रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है? | Railway mein sabse jyada salary kiski hoti hai

दोस्तों इस आर्टिकल में हम बात करेंगे कि रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है? भारतीय रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किस पद पर दी जाती है?

सरकारी नौकरियों के मामले में भारतीय रेलवे का नाम हमेशा से ही सबसे पहले नामों में आता है।

बहुत बड़ी संख्या में युवा रेलवे की सरकारी नौकरी लेने की तैयारी करते हैं।

रेलवे के अंतर्गत अलग-अलग विभागों में अलग-अलग posts होती हैं।

इसमें higher और lower सभी posts आ जाती हैं। जाहिर है, अलग-अलग posts की सैलरी में अंतर होता ही है।

अब इसी सैलरी से संबंधित एक सवाल बहुत से विद्यार्थियों के मन में आता है कि आखिर रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है? या Indian Railways में सबसे ज्यादा सैलरी किसे मिलती है?

रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

इस लेख में हम मुख्य तौर पर इसी की बात करेंगे कि रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

Railway में सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी कौन सी होती है?

इसके साथ ही यहां हम रेलवे के दूसरे कुछ सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरियों के बारे में भी बात करेंगे।

रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

Railway में senior section engineer का पद सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले posts में से एक होता है।

रेलवे में सेक्शन इंजीनियर के पद पर कुछ वर्ष का अनुभव हो जाने के बाद सैलरी आसानी से 9-10 लाख रुपए प्रति वर्ष तक हो सकती है।

पर असल में रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है, यह समझने के लिए सबसे पहले रेलवे के कर्मचारियों के विभाजन को समझना जरूरी है।

भारतीय रेलवे में कर्मचारियों को चार भागों में बांटा जाता है।

इसमें railway group A, railway Group B, railway Group C और railway group D के कर्मचारी आते हैं।

यानी कि रेलवे के अंतर्गत इन 4 groups में नियुक्ति की जाती है। 

इसमें से group A और group B में जो पद होते हैं, उन्हें gazetted officers का पद कहा जाता है।

इन्हें हिंदी में राजपत्रित अधिकारी कहते हैं। इसमें से ग्रुप ए के पद रेलवे के सबसे ऊंचे पदों में आते हैं।

Railway group A के पदों पर उम्मीदवारों की नियुक्ति UPSC (union public service commission) द्वारा आयोजित परीक्षाओं को पास करने पर होती है। 

आप CESE या CSE की परीक्षा पास करके रेलवे में ग्रुप A के posts पर नियुक्ती पा सकते हैं।

और चूंकि ये रेलवे की सबसे उच्च अधिकारी होते हैं इसलिए इनकी सैलरी सबसे ज्यादा रहती है।

Group A के बाद Group B के posts आते हैं। ये भी gazetted officers ही होते हैं, हालांकि इनकी नियुक्ति ग्रुप सी से प्रमोशन पाकर होती है। 

इनकी सैलरी भी बेहतरीन होती है। इसके बाद non gazetted posts में  railway Group C और group D की नौकरियां आ जाती है।

इन पदों की सैलरी A और B की तुलना में कम ही होती है, हालांकि फिर भी रेलवे इन groups के अंतर्गत आने वाले पदों पर काम करने वाले कर्मचारियों को अच्छी खासी सैलरी देता है।

रेलवे में Group A के posts पर salary सबसे ज्यादा होती है –

Railway group A officers को शुरुआती सैलरी ही औसतन 80 से 90 हज़ार रुपए दी जाती है।

आगे चलकर यह लगभग 1,40,000 या इससे भी ज्यादा तक जा सकती है।

इसके अलावा इन पदों पर नियुक्त officers को अन्य कई सुविधाएं जैसे HRA, medical, transport आदि भी मिलती है।

Combined Engineering services examination और civil services examination के द्वारा इन पदों पर नियुक्ति होती है।

रेलवे में Group A में निम्नलिखित सेवाओं में नियुक्ति दी जाती है –

  • Railway protection force
  • Indian railway stores service
  • Indian railway accounts service
  • Indian railway traffic service
  • Indian railway accounts service
  • Indian railway personnel service
  • Railway service of signal engineers
  • Indian railway service of mechanical engineers
  • Indian railway service of Electrical engineers

Railway group B के posts की सैलरी –

Railway group B के posts भी gazetted posts ही होती हैं।

लेकिन इसमें appointments, group C से promotion से होते हैं।

मतलब कि ग्रुप C की पोस्ट पर कार्य कर रहे योग्य कर्मचारियों को ग्रुप B में प्रमोट किया जाता है।

ये नियुक्तियां सिर्फ रेलवे द्वारा विभागीय स्तर पर की जाती हैं, इसलिए इस ग्रुप की भर्ती के लिए शैक्षणिक योग्यता भी रेलवे उस पद के अनुरूप निर्धारित करता है जिसमे उम्मीदवारों से आवेदन मांगे जा रहे हैं।

Railway group B के posts की सैलरी की बात करें तो यह औसतन 60,000 से लेकर 80-85 हजार रूपए मासिक तक रह सकती है।

समय के साथ इसमें भी सैलरी में बढ़ोतरी होती है।

Railway में non gazetted posts की सैलेरी –

इसमें railway Group C और railway group D के posts आ जाते हैं।

जैसे क्लर्क, टिकट कलेक्टर, असिस्टेंट स्टेशन मास्टर, कमर्शियल apprentice, ट्रैफिक apprentice, असिस्टेंट लोको पॉयलट, Goods guard, स्टेनोग्राफर, कैटरिंग मैंनेजर ।

Group D में Trackman, Assistant pointsman, Gunman, Cabinman, Helper, Peon आदि आते हैं। 

Group C के posts पर average salary, शुरुआती 24-25 हजार रुपए प्रति माह से लेकर आगे 50-55 हज़ार रुपए प्रति माह तक चली जाती है।

शुरुआत में सैलरी कम रहती है। पर जैसे-जैसे उस पद पर उम्मीदवार का अनुभव बढ़ाता है, सैलरी में भी बढ़ोतरी होती है।

Group D के posts पर औसतन सैलरी 18,000 रुपए प्रति माह तक रहती है।

शुरुआत में salary कम ही रहती है, और इसमें भी समय के साथ सैलरी बढ़ती है। आगे चलकर यह 35-40 हज़ार या इससे भी ज्यादा तक जा सकती है।

Railway के कुछ सबसे ज्यादा salary वाले jobs –

  • Senior Section Engineer – average salary 9,20,000/yr
  • Junior Engineer  – average salary 6,00,000/yr
  • Technician   –  average salary 3,30,000/yr
  • Office Superintendent  – average salary  8,20,000/yr
  • Loco Pilot   – average salary  7,00,000/yr
  • Medical Officer  –  average salary 9,50,000/yr
  • Station Master  –  average salary 5,70,000/yr
  • Junior Engineer Civil  –  average salary 5,90,000/yr
  • Mechanical Engineer   –  average salary 5,40,000/yr
  • Goods guard  –  average salary  5,00,000/yr

इसी तरह भारतीय रेलवे के अन्य कुछ general posts पर भी इसी के आसपास की सैलरी दी जाती है।

Conclusion

ऊपर दिए गए इस आर्टिकल में हमने बात की है कि रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

अक्सर विद्यार्थियों के मन में यह सवाल आता ही है कि रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाली जॉब कौन सी है?

रेलवे में ग्रुप ए, ग्रुप बी, ग्रुप सी और ग्रुप डी में कर्मचारियों का विभाजन किया जाता है।

Posts के अनुसार ही उन्हें सैलरी दी जाती है।

यहां हमने सभी groups की average salary के बारे में बात की है।

साथ ही हमने रेलवे के कुछ सबसे कॉमन अच्छी/ज्यादा सैलरी वाली posts के बारे में भी जाना है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.