब्जेक्ट को छोड़कर क्या योग्यताएं चाहिए?

अन्य योग्यताओं में सबसे पहले आयु सीमा की बात करें तो यह हर राज्य में अलग-अलग पुलिस सेवाओं/पदों के हिसाब से निर्धारित की जाती है।

हालांकि औसतन, अधिकांश 18 से 27 वर्ष के उम्मीदवार ही फॉर्म भरने के योग्य होते हैं। 

और अगर आरक्षण वर्ग की बात करें तो उसमें मानदंडों के अनुसार 3 से 7 साल की छूट मिलती है। 

पुलिस में किसी भी पद की नौकरी लेने के लिए सबसे पहले तो फॉर्म भरना होता है, फॉर्म भरने के बाद लिखित परीक्षा होती है, और यह भी अलग-अलग states के हिसाब से ली जाती है।

सामान्यतः सभी राज्य लिखित परीक्षा लेने के बाद physical test लेते हैं।

कई राज्य ऐसे भी हैं जो इंटर हाई स्कूल की मेरिट के हिसाब से selection list बनाते हैं, इस लिस्ट में शामिल होने वाले उम्मीदवारों का फिजिकल टेस्ट लिया जाता है।

इसीलिए कई बार पुलिस में भर्ती merit के आधार पर भी हो जाती है, या इसके अलावा generally आप उन राज्य में पुलिस भर्ती का फॉर्म भरते हैं जहां लिखित परीक्षा से पुलिस में भर्ती होती है।

पुलिस भर्ती में कोई बहुत ज्यादा कठिन सवाल भी नहीं पूछे जाते हैं, आपसे 10वीं और 12वीं स्तर के सवाल ही पूछे जाते हैं।

कुछ समय अच्छे से तैयारी करने पर आप यह परीक्षा पास कर सकते हैं। 

सामान्यतः विद्यार्थियों कोअसली मुश्किल physical test में आती है। इसमें उम्मीदवारों का आंखों के ठीक होने से लेकर चौड़ी छाती आदि सब कुछ टेस्ट किया जाता है।

कई उम्मीदवार चौड़ी छाती वाली कैटेगरी में फेल हो जाते हैं। इसके अलावा फिजिकल टेस्ट के लिए आपको हर रोज दौड़ लगाने के बाद push ups आदि भी करनी चाहिए।

इसके अलावा पुलिस भर्ती में एक सबसे बड़ी समस्यायों में से एक होती है, दौड़ पास करना।

दूसरे टेस्ट के साथ-साथ पुलिस में भर्ती के लिए उम्मीदवार को नियमित रूप से दौड़ने का अभ्यास भी करना चाहिए।

Physical test में उम्मीदवारों की दौड़ की भरपूर जांच की जाती है, और बहुत से उम्मीदवार दौड़ में भी छंट जाते हैं।

कुल मिलाकर पुलिस में भर्ती के लिए योग्यताओं में-

  • उम्मीदवारों को 12 वीं पास होना चाहिए 
  • उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए 
  • उनका किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं पास करना जरूरी है।
  • आवेदक की आयु सामान्यतः 18 से 22 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • इसके अलावा, physical requirements में उम्मीदवार  की ऊंचाई 167 सेमी. होनी चाहिए, उनका 81 सेंटीमीटर का सीना भी होना चाहिए जिसे अधिकतम 5 सेंटीमीटर तक फुलाया जा सके।

पुलिस में भर्ती होने के लिए कितने परसेंट चाहिए ?

पुलिस में भर्ती होने के लिए सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों को सामान्यतः 60% से ज्यादा, OBC को भी लगभग इतने ही, और SC/ST वर्ग के विद्यार्थियों को 40-45% से ज्यादा लाने होते हैं। 

असल में पुलिस में भर्ती होने के लिए आपके 12वीं के या graduation के प्रतिशत मायने नहीं रखते हैं। 

जब पुलिस की भर्ती निकलती है तब आपको उसके लिखित परीक्षा देनी होती है और उसमें आप कितने प्रतिशत अंक लाते हैं, उस पर निर्भर करता है कि आप select होंगे या नहीं। 

अब पुलिस की अलग-अलग भर्तियों के लिए अलग-अलग परीक्षाएं आयोजित होती हैं। 

भर्ती होने के लिए आपको अपने वर्ग (category) के हिसाब से कटऑफ से ज्यादा अंक लाने होते हैं। और cut off हर परीक्षा के लिए हर साल अलग-अलग हो सकता है। 

उदाहरण के लिए, कुछ समय पहले यूपी पुलिस में भर्ती निकली थी और उसमें cut off 300 अंको में से सामान्य वर्ग को 185, पिछड़ा वर्ग को 172, अनुसूचित जाति को 145 और अनुसूचित जनजाति को 114 अंक था। 

तो आप जब भी पुलिस भर्ती की किसी परीक्षा में बैठेंगे, तो उसका cut off कितना चाहता है आपको उसका ध्यान रखना होगा और कटऑफ से ज्यादा अंक लाने होंगे। 

परीक्षा के परिणाम घोषित होने से पहले कटऑफ अंक जारी कर दिए जाते हैं।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने बात की है कि पुलिस बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

वर्तमान में बहुत से विद्यार्थी पुलिस विभाग में नौकरी की इच्छा रखते हैं, और पुलिस की नौकरी लेना चाहते हैं।

ऐसे में उनके मन में यह सवाल रहता है कि पुलिस में भर्ती के लिए कौन सा विषय लेना होता है, और हमने इस लेख में इसी के बारे में चर्चा की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *